June 24, 2018

उ प्र में पांचवें स्थान पर रहा ताज सिटी स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में

स्वच्छ सर्वेक्षण 2018
स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में आगरा को उत्तर प्रदेश में  पांचवें स्थान पर रखा गया है। राष्ट्रीय  स्तर पर ताज सिटी को   2 9  नंबर पर स्थान मिला। वाराणसी ने प्रदेश में पहला  स्थान प्राप्त किया  किया।  इसके बाद गाजियाबाद, झांसी और कानपुर को स्थान मिला । प्रदेश की राजधानी  लखनऊ  छठे स्थान पर आगरा के पीछे रही ।आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार आगरा को स्वच्छता के मामले में 4,000 से 2,578.3 अंक दिए गए हैं,बताया नगर  आयुक्त अरुण प्रकाश ने। पिछले वर्ष के सर्वे में ताज सिटी   देश में 263 वां स्थान था।

भारत में मेट्रोकोच बनाकर 'मेक इन इंडिया' को बढ़ावा देना चाहती सरकार

मुंडका-बहादुरगढ़ मेट्रो 
दिल्ली व हरियाणा के लाखों लोगों के लिए रविवार का दिन खुशी की सौगात लाया. मुंडका-बहादुरगढ़ सिटी पार्क कॉरिडोर पर मेट्रो का परिचालन शुरू हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मुंडका बहादुरगढ़ सिटी पार्क कॉरिडोर पर मेट्रो परिचालन का उद्घाटन किया।इस नई मेट्रो लाइन की लंबाई 11.50 किलोमीटर है और इसमें इंद्रलोक से आगे बहादुरगढ़ तक सात स्टेशन होंगे. जिनमें 4 दिल्ली और तीन हरियाणा में हैं। दिल्ली में जो स्टेशन हैं उनमें मुंडका इंडस्ट्रियल एरिया, घेवरा, टिकरी कलां, टिकरी बॉर्डर हैं। वहीं हरियाणा में मॉडर्न इंडस्ट्रियल स्टेट, बस स्टैंड और सिटी पार्क हैं। इस रूट पर आज शाम चार बजे से यात्री सफर कर सकते हैं। इस अवसर पर हरियाणा के मुख्यमंत्री, केंद्रीय शहरी और आवास राज्यमंत्री

June 23, 2018

आगरा को बॉलीवुड तक पहुँचाने वाले राज बब्बर का जन्म दिन आज

बॉलीवुड से राजनीति तक  बब्बर 
आगरा में जन्मे  राज बब्बर 80 के दशक में  चमकते बॉलीवुड  स्टार  थे।  बब्बर ने 38 साल के करियर में अपनी फिल्मों से न केवल लोगों का मनोरंजन किया बल्कि वर्तमान  में वह कांग्रेस के महत्वपूर्ण  नेता भी हैं। राज बब्बर 23 जून को अपना जन्मदिन मनाते हैं। बब्बर ने  आगरा से अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा की। वह नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के 1 9 75 वर्ग के पूर्व छात्र रहे  हैं और आगरा कॉलेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त की है। एनएसडी नई दिल्ली में अपने प्रशिक्षण के बाद, वह मुंबई चले गए और उस समय के प्रसिद्ध अभिनेत्री रीना रॉय के साथ अपना फिल्म कैरियर शुरू किया। उन्होंने इंसाफ  का ताराज़ू फिल्म के लिए प्रसिद्धि प्राप्त की।1 9 8 9 में जनता दल  से

उ प्र के 1 9 जिलों के विकास के लिए एशियाई विकास बैंक निवेश योजना

(एशियाई विकास बैंक)
एशियाई विकास बैंक ने उत्तर प्रदेश के 1 9 जिलों के विकास के लिए 1.5 लाख करोड़ रुपये की  मेगा इंफ्रास्ट्रक्चर निवेश योजना प्रस्तुत की। इन जिलों में  जिलों में गौतम बुद्ध नगर (नोएडा), गाजियाबाद, मेरठ, सहारनपुर, अलीगढ़, आगरा, फिरोजाबाद, कानपुर, उन्नाव, लखनऊ, सोनभद्र, इलाहाबाद, वाराणसी, गोरखपुर, अमरोहा, बिजनौर, मोरादाबाद, झांसी और चित्रकूट के नाम  हैं।इस योजना में औद्योगिक पार्क बुनियादी ढांचे, शहरी विकास, बिजली, रसद, सड़क, रेलवे और हवाई अड्डे शामिल हैं।

June 22, 2018

महाराजा डायरेक्ट लॉन्च किया एयर इंडिया ने

नई दिल्ली। एयर इंडिया ने अपने व्यापार और प्रथम श्रेणी के यात्रियों के लिए एक नए अनुभव के लिए  'महाराजा डायरेक्ट' लॉन्च किया है। नागर उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने इस अवसर पर कहा नई योजना  के तहत  आने वाले वर्षों में एयर इंडिया  "चमत्कार" करेगा। इस अवसर पर नागर उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा कि हवाई यात्रा 'महाराजा डायरेक्ट' के साथ बेहतर और अधिक आरामदायक होगी ।वर्तमान में, एयर इंडिया के अंतरराष्ट्रीय मार्गों के बाजार में  17 प्रतिशत हिस्सेदारी है। 

यमुना नदी के साथ बसे शहरों का डाटाबेस तैयार किया जाएगा

यमुना नदी के तट पर बसे शहरों और गांवों का विस्‍तृत डाटाबेस तैयार करने की आवश्‍यकता पर बल दिया। हरियाणा में यमुना नदी के किनारे यमुना नगर, करनाल, पानीपत, सोनीपत तथा फरीदाबाद शहर बसे हैं।हरियाणा के लोक स्‍वास्‍थ्‍य इंजीनियरिंग विभाग द्वारा  यमुना और घग्‍गर नदी में गिरने वाले गंदे पानी के पाइप शोधन की समाप्ति पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें यमुना नदी में प्रदूषण पर विस्‍तृत चर्चा की गई। कार्यशाला में सीवेज शोधन के लिए नई टेक्‍नॉलोजी पर भी चर्चा की गई।

June 21, 2018

बीजेपी को हराने के लिए अखिलेश सबकुछ करने को तैयार

( सपा प्रमुख अखिलेश यादव )
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव आगामी चुनावों में  भाजपा को हारने के लिए चुनाव गठबंधनों के मज़बूत प्लान बना रहे हैं। कुछ दिनों पूर्व उन्होंने  इस बात के संकेत दिए थे कि वह छोटे दलों के साथ गठबंधन करेंगे। हालांकि लोकसभा चुनाव के लिए सपा और बसपा के बीच  गठबंधन की बात से भी  नहीं नाकारा जा सकता है। यदि यह  गठबंधन नहीं हो पाता है तो  अखिलेश यादव  छोटे दलों के साथ चुनाव  गठबंधन कर सकते हैं। यदि  सपा और बसपा के बीच गठबंधन होता है और इसमें छोटे दल शामिल होंगे और इन्हें समाजवादी पार्टी को अपने कोटे की सीटें देनी पड़ेंगी। किन्तु बीजेपी  को हराने के लिए अखिलेश यादव सबकुछ करने के  लिए  तैयार हैं।