May 26, 2019

भारत में विदेशी फिल्मकारों को वित्तीय प्रोत्साहन सहायता

( जॉन बैले )
नई दिल्ली -सहयोग की संभावनाएं तलाशने की एक प्रमुख पहल के रूप में, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स ऑर्ट्स एंड साइंसेज के अध्यक्ष श्री जॉन बैले के साथ 28 मई को नई दिल्ली के सिरी फोर्ट में विशेष संवादमूलक सत्र का आयोजन करेगा।
यह संवादमूलक सत्र न केवल ऑस्कर के विचार संचालन में अंतरदृष्टि डालेगा बल्कि कार्यक्रम में शामिल होने वाले प्रमुख हितधारकों के लिए जानकारी वर्धक भी होगा। यह न केवल अत्याधुनिक फिल्मांकन तकनीकों के शिल्प के पीछे की बारीक परतों पर प्रकाश डालेगा बल्कि विश्व स्तरीय कंटेंट सृजित करने को लेकर हितधारकों के बीच एक समझ का विकास करने में में भी सहायता करेगा।

श्री बैले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव श्री अमित खरे के साथ परस्पर बातचीत भी करेंगे। यह बातचीत मंत्रालय के लिए भारत में विदेशी फिल्मकारों को दी जाने वाली वित्तीय प्रोत्साहन सहायता, फिल्म प्रमाणन कार्यालय के तहत वेब पोर्टल के जरिए भारत में फिल्मांकन के लिए सिंगल विंडो सहायता तंत्र, फिल्मों के सह-निर्माण के वित्त पोषण एवं दुनियाभर में छोटे शहरों में एकल स्क्रीन थिएटर पर और प्रकाश डालेगी।
भारत के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) के 47वें संस्करण में विश्व विख्यात सिनोमेटोग्राफर श्री रोबॉर्ट योमैन एवं एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स ऑर्ट्स एंड साइंसेज के विख्यात फिल्म संपादक श्री एलन हेम ने अपने संबंधित क्षेत्रों में मास्टर क्लास आयोजित की थी। यह संवाद मूलक सत्र समारोह के दायरे  को और अधिक बढ़ाने तथा आईएफएफआई के स्वर्ण जयंती संस्करण, जिसका आयोजन नवम्बर 2019 में गोवा में किया जाएगा, के लिए एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर्स ऑर्ट्स एंड साइंसेज के साथ सहयोग की संभावनाएं तलाशने का अवसर भी प्रस्तुत करता है।