March 22, 2020

आगरा पर्यटकों की आवाजाही का बड़ा केन्‍द्र ,यहां रहेगी अधि‍क सतर्कता : चौ.उदयभान सि‍ह

शरीर को संक्रमण प्रति‍रोधक बनाये रखना ही सबसे बड़ा  उपाय

 ( चौ. उदय भान सि‍ह ने सपरि‍वार की कोरोना के खि‍लाफ जंग,
एकजुटता 
की अभि‍व्‍यक्‍ति‍,फोटो:असलम सलीमी )
आगरा: उ प्र शासन के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एम एस एम ई) राज्य मंत्री चौधरी चौ उदय भान सि‍ह  ने 'जनता कफर्यू ' को अत्‍यंत सफल बताया है, उन्‍होंने कहा कि‍ प्रदेश के मुखि‍या योगी आदि‍त्‍य नाथ जी की सक्रि‍यता से प्रधान मंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की दूरदर्शि‍ता से संजोया गया यह कदम 'व्‍यापक जन सहभागि‍ता ' से उस वि‍श्‍वास को और अधि‍क मजबूत कर गया जो  कार्यक्रम की सफलता के लि‍ये सबसे बडी जरूरत होता है। 
चौ उदय भान सि‍ह जो कि‍  सि‍रकी मंडी स्‍थि‍त अपने आवास पर परि‍वार के सदस्‍यों के साथ रवि‍वार 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के तहत सांय पांच बजे थाली,बेला-घंटा बजा तथा शंखनाद कर
एक जुटता अभि‍व्‍यक्‍ति‍ के बाद चर्चा कर रहे थे , ने कहा कि‍ आगरा एक पर्यटक प्रधानता वाला जनपद है। उ प्र में विदेशी भी सबसे अधि‍क यही आते हैं इस लि‍ये सतर्कता को लेकर हमारी ही सबसे बडी जि‍म्‍मेदारी है।महानगर  के अलावा बटेश्‍वर,श्‍यौरीपुर ,केलाश और फतेहपुर सीकरी ग्रामीण क्षेत्रों से होकर पहुंच मार्ग वाले वे स्‍थल हैं जहां वि‍देशी ही नहीं प्रवासी भारतीय परि‍वरों की मौजूदगी भी सालभर रहती है। इन सभी स्‍थानों पर संक्रामक नि‍यंत्रण के लि‍ये स्‍वास्‍थ्‍य प्रशासन से अधि‍क सक्रि‍यता बरतने को कहा गया है,वैसे धर्मस्‍थलों पर तो कोरोंना का खतरा बने रहने तक आवाजाही स्थलीय व्‍यवस्‍थापकों के द्वारा स्वतः  स्‍फूर्त ही नि‍यंत्रि‍त कर रखी गयी है।

प्रचलि‍त दबायें भी डा से परामर्श  कर ही लें


जहां समूचे महानगर में नागरि‍क कर्फ्यू प्रभावी था वहीं चि‍कि‍त्‍सा पद्यिति‍यों की समझ रखने वाले तथा चि‍कि‍त्‍सक  शरीर की प्रति‍रोधी क्षमता बढाने के लि‍ये प्रचलि‍त रही औषधि‍यों व उपायों को लेकर स्‍वजनों में चर्चारत रहे ।  नगर के प्रख्‍यात चि‍कि‍त्‍सक डा परि‍ख ने आर्सीनि‍कम एल्‍बम -30 ( Arsenic Album -30) के इस्‍तेमाल को उपयोगी बताया  साथ ही सुझाव दि‍या कि‍ यह होम्‍योपैथि‍क दवा   हालांकि‍ आयुश मंत्रालय से सुझायी हुई है कि‍न्‍तु इसका उपयोग होम्‍योपैथीक डाक्‍टर से परामर्श  कर ही कि‍या जाये।

 संक्रामण प्रति‍रोध असली ताकत


 उधर पूर्व स्‍वास्थ्‍य मंत्री एवं पेशे से डाकटर भारतीय जनता पार्टी के नेता डा राम बाबू हरि‍त ने कहा है संक्रामण प्रति‍रोध क्षमता बढाना तथा सैनेटाइजेशन के प्रति‍ आमदि‍नों की अपेक्षा अधि‍क सजगता मौजूदा दौर की सबसे बडी जरूरत है।यह सही है कि‍ कोरोना वायरस का टीका या दवा फि‍लहाल नहीं है कि‍न्‍तु संक्रमण से शारीरि‍क प्रति‍रोध क्षमता बढाने के कई तरीके व दावायें एलोपैथी में भी मौजूद है।