January 5, 2020

भक्ति एवं आस्था का जन सैलाव उमड़ा आगरा की सड़कों पर

सि‍खों से जुडी संस्‍कति‍क परंपराओं से भी ताजनगरी हुई 'रू व रू'
नगर कीर्तन शोभा यात्रा में वि‍धायक योगेन्‍द्र उपाध्‍याय महंत योगेशपुरी ,
बंटी ग्रोवर आदि‍। फोटो असलम सलीमी
आगरा : श्री गुरु गोविंद साहिब  के प्रकाश पर्व पर नगर कीर्तन नि‍काला गया। मन्‍कामेश्‍वर मन्‍दि‍र के महंत  योगेश पुरी,हर मिलाप  गीता मंदिर  के  जगदीश बत्रा  , भारतीय मुस्लिम परिषद,उत्तर प्रदेश सर्व दलीय मुस्लिम एक्शन कमेटी,खिदमत उल अवाम वेलफेयर सोसायटी, अमन कमेटी तकिया वजीर खान एवं आल इंडिया मुस्लिम इतिहाद कमेटी आदि‍ ने आयोजन के साथ एकजुटता व्‍यक्‍त कर सदभावना और गुरुओं की शि‍क्षाओं के उच्‍चादर्शों के प्रति समाज के सभी वर्गों का ध्‍यान आकर्षि‍त करने का प्रयास कि‍या। सर्वश्री इरफान सलीम,समी अघाई,रफ्ता उल्लाह,नासिर अली,जीशान शामशी एवं रियासत अली की नगर कीर्तन के भ्रमण कार्यक्रम में
सक्रि‍य भागीदारी रही।गुरुद्वारा माई थान से शुरू होकर संत बाबा केहर सिंह बालूगंज पहुंचा जहा प्रधान मनमोहन सिंह,राजिंदर सिंह मिट्ठू,अमरजीत सिंह सेठी एवं डॉ तेजिंदर जीत सिंह ने सहयोगियों का भव्य स्वागत किया गया ।
रंपरागत शस्‍त्र कला का कि‍या प्रदर्शन। फोटो:असलम सलीमी
नगर कीर्तन का आरम्भ संत बाबा प्रीतम सिंह ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब के आगे अरदास करके के कि‍या। विधायक योगेन्द्र उपाध्याय एवं उनकी पत्नी प्रीति उपाध्याय,छावनी बोर्ड के उपाध्यक्ष डॉ  पंकज महेंद्रू एवं डॉ रेनू महेंद्रू ने परंपरा अनुसार उसे  भव्य सजी हुई पालकी में पहुंचाया।
नगर कीर्तन का नेतृत्‍व जीप में सवार होकर चल रहे हरमिंदर सिंह पाली ने कि‍या। जुलूस में 23 घोड़ों और सैकड़ों की संख्या में दोपहिया वाहनों पर चल रहे सैकडों नौजवान शामि‍ल थे। गुरुद्वारा काछी पूरा का शब्दी जत्था ,गुरुद्वारा मिट्ठाखूं का भाई हरजोत सिंह की अगुवाई में सुखमनी सेवा का वीर महेंद्र पाल सिंह ,गुरमीत सेठी,हरदीप डग, शन्‍ती आनद की अगुवाई में चल रहे कीर्तन जत्‍थे ने  श्रद्धालुओं को भक्‍ति‍ वि‍भोर कि‍या।
गुरुद्वारा गुरु का ताल के मौजूदा मुखी संत बाबा प्रीतम सिंह की अगुवाई में सेवक जत्थे और संत सिपाही रंजीत अखाड़ा ने ने पुरातन युद्ध कला शस्त्र विधा का प्रदर्शन कि‍या।   अग्नि चक्र के अलावा कटार,तीर कमान, चक्कर,जंग सफा, जगदाड, ते, भाला, गुर्ज़,निशाने बाजी,तलवार का प्रदर्शन अत्‍यंत कलात्‍मक और कौशल के परि‍चायक थे। 
मन्‍कामेश्‍वर मन्‍दि‍र के  महंत योगेश पुरी के नेतृत्व में शामि‍ल कि‍शोर  और युवति‍यों के दल ने  महिलाओं पर होने वाले वाले उत्पीड़न से आत्म रक्षार्थ प्रेरित करने की कला का प्रदर्शन कि‍या।  
गुरुद्वारा नानक पड़ा,होली लाइट स्कूल,संत राम कृष्ण कन्या महा विद्यालय एवं डी वी संतोख सिंह स्कूल के छात्र और छात्राओं नगर कीर्तन अनुशासि‍त भागीदारी रही। 
नगर निगम आगरा की ओर  कीर्तन के अवसर पर स्वच्छता का संदेश नगरवासि‍यों को देने का प्रायास कि‍या गया। शोभा यात्रा में सहभागी स्त्री सिंह सभा के   जत्थे का नेतृत्‍व रानी सिंह द्वारा कि‍या गया। गुरुद्वारा धनोली का जत्था लक्ष्मण सिंह,गुरुद्वारा नया बांस लोहा मंडी का जसबीर सिंह अरोरा,गुरुद्वारा शाहगंज बॉबी आनंद,गुरुद्वारा अजीत नगर,गुरुद्वारा बल्केश्वर इंदरजीत सिंह मल्होत्रा,गुरुद्वारा शहीद नगर नरेंद्र सिंह सेठी ,गुरुद्वारा नानक दरबार शास्त्री पुरम,गुरुद्वारा दहतोरा,गुरुद्वारा नौबस्ता की संगत भगवान सिंह खालसा आदि‍ की भी नगर कीर्तन मे भागीदारी रही।
गुरुद्वारा मधुनगर की नरेंद्र सिंह लालिया एवं अर्जिंडर सिंह की अगुवाई में भागीदारी रही। , जबकि‍ श्री गुरु ग्रंथ साहिब की सवारी गुरुद्वारा नानक पड़ा एवं पंच प्यारे गुरुद्वारा काछी पुरा से आयी।
पालकी में ज्ञानी कुलविंदर सिंह,रघुवीर सिंह एवं जीतू बागड़ी एवं संत सिंह आदि‍ ने शि‍रकत की।
नगर कीर्तन में गुरुद्वारा माई थान के प्रधान कंवल दीप सिंह,पाली सेठी,समन्वयक बंटी ग्रोवर,वीरेंद्र सिंह,परमात्मा सिंह व्यवस्था प्रमुख,प्रवीण अरोरा,राजदीप सिंह,रिशु सचदेवा,हरपाल सिंह,परमजीत सिंह मक्कड़,बंटी चावला,श्याम भोजवानी आदि की उपस्थिति उल्लेखनीय रही। राणा रंजीत सिंह एवं वात्सल्य उपाध्याय नगर कीर्तन को संचालि‍त करने में सहयोग प्रदान कि‍या। 
                                                                                                   --  श्री बंटी ग्रोवर की रि‍पोर्ट पर आधारि‍त