November 25, 2016

पॉँच सौ के नये नोट दो तरह के होने से बढ़ी उलझनें

बताया जा रहा है नये  500 सौ के  नोट दो तरह के होने से लोगों के दिमाग में उलझन पैदा हो गई है। कौन सा असली और कौन सा नकली नोट  है। रिज़र्व बैंक ने इसे प्रिटिंग डिफेक्ट बताया है। ये नए 500 रुपए के नए नोट बैंकों और एटीएम में  सिर्फ दो हफ्ते पूर्व ही आए हैं। इस तरह के  भ्रम से जालसाज़ी करने वाले लाभ ले सकते हैं ऐसा सोचना है विशेषज्ञों  का। रिज़र्व बैंक का कहना है कि इस समय काफी काम का दबाब होने की वजह से प्रिटिंग में गलती हो सकती है। यदि जनता में ज्यादा भ्रम और डर बढ़ता गया तो इसका नाजायज फायदा नकली नोट चलाने वाले उठा सकते हैं। डर यह है  बाजार में असली नोट  के दो  रूप होने से  तीसरे या नकली रूप को लोगों को पहचानने में बहुत मुश्किल होगा।