May 18, 2015

एन डी ति‍वारी के पुत्र रोहि‍त शेखर शुरू कर सकते हैं सपा से अपनी राजनैति‍क पारी

--अखि‍लेश अपने पि‍ता के मि‍त्र के रूप में एन डी के प्रति‍ रखते है ‘साफ्ट ‘कार्नर


पूर्व मुख्‍यमंत्री एन डी ति‍वारी अपने परि‍वार के साथ  सपा मुखि‍या
मुलायम सि‍ह यादव के साथ: फायल फोटो 
आगरा, पूर्व मुख्‍यमंत्री एवं वरि‍ष्‍ठ राजनीति‍ज्ञ नारायादत्‍त ति‍वारी एन डी ति‍वारी अपने पुत्र रोहि‍त शेखर को उत्‍तर प्रदेश वि‍धान परि‍षद के माध्‍यम से राजनीति‍ में प्रवेश करवाने के उत्‍सुक हैं। प्राप्‍त जानकारी के अनुसार समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष श्री  मुलायम सि‍ह यादव से उनकी इस...
सम्‍बन्‍ध में मुलाकात भी हुई है।श्री ति‍वारी का प्रयास पूर्व में उत्‍तराखंड से रोहि‍त को राजनीति‍ में लाने का था कि‍न्‍तु कांग्रेस में रोहि‍त को लेकर उनके भावनात्‍मक काराणों को समझने की कि‍सी को भी फुर्सत नहीं थी। उल्‍टे रोहि‍त और उन्‍हे लेकर रही पुरानी अखबारी सुर्खि‍यों को फि‍र से हवा दि‍ये जाने की जोर अजमाइश शुरू
हा गयी। कि‍न्‍तु शायद यू पी में ऐसा नहीं है।यहां के मुखि‍या श्री अखि‍लेश यादव श्री ति‍वारी का तो अपने पि‍ता के मि‍त्र के रूप मेंं स्‍वागत करते ही हैं साथ ही रोहि‍त शेखर की जीवन के मूल्‍यों के प्रति‍ रही संघर्श की गाथा से भी भलीभांति‍ परि‍चि‍त हैं। समझा जाता है कि‍ श्री ति‍वारी और उनकी पत्‍नी श्रीमती उज्‍वला ति‍वारी (शर्मा) की रोहि‍त को साथ लेकर श्री ति‍वारी से मुलाकात हो चुकी है।

वरि‍ष्‍इ पत्रकार एवं आगरा से प्रकाशि‍त एक प्रमुख समाचार पत्र के संपादक आर बी सि‍ह यादव का मानना है कि‍ रोहि‍त अपनी राजनैति‍क महत्‍वकांक्षा पूरी करने के लि‍ये समाजवादी पार्टी का दामन पकड सकते हैं।यही नहीं वि‍धान परि‍षद की नामि‍त सदस्‍यों की जारी होने वाली सूची में उनका नाम भी हो सकता है।रोहि‍त कांग्रेसी नेता के पुत्र जरूरहै कि‍न्‍तु खुद कांग्रेसी नहीं इस लि‍ये कि‍सी को कुछ खास कहने को भी नहीं बचता। वैसे भी सपा पूर्व राजनीति‍ज्ञो के परि‍जनों का सबसे सुरक्षि‍त संरक्षणग्रह साबि‍त रही है।पूर्व प्रधानमंत्री स्‍व चन्‍द्र शेखर के पुत्र नीरज चन्‍द्र शेखर को पार्टी ने उनकी हार के बावजूद राजनीति‍ में बनाये रखने के लि‍ये राज्‍य सभा में भेजने में भी  संकोच नहीं कि‍या जबकि‍ कई बडे कद्दावर सामजवादी इस सीट के लि‍ये अपने को दावेदार माने बैठे थे।