18 अगस्त 2022

गायब हो रही है 150 वर्ष पुरानी अभिनय और गायन की लोक कला ,थाली की रामायण

 

थाली की रामायण  के बारे में शायद आपने कभी सुना हो। उत्तर प्रदेश की किसानों द्वारा प्रदर्शित 150 बर्ष पुरानी अभिनय और गायन की लोक कला है। बृज भाषा में गाये जाने वाला यह आगरा , मथुरा, एटा, और अलीगढ़ में बहुत प्रचलित था। इसके कलाकार  लोकप्रिय दृष्टिकोण का पालन नहीं करते हुए, महाकाव्यों की कहानियों की  अपनी तरह से व्याख्या करते हैं। एटा में लगभग 40 से 50 समूह हैं जो थाली की रामायण करते हैं। थाली की रामायण में मुख्य गायक के साथ मंजीरा (एक जोड़ी झांझ), ढोलक (दो सिर वाला ड्रम), चिमटा (चिमटे की एक जोड़ी), गगरी या घर ( एक धातु या मिट्टी के पानी का बर्तन ) बजाते हैं।

 

16 अगस्त 2022

कुकरैल वन क्षेत्र में बनेगी देश की पहली नाइट सफारी सिंगापुर की तर्ज पर

 

लखनऊ - भारत की पहली नाइट सफारी उत्तर प्रदेश के  कुकरैल वन क्षेत्र में स्थापित की जाएगी। इस रात्रि सफारी को  सिंगापुर की  नाइट सफारी के तर्ज़ पर  स्थापित करने का निर्णय लिया गया है। उत्तर प्रदेश के पर्यटन मंत्री ने जयवीर सिंह ने कहा कि 2027.46 हेक्टेयर में फैले कुकरैल वन क्षेत्र में 350 एकड़ में यह नाइट सफारी विकसित की जाएगी तथा 150 एकड़ में छेत्र में  जूलॉजिकल पार्क  स्थापित किया जाएगा। भारत की इस अनोखी रात की सफारी में स्थानीय गाइडों के साथ ट्रेन और जीप की सवारी भी प्रदान की जाएगी। इसके अलावा कैनोपी वॉक, कैंपिंग , माउंटेन बाइक ट्रैक, वॉल क्लाइंबिंग, ट्री टॉप रेस्टोरेंट, नेचर ट्रेल और फूड कोर्ट जैसी सुविधाएं को भी विकसित किया जायेगा । पर्यटन मंत्री ने  बताया कि इस जूलॉजिकल पार्क और नाइट सफारी की स्थापना में मौजूदा वनस्पतियों और जीवों को प्रभावित किए बिना केवल खुले क्षेत्रों का उपयोग किया जाएगा जो वर्तमान में उपयोग में नहीं हैं। 

वरिष्ठ नागरिकों की सेवा के लिए अज्ञात निवेश किया 85 वर्षीय उद्योगपति रतन टाटा ने

 

उद्योगपति श्री  रतन टाटा ने  स्टार्टअप गुडफेलो में एक अज्ञात निवेश की घोषणा की जो वरिष्ठ नागरिकों को सेवा के रूप में सहयोग प्रदान करता है। गुडफेलो स्टार्टअप के संस्थापक शांतनु नायडू, जो श्री रतन टाटा के व्यापार सहायक के रूप में काम करते हैं, का कहना है कि श्री टाटा के साथ उनकी अंतर-पीढ़ी की दोस्ती के साथ-साथ पिछले कई वर्षों में बुजुर्गों के प्रति उनके स्नेह ने उन्हें इस यात्रा को शुरू करने के लिए प्रेरित किया है। रतन टाटा ने कहा उन्हें वरिष्ठ नागरिकों की  सेवा के विकसित होने  में बहुत खुशी होगी जो लोगों के जीवन को नवीन रूप से बदल  सकती  है।

बुजुर्ग जिनके  बच्चे विदेश में या दूर रहते हैं, उनके पास कहानियों और ज्ञान का समुद्र है,  स्टार्टअप गुडफेलो से जुड़े युवा  उन्हें प्रासंगिक बने रहने में मदद करते हैं साथ ही इन  दादा-दादी को अपनी आंखों से दुनिया को नए सिरे से देखने में मदद करते  हैं। घर के आसपास या बाहर के कार्यों के माध्यम से उन्हें अपने दैनिक जीवन को और अधिक आसानी से जीने में मदद करना इस रिश्ते का एक उत्पाद है। एक अच्छा साथी वह होता है जो परिवार के किसी सदस्य के स्नेह और उत्साह के साथ गर्व और निष्ठा से दिखाई देता रहेगा। 

14 अगस्त 2022

एक लाख भारतीय तथा विदेशी पर्यटकों ने एक दिन में ताजमहल का किया दीदार

 

आगरा - 15 अगस्त तक ताजमहल  प्रवेश निशुल्क होने का लाभ  उठाते हुए गुरुवार को ताजमहल में एक लाख से ज्यादा भारतीय तथा विदेशी पर्यटक  ताजमहल का दीदार करने पहुंचे। आगरा के आसपास के ग्रामीण लोगों के परिवारों ने इसका भरपूर फायदा उठाया। बहुत से आगरा के निवासियों ने 10 वर्ष बाद ताजमहल का अवलोकन किया। 5 अगस्त से 15 अगस्त तक सभी भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण-संरक्षित स्मारकों में प्रवेश निशुल्क कर दिया गया है। शुक्रवार को ताजमहल बंद  के कारण आगरा किला में भीड़ ने पिछले सारे रिकार्ड तोड़ दिए ।  यह कदम आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के तहत भारत के 75 साल के स्वतंत्रता समारोह के अवसर पर केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय  उठाया गया था।  

अमृत महोत्‍सव को समर्पित रहा सेंटपीटर्स का 175 वां स्‍थापना दिवस

 --स्‍वतंत्रता संग्राम सेनानियों का  स्‍मरण कर श्रद्धासुमन किये अर्पित 

फादर ऐंड्रयू कोरिया ,एक्‍स स्‍टूडैंट अनिल शर्मा 
कॉलेज के छात्रों के साथ।फोटो:असलम सलीमी 

आगरा:उत्‍तर भारत के प्रख्‍यात 'सेंट पीटर्स कॉलेज'  आगरा ने अपने १७५ साल के स्थापना वर्ष,के साथ ही देश की स्‍वतंत्रता  के अवसर 'अमृत महोत्‍सव ' कार्यक्रम मना  उन स्वतंत्रता सेनानियों का नमन किया ,जन्‍होंने देश की आजादी के लिये अपना सर्वस्‍व न्‍योछावर करने में भी संकोच नहीं किया।  आजाद भारत निर्माण में कॉलेज के पूर्व छात्रों की भूमिका और योगदान का भी स्‍मरण किया गया  भारतीय सेनाओं, प्रशासन, कॉरपोरेट और व्यापार में कार्यरत हैं और देश को प्रगतिशील बनाने में अपना योगदान दे रहे हैं।

कॉलेज के पुराने छात्रों ने भारतीय सेना का टैंक और लड़ाकू विमान भेंट किया है। यह स्कूल में पढ़ने आने वाले नये छात्रों  और उनके अभिवावकों को रोज देश प्रेम और वीर नागरिक बनने का संदेश देता है।

प्रिंसीपल फादर एंड्रयू कोरिया

13 अगस्त 2022

हॉकी :अतीत को याद करते रहने से कहीं जरूरी भविष्‍य के रोडमैप को तैयार करना

 -- प्रवासी भारतीय ही हैं ,आस्‍ट्रेलियन हॉकी की 'सुपरमेसी' की वजह  

पूर्व भारतीय हाकी टीम टीम
कप्‍तान जगवीर सिंह

(एल एस बघेल) आगरा । एक समय था, जब विश्व हाकी पर भारतीयों की धाक थी । एक बार नहीं अपितु आठ बार  भारत  ओलंपिक खेलों  में हॉकी  चैंपियन बना  । वह दौर अवरस्‍मरणीय   है, जब दादा ध्यानचंद और उनके साथियों की तूती बोलती थी । लेकिन देश के आजाद होने के बाद कुछ भारतीय आस्ट्रेलिया में जाकर रहने चले गए । वे खुद ही नहीं गये कई अन्‍य आदतों और मौलिक जानकारियों के साथ ही अपने साथ यहां से  हॉकी खेलने की शैली को भी ले गये जिसे उन्‍होंने वहां भी अपने खेल में अपनाया। 

जाहिर है अगर खेल तकनीकि और शैली हाथ में हो तो उसका स्‍वभविक असर भी होता है। परिणाम स्‍वरूप आस्‍ट्रेलियन टीम में अपनी जगह बनाकर इन प्रवासियों ने हॉकी में अपने मूल वतन की टीम के सामन ही नहीं किया ,अपने कौशल का करिश्‍मा दिखाना शुरू कर दिया। फलस्‍वरूप 'कंगारू'  अंतर्राष्‍ट्रीय मैचों में विजेता बनाने लगे । जीत का यह सिलसिला तब कीरिश्‍माई और अचम्‍भित करने वाला सा लगने लगा जब कि आस्‍ट्रेलियन टीम ने कॉमन्‍थ वैल्‍थ गेम में पहली

12 अगस्त 2022

जो बाजार में खप सकता हो उसके लिये अवसर तलाशें

 -- अनमार्केटिड को मार्किट में लाना रोजगार का प्रभावी माध्‍यम :टावरी

पूर्व आई ए एस अधिकारी कमल टावरी,पूर्व विधायक महेश गोयल 
एवं ध्रुुवअग्रवाल 
।  फोटो:असलमलीमी 

आगरा:आगरा:भारत में अवसरों की भरमार है, लेकिन इनका उपयोग करने के लिये सरकारों की योजनाओं के स्‍थान पर अपनी दक्षता और समर्पण पर अधिक जरूरी हैं। यह कहना है  पूर्व आई ए एस अधिकारी कमल टावरी का कहना है। श्री टावरी जो कि ए और समर्पण पर अधिक जरूरी हैं। यह कहना है  पूर्व आम जी रोड स्‍थित बृंदावन होटल में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे, ने कहा कि बेरोजगरी के विकल्‍प के रूप में किसी भी पहल को सधिकारी कमल टावरी का कहना है।कार नहीं रोकती ,अधिकारी सकारात्‍मक रुख ही रखते है जबतक कि नीतिगत तौर पर कोयी बडा कारण सामने नहीं आये। श्री टावरी ने कहा कि छोटे बडे किसी भी धंधे में

11 अगस्त 2022

24 घंटों पूर्व अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का विवरण देना अनिवार्य

 

भारत भी अब अमरीका सहित 60 से अधिक उन देशों की सूची में शामिल हो गया है, जिनके पास सीमा शुल्क या सीमा नियंत्रण अधिकारियों के साथ अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रियों के बारे में पूर्व सूचना साझा करने के नियम हैं। भारत ने उड़ानों के प्रस्थान से 24 घंटे पहले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का विवरण साझा करना अनिवार्य कर दिया ताकि अधिकारियों को जोखिम विश्लेषण में मदद मिल सके ।यात्रियों के बारे में पूर्व सूचना देने के नियमों का पालन न करने पर एयरलाइन कंपनियों को 25,000 से लेकर 50,000 रुपये तक का जुर्माना देना पड़ सकता है ।

आगरा के साहित्‍य सर्जक संजय गुप्‍ता की पुस्‍तक ‘अमृत महोत्‍सव 75’ का हुआ विमोचन

 -- आजादी की भावना को बल देने के लिये साहित्‍य सर्जन भी आवश्यक : रानी सरोज  गौरिहार  

सोम ठाकुर, रानी सरोज गौरिहार, महंत योगेश पुरी राजेन्‍द्र
मिलन ने‘अमृतवाणी 75’  का किया लोकापर्ण।फोटो :असलम
 
 

 आगरा :स्वतंत्रता सेनानी रानी सरोज गौरिहार ने कहा है कि देश की आजादी के हीरक जयंती वर्ष में मनाए जा रहे 'अमृत महोत्सव ' पर्व में देशभक्ति की भावना जागृत करने वाले साहित्य का सृजन होना अति आवश्यक है । वर्तमान दौर में देशभक्ति की बातें अधिक हो रही हैं लेकिन समर्पण भाव में निरंतर ह्लास  हो रहा है ।

वह डा भीम राव अम्बेडकर वि वि के सांस्कृतिक भवन में स्वधीनता सेनानी एवं पत्रकार स्व.रोशन लाल गुप्त 'करुणेश' को समर्पित साहित्य सेवी ,कवि संजय गुप्त की नवीनतम कृति  '75 अमृत वाणी' के

6 अगस्त 2022

जलेबियों की कहानी शुरू हुई थी आगरा से 150 वर्ष पहले

 


-- मिठास ही नहीं पेट के कई विकारों को भी रोकती है जलेबी की चाश्‍नी 
आगरा । जलेबी का इतिहास आगरा से जुड़ा हुआ है । बताया जाता है लगभग 150 पूर्व नेम चंद जैन नाम का एक युवा लड़का किसी बड़े शहर में अपना भाग्य आज़माने के लिए  अपनी सात वर्ष की पत्नी के परिवार से दहेज में मिले 50 पैसे के साथ आगरा के नज़दीक के अपने पैतृक गांव को छोड़ दिल्ली चला गया। आगरा का यह बालक नेम चंद कई वर्षों तक दिल्ली में फेरीबला बनकर रबड़ी बेचने का काम करता रहा । इसके दोरान उसकी शम्सुद्दीन इफ़रान नाम के एक मुस्लिम व्यापारी से मुलाक़ात हुई जिसकी दरीबा कलां में चांदनी चौक के कोने पर एक दुकान थी । शम्सुद्दीन ने इस बालक को मेहनती देख उसे अपनी दुकान के सामने फुटपाथ पर एक स्टॉल लगाने का अवसर दिया । यहाँ नेम चंद ने जलेबी बनाना शुरू की । उसकी यह मिठाई तेजी से लोकप्रिय हो गई ।समय के साथ, नेम चंद की जलेबी की दुकान ने उसे दुकान के मालिक से अधिक अमीर बना दिया । उसने  गली खज़ांची में अपने परिवार के लिए एक बड़ी हवेली बनाने में सफलता

4 अगस्त 2022

तुलसी विपन्‍नता से परिपूर्ण स्‍थितियों उपज थे 'राम भक्‍त तुलसी'

--  'मानस' के समग्र चिंतन की डोर पकड कर आज भी लक्ष्‍य प्राप्‍ति संभव 

नागरी प्रचारिणी  में संपन्‍न तुलसी दास जयंती,प्रो प्रदीप श्रीधर,
  अशोक अश्रु, सोम ठाकुर, प्रो राम वीर आदि व्‍यक्‍त किये विचार।

आगरा: नागरी प्रचारिणी सभा,आगरा द्वारा आयोजित “तुलसी जयन्ती समारोह”के मुख्य अतिथि और के.एम.आइ.हिन्दी विद्यापीठ के निदेशक प्रो.प्रदीप श्रीधर ने कहा कि “तुलसी जिन परिस्थितियों की वह उपज थे वे आज से कहीं अधिक भयावह थीं।एक ऐसे समाज में जहां किसान को खेती नहीं,वणिक को बनिज नहीं और भिखारी को भीख तक नहीं थी ।”

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता और केंद्रीय हिन्दी संस्थान के पूर्व निदेशक प्रो.रामवीर सिंह ने कहा कि”संत तुलसीदास का साहित्य,विचार और चिन्तन भारत के संकटकाल में उत्पन्न एक समग्र चिन्तन

3 अगस्त 2022

ताजमहल का 15 अगस्त तक मुफ़्त अवलोकन कर सकेंगे पर्यटक



 

आगरा के सभी संरक्षित मोनुमेंट्स में 15 अगस्त तक पर्यटकों द्वारा निशुल्क प्रवेश किया जा सकेगा । जिसमें ताजमहल भी सम्मलित है ।संरक्षित स्मारकों में 15 तक एंट्री फ़्री  के आदेश ASI द्वारा जारी कर दिए गए हैं।ताजमहल शुक्रवार को हमेशा बंद रहता है इस कारण ताज पांच अगस्त को नहीं खुलेगा। ताजमहल में छह अगस्त से एंट्री  मुफ़्त रहेगी । यह निर्णय आज़ादी के अमृत महोत्सव के तहत भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा लिया गया है।