November 23, 2019

गायत्री स्‍कूल में संपन्‍न हुआ 'डांस -लैंग्‍वैज आफ सोल '

--नृत्‍य की आकर्षक प्रस्‍तुति‍यां रही कार्यक्रम का मुख्‍याकर्षण
पारंपरि‍क नृत्‍य रहे प्रस्‍तुति‍यो में खास आकर्षण।फोटो:असलम सलीमी
आगरा:बजीरपुरारोड स्‍थि‍त गायत्री पब्‍लि‍क स्‍कूल में दो दि‍वसीय वार्षि‍क्रोत्‍सोव संपन्‍न हुआ , इस अवसर पर मेघावी छात्र छात्राओ को पुरुस्‍कार देकर सम्‍मानि‍त भी कि‍या गया।  आयोजन का मुख्‍य आकर्षण 'डांस -लैंग्‍वैज आफ सोल आफ  ' रहा ।कक्षा नर्सरी से पांचवीं क्‍लास तक के चार सौ छात्र छात्राओं की कार्यक्रम में भागीदारी रही।  आरंभ में  मुख्‍याति‍थि‍ के रूप मे मौजूद वि‍द्यालय की फाऊंडर प्रसीडैंट श्रीमती राधा रानी शर्मा, वि‍द्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती कल्‍याणी दीक्षि‍त एवं वि‍द्यालय
के प्रबधक प्रद्युमन चतुर्वेदी के द्वारा मंत्रोच्‍चार एवं द्वीप प्रज्‍वलन के साथ कार्यक्रम का उद्घाटन  कि‍या गया। कार्यक्रम का संचालन नाइन्‍थ एवं
वि‍घालय की प्रंसि‍पल श्रीमूती कल्‍याणी दीक्षि‍त और
प्रबंधक 
प्रद्युमन चतुर्वेदी ने कि‍या द्वीप प्रज्‍वलि‍त।

टैंथ क्‍लास की कक्षा के  नवरत्‍न भारद्वाज एवं कु.गौरी वर्मा के द्वारा के द्वारा कि‍या गया। आरंभ में स्‍कूल के हैडवॉय  वि‍कास वर्मा और हैडगर्ल याशि‍का गुप्‍ता के द्वारा गैस्‍टों के सम्‍मान में स्‍वागत अभि‍व्‍यक्‍ति‍ की गयी।
 सान्‍या पंजवानी,  याश मोटवानी और छवि‍ उदेनि‍यां ने संयुक्‍त रूप से स्‍कूल की वार्षि‍क रि‍पोर्ट प्रस्‍तुत की। कार्यक्रम के   पुरुस्‍कार वि‍तरण कार्यक्रम का संचालन एवं संयोजन दसवीं कक्षा की खुशी नागर एवं उर्वशी श्रीवास्‍तवके द्वारा कि‍या या। इस अवसर पर बोलते हुए वि‍द्यालय की प्रंसि‍पल श्रीमती कल्‍याणी
दीक्षि‍त ने कहा कि‍ स्‍टूडैंट्स के सवार्गीण वि‍कास एवं सांस्‍कृति‍क समझ को व्‍यापक बनाने में  नृत्‍य भी अहम भूमि‍का नि‍भता है। 
स्‍टूडैंट्स के द्वारा मंचीय प्रस्‍तुति‍यों में स्‍पैनिश शैली के' फ्लैमेंगो--स्‍नॅारि‍टा 'भारतीय लोक शैली  के 'मर्तांड मारतंड' डांसों के साथ 'ओम शांति‍ ओम',डि‍स्‍को, डांडि‍यातथा चीनी नृत्‍यशैली के  नृत्‍य प्रस्‍तुत कि‍ये गये।    
  कार्यक्रम के अंत में स्‍टूडैंट्स और स्‍टाफ की ओर से नवमीं के छात्र जमाल खान और दसवीं क्‍लास की छात्रा आर्ची बंसल ने आयोजन में सहयोग करने के लि‍ये धन्‍यवाद ज्ञापि‍त कि‍या।