May 24, 2017

परिंदे फर्क नहीं करते मन्दिर – मस्जिद में

-- ताराशाह चि‍श्ती साबरी का उर्स संपन्न 

दरगाह मरकज साबरी सज्‍जादानशीं अलीशाह के आदि‍ के साथ
वालीवुड अदाकाराा ऋषि‍ता भ्‍ाट्ट । फोटो :असलम सलीमी

आगरा: दरगाह मरकज साबरी के सज्जाकदानशीं पीर अहलाज रमजान अली शाह  ने कहा है कि‍ इंसानों ने सबको बहुत कुछ सि‍खाया है ,तहजीब दी है कि‍न्तु  शायद सर्वधर्म संभाव सीखने के लि‍ये  परि‍न्दोंह से प्रेरणा लेनी होगी जो कि‍ कभी मस्जि ‍द पर तो कभी गि‍रजा या मन्दिव‍र पर जा बैठते हैं।वह हजरत ख्वाहजा शेख सैय्यद फति‍हउद्दीन बल्खीि अलमारूफ ताराशाह चि‍श्ती  साबरी के 418 वें पांच दि‍वसीय जश्नक –ए –उर्स और सर्वधर्म सम्मे लन आगरा क्लयब परि‍सर में स्थि
त दरगाह मरकज साबरी में जलसे को सम्बोकधि‍त कर रहे थे।उन्होंरने कहा कि‍ भारत भाई चारा और करुणा का संदेश देने वाली जमीं हे, अपनी इसी पहचान को बरकरार रखने के लि‍ये सतत प्रयासरत रहना चाहि‍ये। समाजवादी पार्टी के वरि‍ष्ठी नेता रईसुद्दीन कुरैशी ने कहा कि‍ आतंकवाद और भ्रष्टा।चार कैंसर है। राष्ट्री य महासचि‍व वि‍जय कुमार जैन ने फरमाया कि‍ अध्यारत्मर भारत की खास पहचान है, ऋषि‍यों,महात्माीओं और पीर आदि‍ इंसानि‍यत के सच्चेक खि‍दमतगार हैं ,वे समाज को सही रास्ता् दि‍खाते हैं। पूर्व में उर्स  गि‍लाफ शरीफ की परंपरागत रस्मर के साथ शुरू हुआ था, इस अवसर पर तबर्रूकात की जि‍यारत कराई गयी। दरगाह के सज्जांदानशीं पीर अहलाज रमजान अली शाह  , जो कि‍ अखि‍ल भारतीय सर्वधर्म साबरी राष्ट्री य एकता संगठन के अध्यहक्ष भी हैं की अगुवाइ  में सदर बाजार स्थिभ‍त उनके नि‍वास से हाजरीनों, जायरीनों व मुरीदेनों का जुलूस नि‍कला गया और आस्था  का प्रतीक मेहन्दीस डोरी बारगाह में पेश की गयी। 
पीर अहलाज रमजान अली शाह  ने दरगाह परि‍सर में एकत्रि‍त हाजरीनों को सम्बो धि‍त करते हुए कहा कि‍ पानी और दूध की तरह दोस्तीर होनी चाहि‍ये और इसे खत्मऔ करने वाले नीबू सरीखे तत्वोंद से परहेज करना चाहि‍ये। समाज में एकता ओर भाईचारा तरक्कीि और सुकून के लि‍ये सबसे अहम है।   उपस्थिन‍तों में उर्स कमेटी व अखि‍ल भारतीय सर्वधर्म साबरी एकता संगठन आदि‍ के सर्वश्री पीरजादा बुन्दून मि‍यां चि‍श्ती  साबरी, पीरजादा इमरान अली, पीरजादा कासि‍म अली, वि‍जय कुमार जैन(महासचि‍व दरगाह ) डा कृष्णतवीर सिंह कौशल, रईसुद्दीन कुरैशी,राजेश मि‍श्रा, कत्थ क नृत्यां गना जयंती माला,ऋषि‍ता भट्ट, रौशन शेख, मौसमी बनर्जीख्, अब्दु्ल रइ्रस खान, परम जीत सिंह, दि‍नेश बघेल, सैय्यद तनवीर, हाफि‍ज इस्लाखम कादरी, उमेश चन्देअल, आशीष, हेमन्तम, पुरुषोत्ततम, ,रमजान खान, सुधांशु कुलश्रेष्ठ  , सइ्रद खान, लतीफ खान, अफसाना बेगम,  मालती जैन, प्रि‍यांशी जैन, शबाना जहां, राजकुमारी, गुरुप्यादरी, अंजू सि‍ह, सीमा कुलश्रेष्ठत आदि‍ उपस्थिं‍त थे। भाजपा महानगर अध्याक्ष वि‍जय शि‍वहरे ने इस अवसर पर बारगाहे साबरी में अकीदत के फल पेश कि‍ये।