October 22, 2017

आगरा के पर्यटन उद्योग को लेकर और गंभीर हुई सरकार


उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा
आगरा और  इसके आस पास के क्षेत्रों को  विकसित करके, आगरा में आने वाले पर्यटकों को आगरा में ही रात्रि विश्राम करने के लिए प्रेरित किया जायेगा, जिसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा  कछपुरा एवं महताव बाग हेतु 22 करोड़, ताजमहल से आगरा फोर्ट क्षेत्र हेतु 22.58 करोड़ रूपये विजनेस सेन्टर एवं शिल्पग्राम पार्किंग हेतु 105 करोड़ तथा म्युजियम हेतु 141 करोड़ रूपये खर्ज किये जा रहे है जिससे आगरा का स्वरूप उच्च स्तर का बने और पर्यटक यहां विश्राम करने लगे। उन्होंने बताया कि आगरा के लिए 150 करोड़ की परियोजनाओं को संचालित किया जा रहा है।
     यह विचार प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने सर्किट हाउस में प्रेस प्रतिनिधियों से मुलाकात करते समय व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का मकसद है कि प्रदेश में पूॅजी निवेश को बढ़ाया जाय। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार धार्मिक पर्यटन स्थलों को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत है, इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए अयोध्या में 133 करोड़ की योजनाओं को मुख्यमंत्री जी ने प्रारम्भ कराया है। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में व्यापार बढ़ेगा तो जनता को नये रोजगार के अवसर प्राप्त होगें।
 
     उन्होंने बताया कि प्रदेश की पर्यटन से आमदनी 1.5 प्रतिशत थी किन्तु उत्तराखण्ड अलग राज्य बन जाने के कारण यह आमदनी 0.5 से 1 प्रतिशत तक रह गई है।  प्रदेश सरकार की मंशा है पर्यटन उद्योग को बढ़ावा दिया जाय।
      मा0 उप मुख्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी धर्मो का, सभी क्षेत्रोें का, सभी सम्प्रदायों का ध्यान रखकर कार्य कर रही है। सरकार का उद्देश्य सबका साथ, सबका विकास, है। इसीलिए प्रदेश सरकार ने द्वारा बिना भेदभाव के 86 लाख, किसानों का ऋण मोचन किया तथा 37 लाख टन गेहॅू की खरीद की जा रही है। प्रदेश सरकार ने  गन्ना किसानों का 90 प्रतिशत भुगतान कर दिया गया है और जो शेष है उनका किया जा रहा है। सरकार सड़को का निर्माण कार्य करा रही है।