20 अप्रैल 2024

भारतीय रेल गर्मियों दौरान रिकॉर्ड 9111 फेरों का संचालन कर रही है

 

नई दिल्ली - यात्रियों की सुविधा सुनिश्चित करने और गर्मियों के दौरान यात्रा की मांग में अपेक्षित वृद्धि को प्रबंधित करने के लिए भारतीय रेल गर्मियों के मौसम के दौरान रिकॉर्ड 9111 फेरों का संचालन कर रही है।

2023 की गर्मियों की तुलना में यह पर्याप्त वृद्धि दर्शाता है, जहां कुल 6369 फेरों की पेशकश की गई थीं। यह 2742 फेरों की वृद्धि दर्शाता है, जो यात्रियों की मांगों को प्रभावी ढंग से पूरा करने के प्रति भारतीय रेल की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।

प्रमुख रेल मार्गों पर निर्बाध यात्रा सुनिश्चित करने के लिए देश भर के प्रमुख गंतव्यों को जोड़ने के लिए अतिरिक्त ट्रेनों की सावधानीपूर्वक योजना बनाई गई है। समस्‍त जोनल रेल द्वारा देश भर में गर्मियों के मौसम में तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, झारखंड, मध्य प्रदेश, राजस्थान और दिल्ली जैसे राज्यों से यात्रियों की भीड़भाड़ को कम करने के लिए इन अतिरिक्त फेरों को संचालित करने की तैयारी कर ली गई है।

चाय और समोसे के लिए इंतज़ार रहेगा भारत में एलन मस्क का

 


अमेरिकी अरबपति एलन मस्क ने  X पर लिखा  कि 21-22 अप्रैल को प्रस्तावित उनकी भारत यात्रा को स्थगित कर दिया गया है। सम्भव है  इसका कारण यह हो सकता है कि उन्हें 23 अप्रैल को टेस्ला की महत्वपूर्ण मीटिंग में भाग लेना अति  आवश्यक है। “दुर्भाग्य से,  टेस्ला दायित्वों  के कारण भारत की यात्रा में देरी हो सकती है, लेकिन मैं इस वर्ष के अंत में यात्रा करने के लिए बहुत उत्सुक हूँ " मस्क ने उत्तर में लिखा।  X पर  एक उपयोगकर्ता, मोहम्मद तौफीक ने कहा, “कोई जल्दी नहीं, हम अपनी सभी चाय और समोसा योजना को तब तक रोके रखेंगे  जब तक आप  नहीं आते, इसका इंतज़ार कर रहे हैं, एलन  "

19 अप्रैल 2024

भीषण गर्मी के बावजूद लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में भारी मतदान

 

2024 के पहले चरण के मतदान में भीषण गर्मी के बावजूद भारी मतदान दर्ज किया गया। मतदान काफी हद तक शांतिपूर्ण रहा और विभिन्न क्षेत्रों के मतदाताओं ने नागरिक जिम्मेदारी व गौरव का शानदार प्रदर्शन करते हुए उत्साहपूर्वक भाग लिया। आम चुनाव 2024 के पहले चरण में, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश की राज्य विधानसभाओं के लिए मतदान के साथ-साथ 18वीं लोकसभा के चुनाव के लिए 10 राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों में मतदान पूरा हो गया है। आयोग ने पहले चरण के मतदाताओं और पूरी चुनाव मशीनरी को धन्यवाद दिया।

शाम 7 बजे तक 21 राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों में मतदान का संभावित आंकड़ा 60 प्रतिशत से अधिक बताया गया है। राज्यवार आंकड़े अनुलग्नक-ए में दिए गए हैं। सभी मतदान केंद्रों से रिपोर्ट प्राप्त होने पर मतदान प्रतिशत बढ़ने की संभावना है, क्योंकि कई निर्वाचन क्षेत्रों में शाम 6 बजे तक मतदान निर्धारित है। साथ ही, मतदान का समय समाप्त होने तक मतदान केंद्रों पर पहुंचने वाले मतदाताओं को अपना वोट डालने की अनुमति दी जाती है। अंतिम आंकड़े कल फॉर्म 17ए की जांच के बाद पता चलेंगे।

16 अप्रैल 2024

होम्यो पैथी से अब गंभीर रोगों के उपचार की स्थापित पद्यति :डा पारीक

 --डॉ.सारस्वत क्लीनिक एवं रिसर्च सेंटर भी उच्च स्तरीय होम्येपैथी उपचार में देगा योगदान

 डा आर एस पारीक साथ में हैं डा कैलाश चन्द्र सारास्वत साथ में
हैं डा.कैलाश  एवं श्री रमांकांत सारास्वत।फोटो:असलम सलीमी।
आगरा:प्रख्यात चिकित्सक  श्री डॉक्टर आर.एस.पारीक ने कहा है कि विश्व में होम्योपैथी की विश्वनीयता बढ़ी है।होम्योपैथी एक मानव काय से संबधित साइंस है,जिससे गम्भीर से गंभीर रोगों का इलाज सम्भव है।

डा. पारीक जो कि आवास विकास सैक्टर- 15 के ऐंथम कांप्लैक्स में नव स्थापित डा सारास्वत होम्योपैथिक क्लीनिक एंड रिसर्च सेंटर के रविवार 14 अप्रैल को आयोजित  उद्घाटन कार्यक्रम को मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे,ने कहा विश्वभर में पुराने समय से यह प्रचलित उपचार पद्यति है,भारत में भी यह लम्बे समय से प्रचलन में है और आम लोगों में इसकी सहज

13 अप्रैल 2024

झुमरी तलैया नाम का प्रयोग बॉलीवुड फिल्मों में अक्सर क्यों किया जाता है ?

 

आपको अवश्य पता होगा कि एक समय झुमरी तलैया में देश के सबसे अधिक संख्या में रेडियो सेट थे। ऑल इंडिया रेडियो और रेडियो सीलोन में हर दिन  गानों के लिए अनुरोध आते थे। एक समय  इस छोटे और खूबसूरत शहर को अतीत में विविध भारती से बड़ी संख्या में गाने के अनुरोध के कारण लोकप्रियता मिली। मजेदार बात यह है कि   "झुमरी तलैया " नाम का प्रयोग फिल्मों में बार बार  क्यों किया जाता है? इसका एक इतिहास है। जब भारत में टीवी लोकप्रिय नहीं था, तब लोग "विविध भारती"  अक्सर सुनते थे। उस समय इस शहर से बड़ी संख्या में गाने की फरमाइशें विविध भारती पर आती थीं। इसी कारण  झुमरी तेलैया नाम प्रसिद्ध हो गया था।  देश भर में बहुत से लोग लोग इसे काल्पनिक नाम समझने लगे। झुमरी तलैया  नाम अपने आप में अनोखा और दिलचस्प लगता है, इसलिए लोग इसे फिल्मों आदि में इस्तेमाल करते थे।

12 अप्रैल 2024

अमीन सयानी, बिनाका गीत माला और झुमरी तलैया को संगीत प्रेमी शायद ही कभी भुला सकें

 

भारतीय संगीत प्रेमी अमीन सयानी और बिनाका गीत माला का नाम शायद ही कभी भुला सकें। एक समय था जब  बुधवार रात 8 बजे सब लोग रेडिओ के पास गीतमाला का बेसब्री से गीत माला का इंतज़ार करते थे। प्रसारित हुआ, रोजमर्रा की जिंदगी, फिल्मों और चुटकुलों में छा गया। कार्यक्रम की चरम लोकप्रियता के वर्ष खासतोर से 1950 के मध्य से 1970 के दशक के प्रारंभ तक थे। इसके उपरांत बहुत से अन्य संगीत कार्यक्रम भी प्रसारित होने का सिलसिला शुरू हुआ बहनों और भाइयों  के साथ संबोधित करने की अमीन सयानीकी शैली को अभी भी एक मधुर स्पर्श के साथ एक घोषणा के रूप में माना जाता है। उन्होंने 1951 से अब तक 54,000 से अधिक रेडियो कार्यक्रमों और 19,000 स्पॉट/जिंगल्स का निर्माण, संचालन (या वॉयस-ओवर प्रदान किया) किया है। बिनाका गीत माला  के समर्पित श्रोता और इतिहासकार अनिल भार्गव ने लिखा कि एक पूरी पीढ़ी का इस कार्यक्रम से गहरा भावनात्मक लगाव था  और उन्होंने आगे कहा कि युवा पीढ़ी के लिए भावनाओं और जुनून के प्रकार की कल्पना करना कठिन है।