October 26, 2017

ताजमहल - योगी का डैमेज कंट्रोल ?


सीएम योगी आदित्यनाथ आज आगरा दौरे पर  आए  और इस  दौरान निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार  ताजमहल गए .  सीएम योगी ने  विदेशी सैलानियों के साथ  तस्वीरें भी खिंचवाईं.  उनका  आगरा में ये  दूसरा दौरा है, लेकिन इस बार दौरे का मुख्य  फोकस   ताजमहल था. राष्ट्रीय मीडिया  द्वारा इस दौरे को  ताज को लेकर हाल में राष्ट्रीय स्तर पर हुई बयानबाजी  से  पैदा हुए  विवाद का  डैमेज कंट्रोल भी माना जा रहा  है.यह भी उल्लेखनीय है कि हाल ही में  राज्य के  पर्यटन विभाग की पुस्तिका में ताजमहल को शामिल नहीं किए जाने को लेकर विवाद उठा था.

ताजमहल देखने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ताजमहल कब बना, क्यों बना हम इसकी तह में न जाएं। हम केवल यह ध्यान रखें कि यह भारतीय मजदूरों के खून पसीने से बना वास्तुकला का अद्भुत नमूना है.आगरा में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटकों की सुरक्षा और उन्हें दी जाने वाली सुविधाओं पर खास ध्यान देना होगा। सीएम बोले कि आगरा में रोज 40 से 50 हजार पर्यटक आते हैं। यदि हम पर्याप्त सुरक्षा उपलब्‍ध करा पाएं तो यह संख्या 3 लाख तक पहुंच जाएगी। उन्होंने ध्यान दिलाया कि  आगरा ही एक ऐसा जिला है जिसमें 5 वर्ल्ड हेरिटेज स्मारक हैं। राज्य सरकार  पर्यटन के लिहाज से आगरा का विकास  करना चाहती है  तो लोगों को पीड़ा हो रही है। मुख्यमंत्री ने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए कहा कि मेरे आगरा दौरे पर केवल वे ही लोग सवाल उठा रहे हैं, जिन्होंने खुद समाज को जाति के आधार पर बांट रखा है। सीएम ने आगरा में  250 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण भी किया।योगी  ने यह भी घोषणा की यदि सुप्रीम कोर्ट अनुमति देगा तो हम ताजमहल के पीछे यमुना में 350 करोड़ की लागत से रबर चैक डैम का निर्माण कराएंगे।