September 19, 2017

आंग सां सू ची के आखिर दिल में क्या है, समझना कठिन

आंग सां सू ची के दिल में क्या है यह उनके बोलने से साफ नहीं होता है। सू ची ने कहा कि  राखिन भड़की हिंसा को शांत   करने के लिए  सरकार  सभी प्रयास कर रही है। उन्होंने म्यांमार के   राखिन राज्‍य में गड़बड़ी फैलाने वालों पर कानूनी कार्रवाई करने की घोषणा की। ठोस प्रमाण मिलने पर ही कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कानून का उल्‍लंघन करने वाले चाहें वह किसी   भी राजनीतिक गुट या धर्म या जाति के हों को नहीं बक्शा जायेगा। उन्होंने  विश्‍व समुदाय से समस्या को सुलझाने के लिए  म्यांमार को सहयोग देने की मांग की है। हिंसा के बाद पहली बार उन्होंने  राष्‍ट्र को सम्बोधित किया था। 

हुसैन की कुर्बानी का जज्बा इंसानि‍यत के हक में देखा जाये

बज्मे ए मैकश कांफ्रेंस मे भाईचारा बढाने को समर्पि‍त डि‍क्लैयरेशन भी हुआ जारी
मंचस्‍था हैं सै.अजमल अली शहा,डानसरीन बेगम आदि‍।

आगरा:जुल्मं के खि‍लाफ इंसानि‍यत के हक में हजरत ईमाम हुसैन का जज्बा  आज भी उतना ही प्रासंगि‍क है जि‍तना कि‍ उस समय था जबकि‍ उन्होंने कुर्बानी दी थी। यह कहना है पो.आजरमी दुख्त् सफवी का जो कि‍ बज्में ए मैकशके तत्‍वावधान में ग्रांड होटल सभागार में आयोजि‍त हजरत इमाम हुसैन का मानवता का संदेश’

September 18, 2017

आवारा पशुओं को जन सहयोग प्राप्त कर गोशालाओं में ले जाया जायेगा

लखनऊ। उत्तर  प्रदेश के सभी नगर आयुक्तों, नगर निगम को निर्देश दिये हैं कि सभी 16 नगर निगमों में एक अभियान चलाकर छुट्टा पशुओं को सड़क व अन्य सार्वजनिक स्थानों से पकड़कर निकायों द्वारा विकसित कान्हा उपवन अथवा इस कार्य के लिए विकसित गौशालाओं में रखा जाये। इस कार्य में निजी संस्थाओं द्वारा संचालित गौशालाओं का भी सहयोग प्राप्त किया जाये। 
विशेष सचिव एवं मिशन निदेशक स्वच्छ भारत अभियान उमेश प्रताप सिंह की ओर से समस्त नगर आयुक्तों को जारी दिशा-निर्देश में कहा है कि उ0प्र0 के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने नगर निगम क्षेत्रों में छुट्टा पशुओं के सड़क व सावर्जनिक स्थलों पर रहने की स्थिति पर अत्यन्त असंतोष प्रकट किया है और यह आदेश दिये हैं कि आवारा पशुओं को जन सहयोग प्राप्त करते हुए इन्हें गोशालाओं में रखा जाये तथा इनके रख-रखाव की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। 

1230 करोड़ की लागत से लखनऊ एयरपोर्ट में नये टर्मिनल भवन का निर्माण होगा

हवाई यात्रियों की बढ़ती संख्‍या को ध्‍यान में रखते हुए  लखनऊ, देवघर, राजकोट और इलाहाबाद हवाई अड्डों में विकास कार्य प्रारंभ किया जायेगा ।भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण हवाई अड्डों  की आधारभूत संरचना को बेहतर बनाएगा। एएआई 1230 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत से लखनऊ के चौधरी चरण सिंह हवाई अड्डे में नये एकीकृत या‍त्री टर्मिनल भवन का निर्माण करेगा। पिछले पांच वर्षों में इस हवाई अड्डे में यात्रियों की संख्‍या में लगातार वृद्धि हुई है। नया टर्मिनल भवन व्‍यस्‍ततम समय (पीक ऑवर) में 4000 यात्रियों और पूरे वर्ष के दौरान 6.35 मिलियन यात्रियों को सुविधा प्रदान करेगा।

एएआई झारखंड के देवघर में हवाई अड्डे को इस प्रकार विकसित करेगा कि यह सैन्‍य व असैन्‍य दोनों ही उद्देश्‍यों के लिए उपयोग किया जा सकेगा। असैन्‍य उपयोग के तहत यहां एयरबस 320 तथा सैन्‍य उपयोग के तहत