May 17, 2015

मानसून के तत्काल बाद बि‍हार में चुनाव

--जनता दल परि‍वार की भाजपा से सीधी टक्‍कर संभावि‍त

--धन बल और बहुबल पर चुनाव आयोग रखेगा कडी नजर

(तैयार हैं कुर्सी के सभी बडे खि‍लाडी)
नई दिल्ली: बि‍हार वि‍धान सभा का चुनाव मानसून के तत्‍काल बाद होगा सि‍तम्‍बर और अक्‍टूबर महीने इसके लि‍ये प्रस्‍तावि‍त कि‍ये गये हैं। बिहार में नीतीश सरकार का कार्यकाल नवंबर में समाप्त हो रहा है। इसलिए चुनाव आयोग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। मुख्य चुनाव नसीम जैदी ने चुनाव संभावनाओं की पुष्‍टि‍ करते हुए कहा कि‍ चुनाव शिड्यूल 31 जुलाई तक तैयार कर लिया जाएगा। चुनाव सितंबर या अक्टूबर में कभी भी हो सकता है।
(खामोश: अब आयेगा मजा)
श्री जैदी के अनुसार  बिहार में स्वच्छ व भयमुक्त चुनाव कराने के लिए केंद्रीय बलों को तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को किसी भी सटीक चुनाव कार्यक्रम पर पहुंचने से पहले मौसम की स्थिति, त्यौहारों, परीक्षाओं, छुट्टियों, भारी मानसून, भारी बारिश, बाढ़ को ध्यान में रखना होगा।  
उल्‍लेखनीय  है कि पिछली बार 2010 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा और जदयू ने मिलकर चुनाव लड़ा था और
जदयू को 115 और भाजपा को 91 सीटें आईं थीं। वहीं राजद को 22, कांग्रेस को 4 और अन्य को 11 सीटों पर सफलता मिली थी। लेकिन लगभग डेढ़ वर्ष पहले लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी को आगे किए जाने से नाराज होकर जदयू ने भाजपा से रिश्ता तोड़ लिया था।जबकि‍ इस बार जनता दल परि‍वार और भाजपा के बीच सीधा मुकाबला होने की संभावना है।