May 21, 2015

यमुना एक्सरप्रेस वे वायू सेना के लि‍ये भी उपयोगी

--कामयाबी के साथ हुयी ‘मि‍राज 2000’ की ‘मॉक फोर्स लैंडि‍ग’

--अब कई और राजमार्गों पर होगा इसी प्रकार का परीक्षण
(यमुना एक्‍सप्रेस वे पर वायू सेना के मि‍राज 2000 ने मॉक
ड्रि‍ल के तहत लैंडि‍ग के बाद कि‍या टेक आफ')

आगरा, भारतीय वायुसेना आगरा,के द्वारा सि‍वि‍ल उपयायोग को बनाये गये एक्‍सप्रेस वे का आने वाले वक्‍त में सैनि‍क उपयोग होना संभव हो गयाहै। इसकी शुरूआत गुरवार से हो गयी।फ्रांस में नि‍र्मि‍त मि‍राज वायू यान ने दि‍ल्‍ली आगरा एक्‍स्रप्रस वे पर न केवल कामयाबी के साथ लैंडि‍ंग की अपि‍त टेकआफ भी कि‍या। -एयर फील्‍ड को एयर स्‍ट्रि‍प से टचिग की यह एक्‍सरसाइज थी।आगे से आपतकाल स्‍थि‍ति‍ में एयर आप्रेशनों में इसका उपयोग कि‍या जा सकना संभव है।जहां यमुना एक्‍सप्रेस वे पर यह एक्‍सरसाइज हो चुकी है वहीं लखनऊ आगरा एक्‍सप्रेस वे का मैनपुरी जनपद में पडने वाले 3 कि‍ मी भाग को तो बनाया जाना ही इसी जरूरत को दृष्‍टि‍गत है।सूत्रों से प्राप्‍त जानकारी के अनुसार यमुना एक्‍सप्रेस वे पूर्व से ही मि‍लि‍ट्री मूवमेट के लि‍ये चि‍न्‍ि‍त है।हि‍डन और खेरि‍या एयरपोर्ट के बीच आसन कनैक्‍टवि‍टी संभव कि‍ये जाने से इसकी खास उपयोगि‍ता मानी जा चुकी है।इस माक ड्रि‍ल के लि‍ये यमुना एक्‍सप्रेस वे का ट्रैफि‍क चार घंटे से कुछ अधि‍क समय तक प्रभावि‍त रहा।