October 5, 2019

2022 तक ट्रांस फैट फ्री हो जाएंगे भारत में खाद्य पदार्थ

नई  दिल्ली। केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने  8वें अंतर्राष्‍ट्रीय शेफ सम्‍मेलन के दौरान कहा भारत सरकार ने 2022 तक खाद्य पदार्थों में से ट्रांस फैट को पूरी तरह खत्‍म करने का लक्ष्‍य रखा है।डाक्‍टर हर्षवर्धन ने इस अवसर पर कहा कि ईट राइट इंडिया प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के 2022 तक भारत के लोगों के लिए एक ऐसे नये इंडिया के निर्माण के सपने का साकार करना है जिसमें सभी के लिए स्‍वास्‍थ्‍य , सामाजिक सुरक्षा और पोषण युक्‍त आहार उपलब्‍ध हो सके। केन्‍द्रीय मंत्री ने कहा कि ट्रांस फैट वसा का एक खराब रूप है जो स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है। इसके लिए एफएसएसएआई ने 2022 तक औद्योगिक खाद्य उत्‍पादों में ट्रांस फैट की मात्रा चरणबद्ध तरीके से घटाते हुए 2 प्रतिशत से कम तक ले आने का लक्ष्‍य रखा है।

डाक्‍टर हर्षवर्धन ने ट्रांस फैट न इस्‍तेमाल करने वाली बेकरियों की सराहना की और कहा कि खाद्य पदार्थों में ट्रांस फैट का इस्‍तेमाल रोकना हम सबकी सामाजिक जिम्‍मेदारी है। कार्यक्रम में केन्‍द्रीय मंत्री ने शेफ 4 ट्रांस फैट फ्री स्‍लोगन भी जारी किया जिसके तहत देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से आए एक हजार से ज्‍यादा शेफों ने अपने व्‍यंजनों में ट्रांस फैट फ्री तेल इस्‍तेमाल करने की शपथ ली।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने इस अवसर पर ऐसी दस बेकरियों को सम्‍मानित किया जो अपने उत्‍पादों में ट्रांस फैट रहित तेल का इस्‍तेमाल कर रही हैं या फिर भविष्‍य में ऐसा करने का वायदा किया है।