August 22, 2019

देश में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने की दिशा में ऐतिहासिक कदम


नई दिल्ली। सरकार ने पर्वतारोहण एवं ट्रैकिंग के लिए पर्वतारोहण वीजा प्राप्त करने के इच्छुक विदेशियों के लिए 137 पर्वत शिखरों को खोल दिया है। ये शिखर जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और सिक्किम में स्थित हैं। विदेशियों के लिए सबसे ज्यादा 51 शिखर उत्तराखंड में खोले गए हैं। इस सूची में जम्मू-कश्मीर के 15 पर्वत शिखरों को भी शामिल किया गया है। संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने विदेशियों के लिए ज्यादा पर्वत शिखरों को खोलने के पर्यटन मंत्रालय के अनुरोध को स्वीकार करने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह का आभार व्यक्त किया है। श्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने कहा कि यह देश में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने की दिशा में उठाया गया एक ऐतिहासिक कदम है।
इससे पहले, नई दिल्ली में कल राष्ट्रीय पर्यटन सम्मेनल के दौरान राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के पर्यटनमंत्रियों को संबोधित करते हुए पर्यटन मंत्री ने साहसिक पर्यटन पर जाने वाले यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित
करने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होंने राज्यों से अनुरोध किया कि वे साहसिक पर्यटन ऑपरेटरों का पंजीकरण करते समय अत्यधिक सावधानी बरतें और यह भी सुनिश्चित करें कि राज्यों द्वारा साहसिक पर्यटन के दिशानिर्देशों को पालन किया जा रहा है।

भारतीय साहसिक पर्यटन दिशानिर्देश 2018 के तहत जमीन, हवा और पानी में की जाने वाली गतिविधियां आती हैं, जिनमें पर्वतारोहण, ट्रैकिंग, बंजी जंपिंग, पैरा ग्लाइडिंग, कयाकिंग, स्कूबा डाइविंग, स्नोरकेलिंग, रिवर रॉफ्टिंग और कई दूसरे खेल आते हैं।