January 2, 2019

जाड़े में नि‍राश्रयों का सम्‍मानजनक आश्रय 'श्रीनाथ जलसेवा रैन बसेरे'

समाज सेवाक्षेत्र में आगरा की पहचान बांकेलालजी को 'सेवा पुरुष' खि‍ताब नवाजा

महेश्‍वरी सेवा संस्‍थान की सदस्‍याओं ने बांटे कम्‍बल।
                                            -- फोटो असलम सलीमी

आगरा:ताज सि‍टी में जहां होटलों में नये साल का जश्‍न मनाने बडी संख्‍या में महानगर का अभि‍जात वर्ग जुटा वहीं सर्द हवाओं के बीच ठि‍ठुरते  एक हजार से ज्‍यादा आश्रयहीनों ने नये वर्ष के रूप मे 2019 का अपने अपने अंदाज में स्‍वागत कि‍या।इनमें से अधि‍कांश वे थे जि‍न्‍हें न तो बीते दि‍नों में कुछ खास उपलब्‍धि वाला था और नहीं शुरू हो चुके नये साल का ही जिंदगी की हकीकतों के लि‍ये कोई खास मायने है।  
श्रीनाथ जल सेवा के द्वारा शीत काल में महानगर में एक दर्जन रैनब सेरों को संचालि‍त कि‍या
जाता है। महेश्‍वरी सेवा संस्‍थान ,आगरा के तत्‍वावधान में मंगलवार को राजामंडी स्‍टेशन पर रजायी ,गद्दा, कम्‍बल आदि‍ की व्‍यवस्‍था के साथ वर्ष 2019 के पहले रैन बसेरे का उद्घाटन हुआ। उदघाटनकर्ता श्री महेन्‍द्र डागा ने कहा कि‍ यह पुनीत कार्य है, ठंड के आगे वैसे तो सभी मजबूर होते हैं कि‍न्‍तु आश्रयहीनों के समक्ष तो रात का एक एक पल चुनौती भरा होता है।
कार्यक्रम की अध्‍यक्षता आगरा कॉलेज के प्राचार्य डा. वि‍नोद महेश्‍वरी ने की जबकि‍ मुख्‍याति‍थि‍ श्री श्‍याम वि‍हारी चांडक , श्रीमती रजनीश बाहेनी, वि‍शि‍ष्‍ठ अति‍थि‍ श्री वि‍श्‍न लड्डा, ज्ञान प्रकाश काहाल्‍या श्रीमती हेमलता गांधी, श्रीमती कामना गांधी मेघा डागा, कुसुम सांवल, आसि‍त चांडक, आदि‍त्‍य टावरी आदि‍ शामि‍ल थे। रैनबसेरा आयोजन में  श्री महेश्‍वरी महि‍ला मंडल और महेश्‍वरी युवामंडल भी सहभागी हैं। 
-- इमरजैंसी पर रात्रि‍कालीन आश्रय सेवा
पूर्व में इस श्रंखला का एक  रैन बसेरा एस एन मैडीकल कॉलेज की एम जी रोड स्‍थि‍त इमरजैंसी में शुरू हुआ था।
 इमरजैंसी के परि‍सर में शुरू कि‍ये गये इस रैनबसेरे में सौ व्‍यक्‍ति‍यों के रात गुजारने की व्‍यवस्‍था श्रीनाथ जलसेवा की इस सुवि‍धा में है।रहवासि‍यों को गर्म कंबल भी उपलब्‍ध करवाये जाते हैं।
                                                                 ' सेवा पुरुष ' 
---------------
आगरा कॉलेज के प्राचार्य डा वि‍नोद महेश्‍वरी,संदेश जैन,
 हैल्‍पि‍ंग हैंड की सुश्रीी सुुुुमन सुुराना ने दि‍या सहयोग। 
 डा वि‍नोद महेश्‍वरी श्रीनाथ जल सेवा के रैनबसेरा प्रकल्‍प के 'साईलैंट आब्‍जवर ' और श्री बांकेलाल जी के भारी प्रशंसक हैं, ने इस रैनबसेरे के उद्घाटन अवसर पर मुख्‍याति‍थि के रूप में वोलते हुए  कहा था कि‍  श्री बांके लाल जी महानगर में सेवा के पर्याय हैं। ग्रीष्‍मकाल में प्‍याऊओं के सुचारू संचालन के लि‍ये 'आगरा के जलपुरुष ' के रूप में अपनी पहचान रखने वाले श्री बांके लाल जीअब 'सेवा क्षेत्र' के लि‍ये   आगरा की पहचान बनचुके हैं। डा महेश्‍वरी ने उन्‍हें 'सेवा पुरुष ' के खि‍ताब से नवाज कर सेवाभावि‍यों और जनता का प्रति‍नि‍धि‍त्‍व करने वालों से अपेक्षा की कि श्री बांकेलाल जी की सेवाओं को शासन से भी मान्‍यता प्रदान करवाने के लि‍ये प्रयास करेंगे ।उन्‍होंने कहा कि प्रेरक व्‍यक्‍ति‍त्‍व के धनी समाज की धरोहर होते हैं। उनके कृति‍त्‍व को सम्‍मान प्रदान करना सभ्‍य समाज का दायि‍त्‍व होता है। 
हैल्‍पिंग हैंड फाऊंडेशन
 हैल्‍पिंग हैंड फाऊंडेश की चेयरपस्रन सुश्री सुमन सुराना ने कहा कि‍ रैनबसेरा के कार्यक्रम में सहयोगी बनकर उन्‍हें सुखद अनुभूति‍ हुई है। उनका संगठन स्‍वयं भी इसी प्रकार के प्रयासों में सक्रि‍य रहता हैं।  उन्‍होंने आगे भी प्रयासों में सहभागी रहने को अध्‍यवस्‍त कि‍या।
समाज सेवी हरीश सक्‍सेना 'चि‍मटी' ने कहा कि‍ श्री बांकेलाल जी ने जो रास्‍तादि‍खाया है, उसकी प्रेरणा से आगरा ही नहीं कई दूसरे शहरों में भी प्‍याऊओं का सि‍लसि‍ला शुरू हो चुका है। ग्रीष्‍मकाल में रेलवे स्‍टेशानों पर भी इसे पुन: शुरू करवाना चाहि‍ये। 
भारतीय जनता पार्टी के नगर महामंत्री ,समाज सेवी हेमन्‍त भोजवानी शांति‍ दूत बंटी ग्रोवर अशोक राठी ,कुलदीप सक्‍सेना,वि‍जय कुमार सिह, वि‍पि‍न कुमार अग्रवाल, वि‍नोद कुमार गोयल,सुश्री सोनल महेश्‍वरी,वि‍जय बाबू इंदौर असलम सलीमी आदि‍ इस अवसर पर मौजूद रहे।कार्यक्रम का संचालन आगरा वि‍कास मंच के श्री संदेशजैन के द्वारा कि‍या गया।
इस अवसर पर तमाम जरुरत मन्‍दों को कंबलो का वि‍तरण भी कि‍या गया।