December 1, 2018

आगरा के लोगों ने एयरपोर्ट की मांग के लिए थामा सत्‍याग्रह का हथियार

जनचर्चा का केन्‍द्र रहा सि‍वि‍ल सोसायटी आगरा का शहीद स्‍मारक
में दि‍या धरना।                                     फोटो :असलम सलीमी

आगरा । आगरा मेंं सिविल एयरपोर्ट मांग के संघर्ष  की कड़ी में सि‍वि‍ल सोसायटी  द्वारा  सत्‍याग्रह किया गया। छै  घंटे चले इस सत्‍याग्रह में   जनसमूह ने भारत सरकार और प्रदेश सरकार के द्वारा आगरा की एयर कनैक्‍टि‍वि‍टी की आवश्यकता  को  नजर अंदाज कि‍ये जाने पर आश्‍चर्य जताया तथा इसके लि‍ये कि‍ये जाने वाले कि‍सी भी प्रयास के साथ एक जुटता जतायी। पं दीन दयाल सि‍वि‍ल एन्‍कलेव की वायुसेना के परि‍सर से धनौली गांव में शि‍फ्ट करने की योजना के कार्य को  शुरू करवाना , सि‍वि‍ल एन्‍कलेव के लि‍ये.......
अधि‍ग्रहि‍त जमीन को तत्‍काल एयरपोर्ट अथार्टी को हस्‍तारि‍त करना आदि‍ जैसे खास मुद्दों को उठाया गया । वक्‍ताओं  ने कहा कि‍ सि‍वि‍ल एन्‍कलेव के लि‍येअनेक कि‍सान अपनी जमीन स्‍वैच्‍छि‍क रूप से देने की पेशकश कर रहे हैं , सरकार को उनके प्रस्ताव  पर गंभीरता पूर्वक वि‍चार करना चाहि‍ये।
आगरा के टूरि‍जम उद्योग, मैडीकल टूरि‍ज्‍म, कांफ्रेंस हब होने का उल्‍लेख करते हुए मांग की गई कि  सरकार की आगरा द्वारा एयर कनैक्‍टि‍वि‍टी की जरूरत को नजर अंदाज करने का   रवैया छोड़े ।
केन्‍द्रीय मंत्री महेश शर्मा की वक्‍ताओं के द्वारा कडे शब्‍दों में आलोचना की गयी तथा कहा गया कि‍ एक ओर तो पं दीन दयाल उपाध्‍याय के आदर्शों की बात की जाती है, वहीं दूसरी ओर केन्‍द्रीय मंत्री के रूप में डा महेश शर्मा अपने प्रभाव का इस्‍तेमाल कर उ प्र के वि‍कास का संतुलन बि‍गाड चुके हैं। केवल इन्‍हीं की वजह वसे आगरा में कोयी भी बडी योजना लायी नहीं जा सकी। आगरा के एति‍हासि‍क स्‍मारक जि‍नमें ताजमहल भी शामि‍ल है , की दूरी आम पर्यटक से लगातार बढी है।

सोसायटी के जर्नरल सैकेट्री अनि‍ल शर्मा ने सभा स्‍थल पर बार बार पूछे जाने पर सोसायटी की ओर से बताया  कि‍ सत्‍याग्रह स्‍थल पर एल ई डी लगाकर भाजपा के स्‍टार प्रचारक के रूप में श्री नरेन्‍द्र मोदी के द्वारा  दि‍ये गये उस भाषण के पुर्नप्रसारण की समुचि‍त व्‍यवस्‍था कर ली गयी थी जि‍समें उन्‍होंने खुद पूरी ताकत से आगरा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट को बनाये जाने की जरूरत को स्‍वीकारा था।  कि‍न्‍तु प्रशासन के द्वारा इसकी अनुमति‍ नहीं दी गयी साथ ही आग्रह कि‍या गया कि‍ जनहि‍त में इसे प्रसारि‍त न करें।इसे स्‍वीकार कर लि‍या। श्री शर्मा ने कहा कि‍ श्री मोदी का यह भाषण यू टयूब सहि‍त कई इंटरनेशनल स्‍टैाडर्ड के  चैनलों पर मौजूद है। जो जि‍ज्ञासू होगे सि‍वि‍ल सोसाइटी उन्‍हें सोशल मीडि‍या पर मौजूद इस भाषण का लि‍ंक उपलब्‍ध करवा देगी।