May 8, 2015

राम जन्मभूमि‍ पर मन्दिर बनाये जाने को 17 में से 15 पक्षो में सहमति‍

-- जन्मेजय शरण महाराज ने 2015 से नि‍र्माण शुरू होने की संभावना जतायी



(जन्‍मेजय शरण महाराज)
(राम की नगरी अयोध्‍या में प्रस्‍तावि‍त श्री राम मन्‍दि‍र)
लखनऊ: श्री रामजन्म भूमि मंदिर निर्माण ट्रस्‍ट  के अध्यक्ष जन्मेजय शरण महाराज ने कहा कि राम मनदि‍र नि‍र्माण के अहम मसले का समाधान 2017 तक नि‍कलआने की पूरी संभावना है। उन्‍होंने कहा कि‍ सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा सहित राम मन्‍दर नि‍र्माण और बाबरी मस्‍जि‍द प्रकरण में 17 पक्षकारों से समझौते की बात चल रही है। इनमें से 15 ने सहमति दे दी है।
जन्मेजय शरण महाराज ने बताया कि कोशि‍श है कि‍ मंदिर निर्माण शीघ्रता के साथ शुरू हो जाए। वह सीतामढ़ी के बनकट गांव में श्री रामजन्म भूमि मंदिर निर्माण न्यास के एक सदस्‍य के यहां आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने आये हुए थे। मंदिर निर्माण को लेकर 80 फीसदी बात बन गई है। सभी लोग अदालत का चक्कर छोड़कर शांति से मामले का निपटारा
चाहते हैं।
उन्होंने बताया कि मंदिर निर्माण के लिए संत समाज पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को सहमति‍ पत्र सौंप चुका है और सुलह-समझौते की बात से भी अवगत कराया गया है।एक प्रश्‍न के उत्‍तर में कहा कि‍ मुस्‍लि‍म कार्ड पर राजनीति‍ करने वाले हैदराबाद के  ओवैशी बंधुओं महत्‍व दि‍या जाना जरूरी नहीं समझते उनके अपने समुदाय के ही तमाम लोग उनके कडे वि‍रोधी हैं ,वह तो पहले से ही इन दोनों को राजनैति‍क मनचला मानते हैं।