June 4, 2017

भारत में कूड़ा करकट के प्रबंधन के क्षेत्र में एक नई शुरुआत

दिल्ली और निकटवर्ती गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद में  ठोस कचरे के प्रबंधन के क्षेत्र में एक नया अध्याय जुड़ने जा रहा है। इसके अंतर्गत शहर के ठोस कचरे को स्रोत पर जैसे घरों, होटलों, रेस्त्राओं आदि में अलग-अलग किया जाएगा। गीले कचरे को हरित डिब्बों और सूखे कचरे को नीले डिब्बों में एकत्र किया जाएगा। 

शहरी विकास मंत्री श्री एम. वेंकैया नायडू  नई दिल्ली में कचरा पृथक्करण अभियान का शुभारंभ करेंगे, जिसके अंतर्गत दिल्ली के पांच निकायों सहित कुल नौ स्थानीय नगर निकाय शामिल होंगे।  नायडू राष्ट्रीय राजधानी में तालकटोरा इंडोर स्टेडियम से अलग-अलग कचरा एकत्र करने वाले वाहनों को झंडी दिखा कर रवाना करेंगे। वेंकैया नायडू कल इंदौर में भी ऐसी ही प्रणाली का उद्घाटन करेंगे। अन्य राज्यों में राज्यपालों और मुख्यमंत्रियों द्वारा इसी तरह की कवायद को अंजाम दिया जाएगा।स्वच्छ भारत शहरी मिशन के अंतर्गत अक्तूबर, 2019 तक घर घर जाकर ठोस कचरा एकत्र करने, उसे संयंत्र तक पहुंचाने और उसकी प्रोसेसिंग करने की व्यवस्था करने का लक्ष्य रखा गया है।