May 11, 2020

यात्री को 90 मिनट पूर्व स्टेशन पहुंचना होगा,होगी थर्मल स्क्रीनिंग

भारतीय रेल की यात्री सेवाएं 12 मई 2020 से क्रमबद्ध तरीके से आंशिक रूप से बहाल होंगी।  विशेष रेलगाड़ियों की 15 जोड़ी (30 ट्रेनों) का परिचालन किया जाएगा। ये सेवाएं श्रमिक स्पेशल के अतिरिक्त होंगी। वर्तमान में शुरू की गई इन विशेष रेलगाड़ियों में केवल वातानुकूलित श्रेणियां अर्थात फर्स्ट, सेकेंड और थर्ड एसी होंगी। ‘स्पेशल ट्रेन्स’ के लिए किराया संरचना नियमित समय सारिणी वाली राजधानी एक्सप्रेस (कुछ खास प्रभारों को छोड़कर) के लिए लागू किराया संरचना के समान होगा।स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग को सुगम बनाने के लिए यात्री कम से कम 90 मिनट पूर्व स्टेशन पर  पहुंचना होगा। साथ ही ट्रेन के भीतर किसी तरह की चादर, कंबल और पर्दे उपलब्ध नहीं कराएं जाएंगे, यात्रियों को अपनी चादर...
लाने की सलाह दी जाती है और यात्रियों की आवाजाही साथ ही साथ यात्रियों को रेलवे स्टेशन तक लाने और ले जाने वाले वाहनों के चालकों को कन्फर्म्ड ई-टिकट के आधार पर अनुमति दी जाएगी।
आईआरसीटीसी वेबसाइट या मोबाइल एप के माध्यम से केवल ऑनलाइन ई-टिकटिंग ही की जाएगी। किसी भी रेलवे स्टेशन के आरक्षण काउंटर पर कोई भी टिकट बुक नहीं होगा। ‘एजेंट्स’ (आईआरसीटीसी एजेंट और रेलवे एजेंट दोनों) के माध्यम से टिकटों की बुकिंग की अनुमति नहीं होगी। अधिकतम अग्रिम आरक्षण अवधि (एआरपी) अधिक से अधिक 7 दिन की होगी।