August 5, 2020

साढ़े तीन साल में पूरा होगा राम मंदिर का निर्माण

अयोध्या। वैदिक भजनों के साथ  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर की नींव रखी। राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने घोषणा की कि 1989 में राम भक्तों ने मंदिर के निर्माण के लिए 2.75 लाख ईंटें दान की थीं। उन्होंने कहा, "हमने उनमें से 9 को चुना और आज नींव रखने के लिए इनका इस्तेमाल किया गया।"मंदिर का निर्माण साढ़े तीन  साल में पूरा हो जाएगा। मंदिर का  मूल डिजाइन 1988 में तैयार किया गया था लेकिन कोर्ट द्वारा हिंदुओं के पक्ष में फैसला सुनाए जाने के बाद इसे 2020 में बदल दिया गया।गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुग्राम के अस्पताल में अपने बिस्तर से इस कार्यक्रम  को देखा,  वह  वायरस के कारण पिछले सप्ताह से अस्पताल में  भर्ती हैं ।

आगरा सि‍वि‍ल एन्‍कलेव की वाऊंड्री नबबे प्रति‍शत पूरी, अब 'ग्रीनरी प्‍लान' क्रि‍यान्‍वि‍त हो

-- सि‍वि‍ल सोसायटी फारैस्‍ट डि‍पार्र्टमेंट और टी टी जैड अथार्टी को लि‍खेगी
वाऊंड्री बन गयी, अब कम से कम ग्रीनरी प्‍लान तो शुरू करें। (इन्‍सेट में )
सि‍वि‍ल सोसायटी आगरा के श्री अनि‍ल शर्मा,डा शि‍रोमणी सि‍ह,राजीव सक्‍सेना।

आगरा:पं. दीन दयाल उपाध्‍याय सि‍वि‍ल एन्‍कलेव , एयर फोर्स स्‍टेशन आगरा परि‍सर से शि‍फ्ट होना अब लगभग तय है। फतेहपुर सीकरी के सांसद श्री राजकुमार चाहर के द्वारा एयरपोर्ट अथार्टी और ताज ट्रि‍पेजि‍यम जोन अथार्टी को लि‍खे पत्र के बाद शि‍फ्टि‍ग को चि‍न्‍हि‍त जमीन पर वाऊंड्री बनाये जाने का काम 90 प्रति‍शत तक पूरा हो गया है। लॉक डाउन के दौरान भजे गये इस पत्र का असर हुआ और एयरपोर्ट अथार्टी के चेयरमैन ने उन्‍हें सफदर जंग स्‍थि‍त अपने कार्यालय में मि‍लने बुलाया था तथा बाऊंड्रीवाल का काम पूरा होते ही अगले चरण का काम शुरू करने को अश्‍वस्‍त कि‍या था। 
सांसद चाहर की पहल रंग लायी
इस मुलाकात के दौरान श्री चाहर ने

August 4, 2020

राम राज्य में पहले स्वाभिमान संघर्ष का प्रतीक अयोध्या का 'श्री धर्म हरि मंदिर'

-- कायस्थ समाज का प्रमुख  आस्था स्थल जहां राज ति‍लक के बाद राम खुद पहुंचे थे पूजा करने 
आस्‍था स्‍थल,जहां राजा राम ने स्‍वयं पहुंच कर 'स्‍वभि‍मान' भाव को दि‍या था आदर


(राजीव सक्सेना) -आगरा: अयोद्या में 'राम मन्‍दिर' बन रहा है, देश भर में खुशी और स्‍वगत का राम मय माहौल है। दि‍व्‍य क्षमताओं वाले मर्यादाओं का पालन करने वाले इस महान चरि‍त्र ने समाज को दि‍शा देने वाले जो आदर्श स्‍थापि‍त कि‍ये हैं ,वे न केवल सुस्‍थापि‍त हैं वरन्  आज भी प्रासंगि‍क हैं। राजकीय आयोजन में मेहमानों को नि‍मंत्रि‍त करने का  प्रोटोकोल के प्रति‍ सत्‍ता का संवेदनशील होना रामराज्‍य का पहला संदेश था। बात राममन्‍दि‍र के शि‍लान्‍यास के भव्‍य कार्यक्रम के अवसर पर पूर्व उप प्रधान मंत्री लाल कृष्‍ण आडवाणी या मुरली मनोहर जोशी सरीखे 'राम मन्‍दि‍र ' आंदोलन से जुडे दि‍ग्‍गगजो को कार्यक्रम में बुलाये जाने या न बुलाये जाने की नहीं ।त्रता युग में श्री राम के अयोद्या में हुए राजति‍लक समारोह के आमंत्रण को लेकर घटी

भारतीय रंगमंच के एक युग का अंत,इब्राहिम अलकाज़ी ने कहा अलविदा

आधुनिक भारतीय रंगमंच को उसका वर्तमान स्वरूप देने वाले  दिग्गज  इब्राहिम अलकाज़ी का  94 वर्ष की आयु में निधन हो गया।प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट संदेश में कहा, "श्री अब्राहिम अलकाज़ी को पूरे भारत में रंगमंच को अधिक लोकप्रिय और सुलभ बनाने के उनके प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। कला और संस्कृति की दुनिया में उनका योगदान भी उल्लेखनीय है। उनके निधन से काफी दुखी हूं। मेरी संवेदना उनके परिजनों और दोस्तों के साथ हैं। उनकी आत्मा को शांति मिले।” वे 1962 से 1977 तक राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (एनएसडी) के निदेशक रहे। ख़ुद जवाहरलाल नेहरू ने उन्हें राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय का निदेशक बनने का प्रस्ताव दिया था। एनएसडी का निदेशक बनने के बाद इब्राहिम अलकाज़ी ने आधुनिक भारतीय रंगमंच को उसका वर्तमान स्वरूप देने में, आधुनिकता

August 2, 2020

अमिताभ बच्चन ने अस्पताल से छुट्टी ली, कोविड नेगेटिव

बॉलीवुड स्टार अमिताभ बच्चन ने कहा कि उनका   कोविड -19 टेस्ट नेगेटिव निकला  है और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। 77 वर्षीय बॉलीवुड सुपर स्टार अमिताभ बच्चन ने 11 जुलाई को उन्होंने वायरस पोसिटिव होने की घोषणा की थी और अस्पताल में भर्ती  थे। उनके बेटे अभिषेक ने भी ट्विटर पर अपने पिता के नेगेटिव होने की खबर  एक अलग ट्वीट द्वारा दी। 

सरकार की कुनीतियों के कारण जनता मानसिक रूप से नाउम्मीदगी की शिकार - अखिलेश

सपा अध्य्क्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए अपने ट्वीट में  कहा कि कोरोनाकाल में न तो सीमाएं सुरक्षित हैं, न काम-कारोबार, रोज़गार. अर्थव्यवस्था व बैंक डूब रहे हैं, जमा राशि पर ब्याज घटता जा रहा है, PF से पैसे निकाले जा रहे हैं. लोगों ने अपने क़रीबियों को खोया है. भाजपाई सरकार की कुनीतियों के कारण जनता मानसिक रूप से नाउम्मीदगी की शिकार हो रही है।