August 1, 2017

आगरा के नागरि‍क चलायेंगे पोस्‍टकार्ड अभि‍यान, बतायेंगे समस्‍यायें

--दो अक्टूबर को शहीद स्मारक मे होगी रैली
सर्वश्री थापर, अवधेश उपाध्‍याय  एवं डा अनुर शर्मा ने
 नागरि‍कों को दी पोस्‍ट कार्ड अभि‍यान की जानकारी
आगरा: नागरि‍कों की महानगर  को लेकर अहम जरूरतें चि‍न्‍हि‍त एवं प्रचारि‍त कर सत्ता से क्रि‍यान्वित करवाने को एक जुट आवाज उठाई जायेगी,इसके लि‍ये पोस्टकार्डों का इस्तेमाल कि‍या जायेगा।एक व्याापक अभि‍यान के रूप में इस कार्य को शुरू कि‍या गया है ।पब्‍लि‍क ओपीनि‍यन को कि‍सी सार्वजनि‍क उद्धेश्‍य के  लि‍ये आगरा वासि‍यों को सक्रि‍य तौर पर सहभागी बनाने का यह तीसरा अवसर है।जनता की बात और अभि‍व्यक्ति सार्वजनि‍क तौर पर मुखरि‍त करने के लि‍ये 2007 में 'सेवि‍न वंटर लि‍स्टि‍ग' के लि‍ये  स्विस कंपनी
ने ‘एस एम एस’ अभि‍यान चलाया था जि‍समें ताजमहल को पहला स्था‍न मि‍ला था। इसके बाद आगरा को स्मार्ट सि‍टी की सूची में शामि‍ल करवाने के लि‍ये वोटि‍ंग अभि‍यान चलाया गया। 2015 में चले इस अभि‍यान में आगरा के नागरि‍कों का स्मार्ट सि‍टी कंसैप्ट  के लि‍ये समर्थन नहीं मि‍ला कि‍न्तु बाद में 2016 में भारत सरकार के द्वारा स्मार्ट सि‍टी सूची अपडेट करते समय आगरा को इसमें स्थान दे दि‍या गया।ताजा पोस्टमकार्ड अभि‍यान इन सभी अभि‍यानों से  थोडा फर्क और व्‍यापक उद्धेश्‍यसें से परक है। 
 जल अधि‍कार फाऊंडेशन के नेशनल जनरल सैकेट्री अवधेश उपाध्याय का कहना है कि‍ फाऊंडेशन ने सबसे पहले आगरा की  अहम जरूरत ‘पानी की कि‍ल्लत’ पर काम शुरू कि‍या और भारत सरकार व प्रदेश सरकार को बताया कि‍ गंगाजल पालाप लाइन प्रोजेकट से आगरा की जरूरत पूरी नहीं होने जा रही, इसके लि‍ये आगरा बैराज बनानी ही होगी। इसी प्रकार यह भी स्पष्ट, कि‍या कि‍ टूरि‍ज्म ट्रेड की जरूरत के लि‍ये ताज महल का रि‍यर रि‍वर फ्रंट सुधारने के लि‍ये ताज बैराज जरूरी है। साथ ही यह भी समझाया कि‍ ताज बीयर या बैराज जो भी बने उससे श्‍ाहर के लि‍ये जलसंस्‍थान की वाटर सप्‍लाई से जोडकर प्रचरि‍त करना धोखा है।अगर जलसंस्‍थानों की मौजूदा इकाईयों को उखडकर ताजमहल केनीचे लेजाया जा सकना संभव हो तब बात अलग है। संतोष की बात है कि‍ सि‍चाई मंत्री भी वस्तु स्थिति‍ को आगरा आकर समझ गये हैं। 
श्री उपाध्याय ने कहा कि‍ जल अधि‍कार की टीम आगरा में व्यापक संपर्क अभि‍यान चलाकर संगठन के हैंडवि‍ल और पोस्टरकार्ड बांटना शुरू कर चुकी है ।जि‍नपर लोग अपनी समस्या्ये और प्राथमि‍कता खुद लि‍खेंगे। इस प्रकार आगरा के नागरि‍क अपने शहर का एजेंडा बनाने में खुद सक्रि‍य भूमि‍का नि‍र्वाह करेंगे। फाऊंडेशन के वरि‍ष्ठ सदस्य एवं आगरा कॉलेज के इंजीनि‍यरि‍ग संकाय के कम्यूटर वि‍भाग के अध्यएक्ष डा अनुराग शर्मा ने बताया कि‍ संगठन की एक बडी उपलब्धि्‍ आगरा-मथुरा सीमा पर जोधपुर गांव में 15करोड घनमीटर से अधि‍क क्षमता का जलाशय वि‍कसि‍त करवाने के रूप में है।चल रहे मानसून दौर में यह पानी से भरपूर हो जायेगा और आगरा के पर्यावरण व भूजल सुधार प्रयासों में अपना सकारात्मरक योगदान देने लगेगा।ताजगंज क्षेत्र के पार्षद अशोक कुमार कुशवाह ने बताया कि‍ पि‍छले तीस साल से बन्दा पडी पार्क माईनर अब फि‍र से शुरू होने जा रही है,जि‍ससे ताजगंज के रसातल में समा चुके भूगर्भ जलस्तरर और उसकी नि‍म्तम हो चुकी गुणवत्ता  में तेजी के साथ सुधार हो सकेगा।सर्वश्री थापर, नि‍ति‍न अग्रवाल, वीरेन्द्रस भरद्वाज, अजि‍त गर्ग, राकेश कुमार शर्मा, वि‍मल जैन, सुशांत सि‍घल सी ए, आदि‍ ने उम्मीअद जतायी है कि‍ पोस्टिकार्ड अभि‍यान एक ऐसे वास्त‍वि‍क ‘डाटा बैंक’ का आधार बनने जा रहा है जि‍से राजनेताओं और नौकरशाहों में से कोई भी नकारने की स्थिति‍ में नहीं रह सकेगा।