13 मई 2022

करीब 50- 60 लाख उत्तर प्रदेशियों का घर है मुंबई में

 

योगी सरकार मुंबई में उतर प्रदेश का एक कार्यालय खोलने जा रही है ताकि  50- 60 लाख वहां रहने वाली उत्तर प्रदेश वासी अपने मूल राज्य से जुड़े रहें। उत्तर प्रदेश सरकार मुंबई में रहने वाले उत्तर प्रदेश के निवासियों को अपने मूल राज्य से जोड़ने और उनके हितों की रक्षा करने में सक्षम बनाने के लिए मुंबई में एक नया कार्यालय स्थापित करने जा रही है। उत्तर प्रदेश के लोगों ने मुंबई में उद्योग, सेवा क्षेत्र, खुदरा व्यापार, परिवहन और खाद्य व्यवसाय जैसे कई क्षेत्रों में विशेष  योगदान दिया है। प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर प्रदेश वासियों ने  मुंबई में उद्योग और स्टार्टअप के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय काम किया है। सूचना प्रौद्योगिकी, फिल्म, टेलीविजन, विनिर्माण, वित्त और खाद्य प्रसंस्करण जैसे उद्योगों में यूपी के उद्यमियों का बड़ा योगदान है। उन्होंने कहा  प्रस्तावित कार्यालय के माध्यम से मुंबई में रहने वाले प्रवासियों को उ प्र  में पर्यटन, संस्कृति और अन्य क्षेत्रों में निवेश की संभावनाओं से अवगत कराया जाएगा और उन्हें यहां उद्यम स्थापित करने के लिए प्रेरित भी किया जाएगा 

अरबपति एलोन मस्क ने ताजमहल की सुंदरता को याद किया

 

अरबपति एलोन मस्क ने सोमवार को अप्रत्याशित रूप से भारतीय स्मारकों के लिए अपना उत्साह व्यक्त किया। उन्होंने अपनी 2007 की भारत यात्रा पर ताजमहल को "वास्तव में दुनिया का एक आश्चर्य" कहा।

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति मस्क ने हिस्ट्री डिफाइंड ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट के जवाब में यह ट्वीट किया, जिसमें आगरा के लाल किले के "अविश्वसनीय पहलू विवरण" की प्रशंसा की गई थी।एलोन मस्क का जन्म 1971 में दक्षिण अफ्रीका के प्रिटोरिया में एक धनी परिवार में हुआ था। उनकी मां, माई, एक आहार विशेषज्ञ और मॉडल थीं, जो कनाडा से आई थीं, जबकि उनके पिता एरोल एक इंजीनियर थे।


10 मई 2022

पंडित शिवकुमार शर्मा ने संतूर को वैश्विक स्तर पर लोकप्रिय बनाया

 "पंडित शिवकुमार शर्मा जी के निधन से हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए बड़ी हानि है। उन्होंने वैश्विक स्तर पर संतूर को लोकप्रिय बनाया। उनका संगीत आने वाली पीढ़ियों को मंत्रमुग्ध करता रहेगा। मुझे उनके साथ अपनी बातचीत याद है। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना ओम शांति व्यक्त की प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट में।  पंडित जी का जन्म 13 जनवरी 1938 को बनारस घराने के महान गायक और संगीतकार - पंडित उमा दत्त शर्मा के घर जम्मू (ब्रिटिश भारत) में हुआ था।

संगीत प्रेमी उस्ताद पंडित शिव कुमार शर्मा का उल्लेख किए बिना संतूर के बारे में बात नहीं कर सकते, जिन्होंने इस वाद्य यंत्र को पेश किया और इसे हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत का एक प्रमुख हिस्सा बनाया। संतूर जिसे प्राचीन काल में 'शता तंत्री वीणा' के नाम से भी जाना जाता था, जम्मू-कश्मीर की खूबसूरत घाटियों में लोक संगीत का एक हिस्सा था, जिसने पंडित शिव कुमार शर्मा के प्रयासों से ही शास्त्रीय संगीत में अपनी जगह बनाई।

9 मई 2022

शासन में आईटी सिटी, सोलर सिटी, गारमेंट हैव, फूड प्रोसेसिंग योजनाओं के मुद्दे उठाये

 --  मुख्‍य सचिव के समक्ष औद्योगिक भूखंडों को लीज फ्री करने को भी रखी मांग

दुर्गा शंकर मिश्र
मुख्‍य सचिव उ प्र 

आगरा नेशनल चैंबर ने आगराप्रदेश के मुख्‍य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा है कि आगरा के  आर्थिक एवं औद्योगिक विकास से संबधित योजनाओं का क्रियान्‍वयन तेजी के साथ हो इसके लिये शासन पूरी तरह से गंभीर है। वह लखनऊ में लोक भवन स्‍थित नेशनल चैंबर आफ इंडस्‍ट्रीज ऐंड कामर्स यू पी आगरा के प्रतिनिधि मंडल से अपने लखनऊ स्‍थित कार्यालय में वार्ता कर रहे थे।श्री मिश्र चम्‍बर के अध्‍यक्ष शलभ शर्मा के द्वारा दिया गया ज्ञापन ग्रहण कर उसमें उल्‍लेखित कार्य और मांगों पर  शीघ्रता के साथ कार्यवाही करवाने को अश्‍वासन दिया। उन्‍होंने चैंबर प्रतिनिधियों से कहा कि जो मांग जिस विभाग

हाइड्रो इलेक्ट्रॉनिक इम्लाइज यूनियन का इलैक्‍शन

 -- आगरा इकाई के सलमान मजहर बने अध्‍यक्ष

सलमान मजहर

आगरा : हाइड्रो इलेक्ट्रॉनिक इम्लाइज यूनियन उत्तर प्रदेश आगरा की दक्षिणांचल कमेटी की मीटिंग में श्री सलमान मजहर को चालू वित्‍तीय वर्ष (2022-23) के लिये अध्‍यक्ष पद पर निर्वाचित कर लिया गया । जनपद स्‍तरीय कमेकमेटी के अन्‍य पदों जिला अध्यक्ष श्री राकेश पाल, जिला सचिव श्री धीरेंद्र सिंह, मंडल अध्यक्ष श्री नरेंद्र बघेल एवं श्री मनीषा माटा को चुना गया ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता संगठन के संरक्षक ठाकुर राजपाल सिंह ने की । कार्यक्रम में सर्वश्री भानु प्रताप सिंह , अमित बघेल ,अविनाश अम्बेश,श्री भूपेंद्र बघेल, राशिद खान ,श्री बालेंद्र मिश्रा ,श्री साबिर खान एवं अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।(फोटो:असलम सलीमी)

8 मई 2022

ई-ऑटो रिक्शा चालक भारतीय महिलायें शहरों में प्रदूषण से लड़ने के लिए प्रयासरत

 

प्रयाग - तबस्सुम बानो प्रयाग की पहली महिला ई-ऑटो रिक्शा चालक थीं। अपना ई-ऑटो रिक्शा शुरू करते समय उसने कहा, "मैं महिलाओं के प्रति लोगों का नजरिया बदलना चाहती हूं। हमारे समाज में तरह-तरह के लोग होते हैं। कुछ लोग मुझे अजीब तरह से घूरते हैं तो कुछ मेरी तारीफ और हौसला बढ़ाते हैं। मैं दिखाना चाहता हूं कि महिलाएं मजबूत हैं और चुनौतियों का सामना कर सकती हैं।" कई ई-ऑटो रिक्शा महिला ड्राइवरों  का कहना है अब  हम महिलाओं के सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण में भी योगदान दे रहे हैं और उन्हें एक ऐसे पेशे में प्रशिक्षित करके लिंग-समानता को बढ़ावा दे रहे हैं जिसे भारत में बड़े पैमाने पर पुरुष-विशिष्ट माना जाता है।वर्तमान में प्रयाग में कई महिलाएं ई-ऑटो रिक्शा चला रही हैं।

आगरा, गोरखपुर, वाराणसी और बरेली में आईटी पार्कों का निर्माण कार्य तीव्र प्रगति पर

 


आगरा। उत्तर प्रदेश को आईटी हब में बदलने के उद्देश्य से योगी सरकार ने प्रत्येक संभाग में सर्वोत्तम बुनियादी ढांचे के साथ एक आईटी पार्क स्थापित करेगी । वाराणसी,आगरा, गोरखपुर और बरेली में आईटी पार्कों का निर्माण कार्य पूरा होने  पर है जबकि कानपुर ,मेरठ, प्रयागराज  में आईटी पार्कों का विकास कार्य शुरू हो गया है। इन आईटी पार्कों में  सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी।  इससे राज्य में निवेश बढ़ने की संभावना है।आईटी एवं स्टार्टअप नीति-2017 के तहत अब तक उत्तर प्रदेश में 5,642.30 करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका है तथा 2017 से  अब  तक 43,780 लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं तथा  भविष्य में ये आईटी पार्क युवाओं के लिए रोजगार के और अधिक अवसर प्रदान करेंगे।


7 मई 2022

दिल्ली और बेंगलुरु में जल्द ही ड्रोन घर तक किराना पहुंचा सकेंगे

 

भारतीय ड्रोन निर्माता गरुड़ एयरोस्पेस चेन्नई, आम आदमी के उपयोग के लिए ड्रोन  निकालने जा रहा है। इन ड्रोन का उपयोग किराने की डिलीवरी ( ऐप-आधारित डिलीवरी सेवाओं द्वारा) की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए किया जाएगा। भारत की जानी  मानी 

फूड टेक और डिलीवरी कंपनी स्विगी ने हाल ही में यह घोषणा की थी कि गरुड़ के ड्रोन उन ड्रोनों में शामिल होंगे जिन्हें विक्रेता द्वारा संचालित स्टोर और ड्रॉप पॉइंट के बीच इन्वेंट्री को फिर से भरने के लिए उड़ाया जाएगा। इसके बाद ड्रोन उत्पादों को ग्राहकों के स्थान पर ले जाएगा।  शुरुआत में यह सर्विस  बेंगलुरु और  दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) क्षेत्रों  की जाने की उम्मीद है।

5 मई 2022

नीचा नगर फिल्म को 75 वर्ष पूर्व कान फिल्म समारोह में मिला था बड़ा पुरस्कार

 

चेतन आनंद की नीचा नगर ने 75 वर्ष पूर्व पहली बार भारतीय सिनेमा को वैश्विक मंच पर लाने का सौभाग्य पहुंचाया था जिसने फ्रांस के  कान फिल्म समारोह में भव्य पुरस्कार जीता था । नीचा नगर फिल्म समाज में अमीर और गरीब के बीच की खाई को अभिव्यक्तिवादी रूप  प्रस्तुत करती  है।इस महीने  17 से 28 मई के बीच विश्व प्रसिद्ध कान फिल्म महोत्सव आयोजित किया जा रहा है। भारतीय सिनेमा प्रेमी अपनी पसंदीदा फिल्मों और मशहूर हस्तियों की उपस्थिति की इसमें प्रतीक्षा करेंगे।

पिछले वर्ष , भारतीय  फिल्म निर्माता पायल कपाड़िया की फिल्म  'ए नाइट ऑफ नोइंग नथिंग 'ने सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र के लिए कैन  फिल्म फेस्टिवल में  गोल्डन आई पुरस्कार जीता था। इससे पूर्व  2013 में इरफान खान की  ' द लंचबॉक्स'  ने क्रिटिक्स वीक व्यूअर्स च्वाइस अवार्ड जीता, जिसे 2013 में ग्रैंड रेल द लौर  के रूप में भी जाना जाता है, जबकि निर्देशक मीरा नायर ने कैमरा द ओर   सर्वश्रेष्ठ पहली फीचर फिल्म एवार्ड जीता था। 1998 में 'सलाम बॉम्बे' ने  ऑडियंस पुरस्कार हांसिल किया  था। 

3 मई 2022

बेंगलुरु की सड़कों पर लम्बे समय से त्यागे वाहनों की सफाई का अभियान

 

बेंगलुरु ट्रैफिक पुलिस (बीटीपी) ने सड़कों और फुटपाथों पर लम्बे समय से छोड़े गए वाहनों को  हटाने का  अभियान शुरू कर  दिया  है।  यह  अभियान अन्य शहरों के लिए भी एक मॉडल होगा। इसके लिए बेंगलुरु महानगर पालिका ने ने 'सिल्ट एंड ट्रैक्टर' कार्यक्रम और 'फिक्स माई स्ट्रीट' एप्लिकेशन का उपयोग करके शहर में दृश्य परिवर्तन लाने का आव्हान किया है। आयुक्त गौरव गुप्ता ने यह भी कहा कि वे बीबीएमपी और पुलिस विभाग द्वारा संयुक्त सर्वेक्षण के बाद और मालिकों को सूचित करने के बाद कानून के अनुसार छोड़े गए वाहनों को हटाने से पुलिस विभाग पर बोझ कम होगा और शहर साफ सुन्दर दिखाई देगा।  

2 मई 2022

टिफिन सिस्टम से प्रेरित हो इको फ्रेंडली डिप-इन टिफिन बनाया भारतीय युवती ने

 

नई दिल्ली - भारत में अधिकांश लोग टिफिन लेकर स्कूल और ऑफिस जाते हैं। इको फ्रेंडली टेकअवे पैकेजिंग उत्पाद डिजाइनर सृष्टि गर्ग ने 'डिप-इन टिफिन' बनाया है, जो एक पर्यावरण के अनुकूल और चलते-फिरते पैकेजिंग समाधान है जो स्टैकेबल भारतीय टिफिन कैरियर से प्रेरित है। सृष्टि ने  टिफिन को एक पर्यावरण के अनुकूल डिजाइन का रूप दिया जो भोजन के परिवहन के उद्देश्य को पूरा करता है। उनका उद्देश्य रेस्तरां द्वारा सिंगल-यूज फूड पैकेजिंग को खत्म करना है। इस थ्री-टियर इको-फ्रेंडली डिज़ाइन को चुनने से, लोग न केवल अपने भोजन को प्राकृतिक पैकेजिंग में प्राप्त करेंगे, बल्कि उपयोग की गई सामग्री के कारण यह कम अपशिष्ट में भी योगदान देगा।


30 अप्रैल 2022

हेरिटेज वॉकर्स का बन रही हैं आकर्षण आगरा की पुरानी गालियाँ और मोहल्ले

 

आगरा शहर हेरिटेज वॉकर्स के लिए दिन प्रतिदिन आकर्षण बनता जा रहा है। आगरा में ताजमहल के अलावा और भी बहुत कुछ देखने को  है, यह अकसर सुना जाने लगा है टूरिस्टों के मुख से।  भारतीय तथा विदेशी टूरिस्ट  आगरा में एक दो दिन ज्यादा रूककर हेरिटेज वॉक करने के प्रति रुचिकर देखे गए  हैं। हेरिटेज वॉक द्वारा आगरा को जानने-समझने के लिए पर्यटक मुगल या औपनिवेशिक गंतव्यों को दिल भर कर आगरा की सकरी गलियों और मोहल्लों में देख सकते हैं।

मुगल वॉक में आप स्थापत्य कला के लिहाज़ से महत्वपूर्ण इमारतों और स्मारकों को देख सकते हैं। यहां की गलियों में घूमते हुए हस्तशिल्प के कारीगरों और नमूनो का जायजा ले सकते हैं। इस दौरान स्वागत के परंपरागत अंदाज़ को अनुभव करते हुए यहां की स्थानीय परंपराओं और लोक शैली के गीत-संगीत को भी समझ सकेंगे।

पर्यटन ग्राम कच्छपुरा मुगल विरासत भ्रमण का अवसर प्रदान करता है जो मुगल कालीन प्राकृतिक एवं ग्राम्य स्थापना को आज भी दर्शाता है । इस भ्रमण में दुर्लभ वास्तुकारिता विरासत के दृश्य है, जीवित परम्पराओं के