October 1, 2019

ताज सिटी में मिट्टी के कुल्हड़,बर्तन एवं कपड़े के झोलों के प्रयोग को बढ़ावा


आगरा। जिलाधिकारी एन जी रवि कुमार ने  स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) योजनान्तर्गत ‘स्वच्छता ही सेवा 2019 अभियान के क्रियान्वयन हेतु जागरूकता अभियान  दीपावली तक अपशिष्ट का संग्रहीकरण एवं प्रभावी तरीके से रिसाईकिल एवं निष्पादन की दो गतिविधियाँ यथा- प्लास्टिक वेस्ट श्रमदान एवं स्वच्छता ही सेवा जनसंचार अभियान चलाये जाने के विस्तृत निर्देश निर्गत किये गये है।
    जिलाधिकारी ने जनपद के समस्त कार्यालयध्यक्षों, सरकारी तथा गैर सरकारी को निर्देशित किया है कि कार्यालयों, विद्यालयों एवं जन कार्यक्रमों में एक बार प्रयोग की जाने वाली प्लास्टिक यथा- चाय व पानी इत्यादि के उपयोगार्थ प्लास्टिक युक्त अथवा अर्ध प्लास्टिक सामग्री, रैपर्स आदि पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाते हुये इसके स्थान पर विभिन्न धातुओं के बर्तन तथा मिट्टी के कुल्हड़,बर्तन, जूट एवं कपड़े (अन्य स्थानीय सामग्री) के झोला के प्रयोग को बढ़ावा दिया जाय और इस आशय का घोषणा पत्र प्रस्तुत किया जाय। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जनपद के प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक प्लास्टिक
एकत्रीकरण केन्द्र का चिन्हीकरण किया जाय और एकत्र प्लास्टिक अपशिष्ट को विकास खण्ड अथवा जनपद स्तर तक परिवहन करने की व्यवस्था सम्बन्धित ग्राम प्रधान/सचिव द्वारा किया जाय। सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी ग्रामवार चिन्हित प्लास्टिक एकत्रीकरण केन्द्र व परिवहन की सूचना तथा विकास खण्ड स्तर पर चिन्हित प्लास्टिक एकत्रीकरण केन्द्र की सूचना जिला पंचायत राज अधिकारी आगरा को उपलब्ध करायी जाय।

    जिलाधिकारी ने बताया है कि अभियान के दौरान जनपद के प्रत्येक ग्राम के ग्राम प्रधान व्यक्तिगत रूप से सिंगल यूज प्लास्टिक से ग्राम को मुक्त करने एवं ग्राम में सामुहिक साफ-सफाई कराने एवं प्लास्टिक एकत्रीकरण करने में अग्रणी भूमिका निभायेंगे
और प्रत्येक सप्ताह सामूहिक साफ-सफाई व सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने की कार्यवाही करेंगे तथा ग्राम सभा की बैठके आहूत कर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन करेंगे। उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देशित किया है कि जनपद के समस्त प्राथमिक/अपर प्राथमिक विद्यालयों में एक बार प्रयुक्त होने वाली प्लास्टिक प्रयोग नहीं करने के सम्बन्ध में चित्रकला, वाद-विवाद, भाषण, निबन्ध व लेखन इत्यादि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाय। उन्होंने बताया है कि यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा।