September 10, 2017

उत्तर प्रदेश में बंद सिनेमाघर फिर से जिंदा हो सकेंगे ,सरकार की पहल

कमर्शिअल गतिविधि  की इजाजत और पांच वर्ष तक टैक्स में छूट
उत्तर प्रदेश सरकार पुराने बंद  सिनेमा हॉलों को फिर से जिंदगी देना चाहती है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पुराने सिनेमा हालों के कल्चर को फिर से बापिस लाना चाहते हैं।योगी सरकार ने यह  निर्णय  लिया है कि यदि कोई मालिक  पुराना सिनेमा हॉल  तोड़ कर नया बनाएगा तो उसको कमर्शिअल गतिविधि चलाने की भी इजाजत होगी और पांच वर्ष तक टैक्स में भी  छूट दी जाएगी । आशीष अग्रवाल जोकि फिल्म एक्जिबीटर्स फेडरेशन के महासचिव हैं ने उत्तर प्रदेश सरकार के इस महत्वपूर्ण निर्णय का स्वागत किया और कहा इससे प्रदेश में बंद सिनेमाघर पुनः  जिंदा हो सकते हैं।  उन्होंने कैबिनेट मीटिंग में फैसला लिया कि सिनेमाघरों में  टैक्स को कम किया जाये। प्रदेश में मनोरंजन कर  40 प्रतिशत से ज्यादा था जो दूसरे प्रदेशों से कहीं अधिक  ज्यादा है। प्रदेश में जीएसटी लागू होने के बाद  ये टैक्स सौ रुपये के टिकट पर 18 % और सौ रुपये से अधिक के  टिकट पर 28 % हो गया है। फिल्म  निर्माता निर्देशक  उत्तर प्रदेश में अपनी फिल्म  टैक्स फ्री करवाने की कोशिश में रहते थे क्योंकि सस्ती होने के कारण यदि उनकी  फिल्म उत्तर प्रदेश में  हिट हो जाती है तो बहुत कमाई देती है ।