July 8, 2019

आगरा के टिम्मा ने यूरोप के लोगों में बहुत प्यार पाया

निकोल व  फलौरेंस के साथ आगरा के  टिम्मा 

पर्यटन भावनाओं  और सोच को बदल सकता है - टिम्मा 

आगरा के रविंद्र पाल सिंह टिम्मा फेसबुक के जरिए अपनी यूरोप की यात्रा के साथ पूरे ताज सिटी के निवासियों को भी यूरोप यात्रा करवा रहे हैं। शहर के  समाज  सेवी श्री टिम्मा शायद ही कोई महत्वपूर्ण पल  जनता के साथ शेयर करने से  चूकते हों। उनकी यूरोप यात्रा का मकसद सिर्फ वहां पर्यटन करना ही नहीं बल्कि आगरा के विकास में नई सोच लाकर चर्चा शुरू करने का भी है। उनके द्वारा फेसबुक पर डाले हर फोटो शहर में चर्चा और बहस का विषय बन जाते हैं। जैसे कि उनका एक फोटो, युवाओं द्वारा संगीत के जरिये स्ट्रीट पर  भिक्षा मांगना काफी चर्चा में है।  यदि देखा जाये तो श्री टिम्मा  का यह फोटो सीधा और अच्छा सन्देश दे रहा है कि ये युवा स्ट्रीट पर अपना संगीत पेश कर रहे हैं। यदि कोई इनके  संगीत से खुश है  तो  संगीत की प्रशंशा में कुछ आर्थिक मदद कर सकता है । शायद  इन्हें भिखारी की तरह देखना अनुचित होगा। सारे यूरोप के शहरों में यह आम बात है। टिम्मा का मानना है कि  यदि भिखारी न कहकर यदि हम इन्हें होनहार युवा कहें तो बेहतर होगा। इस फोटो को देखकर ताज सिटी में भी स्ट्रीट म्यूजिक शुरु करने के विचार सामने
आये हैं। जिससे स्थानीय आर्टिस्ट अपनी प्रतिभा सामने ला सकें। ऑस्ट्रिया की  2 छोटी खूबसूरत बच्चियों 3 वर्षीय निकोल व 4 वर्षीय फलौरेंस से दोस्ती का चित्र काफी भावुक है। जिसकी प्रशंसा सारे आगरे में की जा रही है। कुछ लोगों का कहना है कि लौटने पर यदि वह अपने यूरोपीय यात्रा  संस्मरण एक किताब के रूप में प्रस्तुत करें तो बेहतर होगा।