March 5, 2019

अंतराष्‍ट्रीय ख्‍याति‍ का चार दि‍वसीय आयोजन ' टेककृति‍ ' 7 मार्च से कानपुर में

--आयोजन के 'टेकक्रूज ' इवेंट में देश भर से कई हजार स्‍टूडैंट्स की रहेगी भागीदारी 
'टेककृति‍ 2019' , आई आई टी कानपुर
कानपुर: इंडि‍यन इंस्‍टीट्यूट आफ टैक्‍नेलाजी ,कानपुर के द्वारा  परंपरागत रूप से आयोजि‍त होने वाले  ' टेककृति ' इस वर्ष  भी 7 से 10 मार्च के बीच आयोजन कि‍या जा रहा है। तकनीकि‍ और वि‍ज्ञान क्षेत्र की नामचीन हिस्‍ति‍यों सहि‍त अन्‍य क्षेत्रों के वि‍शि‍ष्‍ठ जनो की भी इस अवसर पर बडी संख्‍या में मौजूदगी रहेगी।  
तकनीक एवं वि‍ज्ञान क्षेत्र के इस आयोजन शुरूआत 25 वर्ष पूर्व हुई थी और तभी से यह आपनी खास पहचान रखता आया है,वर्तमान में तो इसे तकनीकि  क्षेत्र में एशि‍याई स्‍तार के  एक वि‍शि‍ष्‍ट आयोजन के रूप में स्‍वीकारा जाता है।।   गतवर्ष के 24 वें संस्‍करण के आयोजन में  फि‍जि‍क्‍स में नोवि‍ल पुरुस्‍कार से सम्‍मानि‍त पीटर ग्रुनबर्ग   सहि‍त जॉन सी। माथेर (भौतिकी में नोबेल पुरस्कार), एल्विन ईरोथ (अर्थशास्त्र में नोबेल पुरस्कार), एंथनी लेगेट (भौतिकी में नोबेल पुरस्कार) जैसी हस्‍ति‍यां 
सहभागी थे । आयोजन के पूर्व संस्‍करणों में डॉ लिंडन इवांस (निदेशक, सर्न), डॉ जॉर्ज चाम (रोबोटिक और कार्टूनिस्ट), डॉ। वाल्टर लेविन (एस्ट्रोफिजिसिस्ट, एमआईटी), मार्शल स्ट्रैबाला (बुर्ज खलीफा के वास्तुकार), डॉ केसी निकोलाउ (वुल्फ प्राइज विनर, केमिस्ट्री) लेफ्टिनेंट डॉ एपीजे अब्दुल कलाम (भारत के पूर्व माननीय राष्ट्रपति), डॉ। हामिद करजई (अफ़गानिस्तान के पूर्व माननीय राष्ट्रपति) और इतने अधिक, देश के हर कोने से सबसे विविध प्रतिनिधित्व के साथ अपने गहन ज्ञान और अनुभवों को साझा करते हैं। टेककृती को सोनू निगम (प्लेबैक सिंगर), विली विलियम्स (फ्रेंच डीजे, रिकॉर्ड प्रोड्यूसर),फॉल (फिनिश रॉक बैंड), फरहान अख्तर (निर्देशक, निर्माता, अभिनेता, पटकथा लेखक), बिस्वा कल्याण रथ (स्टैंड अप कॉमेडियन), पीयूष मिश्रा (अभिनेता, संगीत निर्देशक, गायक) जैसी अपने अपने क्षेत्रों की नामचीन हस्‍ति‍यां अपनी मौजूदगी दर्ज करवा चुकी हैं।
आयोजन के  दि‍वसों में दक्षता प्रदर्शन संबधी कुछ ईवेंटों के आयोजन भी भी परंपरा  है। इनमें से  'टैक क्रूज ‍ ओपि‍न स्‍कूल चैम्‍पि‍यान शि‍प 'खास लोकप्रि‍य है। इस बार इसका पांचवां संस्‍करण होंना है। यह देश के 21 शहरों में आयोजित 9 वीं -12 वीं कक्षाओं के लिए एक योग्यता और तार्किक आधारित परीक्षा है।  छात्रों और छात्राओं की समझ व बौद्धि‍कता को बढ़ाने के लिए वार्ता और पेशेवर तकनीकी कार्यशालाएं भी इसका भाग होती हैं।टेककृति  की छत्रछाया के तहत एक और सबवेवेंट, टेक्नोक्रूज़ भी होता है। यह टेककृति‍ का प्री-फेस्टिवल जोनल राउंड इवेंट है, जिसमें कुछ प्रमुख प्रतियोगिताओं की प्रारंभिक राउंड शामिल हैं । प्रतिभागियों के उत्साह को प्रोत्साहित करने के लिए। टेक्नोक्रूज़ भारत के सभी प्रमुख शहरों को कवर करता है और इस प्रकार राष्ट्र की संपूर्ण ऊँचाई और चौड़ाई का विस्तार करता है। पिछले साल हमने पूरे भारत में लगभग 300 कॉलेजों की कार्यशालाओं और कार्यक्रमों में 8,500 से अधिक की भागीदारी रही थी, इस साल यह संक्ष्‍या और अधि‍क रहना अनुमानि‍त है। (सुश्री जाह्नवी तोमर , आई आई टी कानपुर के आलेख पर आधारि‍त)