30 अक्तूबर 2021

प्लास्टिक समझौता शुरू करने वाला पहला एशियाई देश भारत

 


प्लास्टिक के लिए एक परिपत्र प्रणाली  प्रतिबद्धता बनाने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर प्रमुख व्यवसायों को एक साथ लाने के लिए एक नई पहल शुरू करते हुए, भारत  प्लास्टिक समझौता विकसित करने वाला पहला एशियाई देश है। यह समझौता यूके रिसर्च एंड इनोवेशन द्वारा समर्थित है। इंडिया प्लास्टिक पैक्ट (IPP) ने  विश्व वन्यजीवन कोष इंडिया तथा भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के  सहयोग से लॉन्च किया गया है। इस पैक्ट की  3 सितंबर को CII  के 16वें सस्टेनेबिलिटी समिट में  घोषणा की गई थी। लॉन्च के हिस्से के रूप में, 27 व्यवसायों और सहायक संगठनों, जिनमें प्रमुख फास्ट-मूविंग कंज्यूमर गुड्स (एफएमसीजी) ब्रांड, निर्माता, खुदरा विक्रेता और रिसाइकलर शामिल हैं, ने संस्थापक सदस्यों के रूप में समझौते के प्रति अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की।

भारत सालाना 9.46 मेगाटन प्लास्टिक कचरा उत्पन्न करता है, जिसमें से 40% एकत्र नहीं किया जाता है। देश में उत्पादित सभी प्लास्टिक का लगभग आधा पैकेजिंग में उपयोग किया जाता है, जिनमें से अधिकांश प्रकृति में एकल उपयोग है।

29 अक्तूबर 2021

इक्कीसवीं सदी का ' बीरबल" शायद ही भूल पाये 'अकबर " का आगरा

 - पत्रकारों और रंगकर्मियों ने भरे मन से अलविदा कहा योगेन्द्र दुबे को

अकबर को बीरबल(योगेन्‍द्र दुबे) ने यमुना नदी
की बदहाली जमकर दी सीखें.


   आगरा,वरिष्ठ पत्रकार एवं प्रख्यात नाट्कर्मी श्री योगेन्‍द्र   दुबे का पार्थव शरीर पंचतत्वों में विलीन हो गया. ताजगंज शमशान घाट पर उनकी अंत्येष्ठी की

आगरा,वरिष्ठ पत्रकार एवं प्रख्यात नाट्कर्मी श्री योगेन्द्र दुबे का पार्थव शरीर पंचतत्वों में विलीन हो गया. ताजगंज शमशान घाट पर उनकी अंत्येष्ठी की गयी . इस अवसर पर बडी संख्या में सांस्कृतिक कर्मी, पत्रकार एवं दुबे परिवार के स्वजन मौजूद थे.उनका हृदय गति रुकजाने से गुरुवार को निधन हो गया था.उनके बेटे प्रज्ञान दुबे ने मुख्यग्नि दी .

वरिष्ठ रंगकर्मी श्री अनिल शुक्ला के अनुसार पत्रकारों ,रंगकर्मियों की शेकसभा का आयोजन रविवार को अपराह्न तीन बजे घटिया आजम खां स्थित हरियाली वाटिका

28 अक्तूबर 2021

पूरी तरह से टीकाकरण पर ही अमेरिका यात्रा

 

अमेरिका  यात्रा पर जाने  वाले विदेशी नागरिकों को 8 नवंबर से पूरी तरह से टीकाकरण की आवश्यकता होगी। केवल विशेष  अपवादों के अलावा , हवाई जहाज में सवार होने से पूर्व यात्री को   कोविड  -19 टीकाकरण स्थिति का प्रमाण प्रस्तुत  करना होगा। इसका तात्पर्य  है कि जिन लोगों को कोवैक्सिन का टीकाकरण मिला है, उन्हें अमेरिका में प्रवेश करने के लिए अभी इंतजार करना होगा।

अमेरिकी विदेश विभाग द्वारा  जारी यात्रा परामर्श में यह भी कहा गया है कि अमेरिकी तथा  विदेशी नागरिक जिनका  पूरी तरह से टीकाकरण हो चुका  है, उन्हें संयुक्त राज्य अमेरिका जाने से पहले अपनी एयर कम्पनी को  टीकाकरण की स्थिति का  प्रमाण प्रस्तुत करना  आवशयक है । अद्यतन यात्रा दिशानिर्देशों में परीक्षण से सम्बंधित  नए प्रोटोकॉल भी शामिल हैं।  

26 अक्तूबर 2021

आगरा का गिरता जलस्‍तर थामने को नहरें दुरुस्‍थ की जायें

 -- नेशनल चैंबर सिकन्‍दरा राजवाह के सुध्रढीकरण के कार्य में सहभागिता को उत्‍सुक

आगरा नहर के सिकंदरा राजवाह का जायजा लेते हुए
श्री मनीष अग्रवाल एवं श्री सीता राम-फोटोअसलम सलीमी
आगरानेशनल चैंबर आफ इंडस्‍ट्रीज एंड कामर्स उ प्र आगरा ने जनपद में लगातार भूजलस्‍तर गिर रहे जलस्‍तर पर गंभीर चिता जतायी  हैनहरी पानी की जरूरत के मुताबिक उपलब्‍धता संभव नहीं हो पाने  के कारण किसानों की भूजल पर निर्भरता बढती ही जा रही है।  उपरोक्‍त को दृष्‍टिगत चैम्बर का मानना है कि नहरी तंत्र को उसकी मूल संरचना के अनुरूप कर नहरों की सुचारूता बढा कर भूजल दोहन में कमी लायी जा सकती है।

चैंबर ने  आगरा नहर के टर्मिनल व सिकन्‍दरा राजवाह के सुध्रढीकरण को लेकर सहभागिता को लेकर

केजरीवाल ने की राम की भक्ति अयोध्या में

 

अयोध्या - दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अयोध्या में सरयू आरती के अवसर  पर कहा कि अगर 130 करोड़ लोग एकजुट होते तो भारत दुनिया का नंबर एक देश होता। वह आरती के बाद पत्रकारों से वार्ता  कर रहे थे। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने जय श्री राम के साथ भाषण की शुरुआत की और कहा कि वह  भाग्यशाली  महसूस कर रहे हैं कि उन्हें भगवान राम के जन्म स्थान पर जाने और सरयू आरती में भाग लेने का अवसर मिला।

उन्होंने सम्बोधन में कहा कि वह भाषण सुनने वालों की तुलना में उम्र और अनुभव में छोटे हैं किन्तु  दिल्ली में पांच साल के शासन के मेरे अनुभव को देखते हुए, मुझे लगता है कि अगर हम एक परिवार की तरह काम करते हैं तो हम दुनिया में नंबर एक देश होंगे। वह हनुमान गढ़ी में बजरंगबली मंदिर  और राम जन्मभूमि में राम लला के दर्शन भी करेंगे। 

25 अक्तूबर 2021

आगरा के उद्यमी व्यापक नि‍वेशा संभावनाओं वाले राजस्थान आयें

-- रीको की एग्‍जीक्‍यूटि‍व डायरैक्‍टर ने इन्‍वेस्‍टमेंट सम्‍मि‍ट में दी जानकारि‍यां 

रीको की नि‍वेश सम्‍मि‍ट में एग्‍जी.डायरैक्‍टर ने आगरा
के उद्यमि‍यों नि‍वेश संभावनायें.
आगरा,ताज ट्रि‍पेजि‍यम जोन का महानगर होने के नाते प्रदूषण नि‍यंत्रण संबधी कानूनों के तहत जहां नये उद्योग लगाये जाने पर तमाम पाबंदि‍यां है,वहीं राजस्‍थान में औद्योगि‍क नि‍वेश की व्‍यापक संभावनायें हैं, इनके सम्‍बन्‍ध में नेशनल चैंबर ऑफ इंडस्ट्रीज एंड कॉमर्स यूपी आगरा के तत्वाधान में आयोजि‍त  इन्वेस्टमेंट समिट में वि‍स्‍तार से जानकारि‍यां दी गयीं. रीको ( राजस्थान इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट एंड इन्वेस्टमेंट कॉरपोरेशन ) की भागीदारी वाली संजय प्‍लेस के पी एल पैलेस होटल में गत सप्‍ताह आयोजि‍त  इस मीट में रीको की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्रीमती रुकमणी रिआर सिहाग, आईएएस ने उद्यमियों को राजस्थान सरकार की योजनाओं एवं उद्योगों को दी जाने वाली सुविधाएं पर संक्षित प्रकाश डाला

24 अक्तूबर 2021

ड्रोनों का होगा इस्तेमाल दिन प्रतिदिन के कामों में

 

नई दिल्ली - मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  कहा कि अब ड्रोन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल लोगों को उनके रोज  के काम में मदद करने के लिए किया जाएगा। कुछ वर्षों पूर्व तक जब लोग ड्रोन का नाम सुनते थे  तो उनके  मन में सबसे पहले सेना की, हथियारों की और  युद्ध की फीलिंग आती थी। किन्तु  वर्तमान में  यदि  हम कोई भी बारात या समारोह  में ड्रोन द्वारा  तस्वीरें और वीडियो बनाते देख सकते हैं ।

 प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत  दुनिया के पहले देशों में से एक है, जो ड्रोन की मदद से अपने गांवों में भूमि का डिजिटल रिकॉर्ड तैयार कर रहा है। हमारा देश  बड़े पैमाने पर इसपर उपयोग हो  रहा है। परिवहन के लिए ड्रोन, चाहे वह गांव में खेती हो या घर पर सामान की डिलीवरी हो, आपात स्थिति में सहायता प्रदान करना या कानून व्यवस्था की निगरानी करने  आदि के लिए भी ड्रोन का इस्तेमाल किया जा रहा है। 


21 अक्तूबर 2021

100 करोड़ कोविड टीकों का रिकॉर्ड बना भारत का

 

नई दिल्ली - भारत द्वारा दुनिया के सबसे बड़े और सबसे तेज टीकाकरण अभियान में से एक में लोगों को कोविड-19 की 100 करोड़ खुराक देने का ऐतिहासिक मुकाम हासिल करने के साथ, संस्कृति मंत्रालय के तहत आने वाला भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) देश भर में 100  स्मारकों को तिरंगे के रंग में रोशन कर रहा है। ऐसा उन कोरोना योद्धाओं के सम्मान और कृतज्ञता के प्रतीक के रूप में किया जा रहा है जिन्होंने कोविड महामारी के खिलाफ लड़ाई में अथक योगदान दिया है।

तिरंगे के रंगों में रोशन किए जा रहे 100 स्मारकों में यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थल - दिल्ली में लाल किला, हुमायूं का मकबरा और कुतुबमीनार, उत्तर प्रदेश में आगरा का किला और फतेहपुर सीकरी, ओडिशा में कोणार्क मंदिर, तमिलनाडु में ममल्लापुरम रथ मंदिर, गोवा में सेंट फ्रांसिस ऑफ असीसी चर्च, मध्य प्रदेश में खजुराहो, राजस्थान में चित्तौड़ और कुंभलगढ़ के किले, बिहार में प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के अवशेष और गुजरात में धोलावीरा (हाल ही में विश्व विरासत का दर्जा दिया गया) शामिल हैं।

18 अक्तूबर 2021

पूर्वोत्‍तर के 6 मार्गों पर हवाई संपर्क का विस्तार

 

नई दिल्ली - केन्‍द्रीय नागर विमानन मंत्री  ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया, नागर विमानन राज्‍य मंत्री जनरल डॉ. वी. के. सिंह  ने पूर्वोत्‍तर भारत में हवाई सम्‍पर्क का विस्‍तार करते हुए आज 6 मार्गों पर विमानों को वर्चुअली रवाना किया। परिचालन शुरू करने वाले मार्ग हैं कोलकाता-गुवाहाटी, गुवाहाटी-आइजोल, आइजोल-शिलांग, शिलांग-आइजोल, आइजोल-गुवाहाटी और गुवाहाटी-कोलकाता।

केन्‍द्रीय नागर विमानन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने इस अवसर पर कहा कि इन नई  शुरू की गई उड़ानों ने कई ऐसे राज्यों को जोड़कर पूर्वोत्‍तर में हवाई सम्‍पर्क का विस्तार किया है जो अब तक उड़ानों से नहीं जुड़े हैं। क्षेत्र के मूल निवासियों कीइन मार्गों पर उड़ान कनेक्‍टीविटी की मांग काफी लंबे समय से लंबित रही है। पूर्वी भारत अपनी अद्भुत हरी भरी घाटियों, पहाड़ी नदियों, हरे भरे जंगलों, विशाल चाय बागानों, बर्फ से ढकी पर्वत चोटियों, आकर्षक नदियों, आदिवासी संस्कृति, रंग-बिरंगेमेलों और त्यौहारों के कारण पर्यटकों को लुभाता रहा है। ये उड़ानें प्रकृति प्रेमियों, यात्रियों, पर्यटकों आदि के लिए एक निर्बाध प्रवेश द्वार और सुगम हवाई पहुंच का विकल्प खोल देंगी।

विद्युत मोहन के नेतृत्व वाले इंडियन प्रोजेक्ट ने जीता ईको ऑस्कर

 

दिल्ली के श्री विद्युत मोहन के नेतृत्व वाले ताकाचर प्रोजेक्ट  "क्लियर अवर एयर" श्रेणी के  तहत  कम लागत में फसल अवशेषों को बिक्री योग्य जैव-उत्पादों में बदलने के नवाचार के लिए GBP 1 मिलियन का ' इको पुरस्कार ' का विजेता घोषित  किया गया है । लंदन में एक भव्य समारोह में दिल्ली के एक उद्यमी के कृषि अपशिष्ट पुनर्चक्रण मिशन को प्रिंस विलियम के उद्घाटन अर्थशॉट पुरस्कार  में नामित किया गया। 

विद्युत मोहन के नेतृत्व वाले ताकाचर को "क्लियर अवर एयर" वर्ग के भीतर फसल अवशेषों को बिक्री योग्य जैव-उत्पादों में बदलने के लिए कम लागत विशेषज्ञता नवाचार के लिए GBP 1 मिलियन पुरस्कार का विजेता नामित किया गया था।बता दें विश्व में प्रति वर्ष लगभग 120 बिलियन अमरीकी डालर का कृषि अपशिष्ट उत्पन्न होता है। जब किसान बेचने में विफल होते हैं, तो वे अक्सर कचरे को जला देते हैं। कचरे को जलाने से मानव स्वास्थ्य के साथ-साथ पर्यावरण

16 अक्तूबर 2021

विश्व खाद्य दिवस दुनिया भर में भूख के प्रति जागरूकता

 

विश्व खाद्य दिवस पहली बार 1945 में शुरू किया गया था। विश्व खाद्य दिवस को संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन के शुभारंभ का जश्न मनाने के लिए बनाया गया था।विश्व खाद्य दिवस 2021 पूरे विश्व में 16 अक्टूबर को मनाया जाता है। दुर्भाग्य से ऐसे समय पड़ा है जब दुनिया भर के देश वायरस  महामारी के प्रभाव से जूझ रहे हैं। ये दिवस भूख के मुद्दे से निपटने के लिए दुनिया भर में जागरूकता और सामूहिक कार्रवाई का आह्वान करता है और सभी के लिए स्वस्थ आहार सुनिश्चित करता है। 

हाल के वर्षों में, विश्व खाद्य दिवस ने मछली पकड़ने के समुदायों, जलवायु परिवर्तन और जैव विविधता सहित खाद्य सुरक्षा और कृषि के विभिन्न पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करने के लिए उत्सव के अपने वार्षिक दिवस का उपयोग किया है। यह दिवस लोगों को जलवायु बदल रही है,खाद्य और कृषि भी चाहिए, सामाजिक सुरक्षा और कृषि,ग्रामीण गरीबी के चक्र को तोड़ना, दुनिया को खिलाना, पृथ्वी की देखभाल करना,  पारिवारिक खेती आदि जैसे मुद्दों की ओर आकर्षित करता है ।


15 अक्तूबर 2021

आगरा हाईड्रोजन फैक्ट्री से उपलब्ध हो सकने वाली आक्सीजन संभावना का आंकलन करेगा स्वास्थ्य प्रशासन

-भाजपा नेता पूर्व विधायक केशोमेहरा ने सुझाया था केन्द्र को

आगराग्वालियर रोड पर बुंदू कटरा पर स्थित हाईड्रोजन फैक्ट्री के द्वारा वायुमंडल में निस्तारित की जाने वाली आक्सीजन का मैडीकल यूज की संभावनाओं का पता लगाया जायेगा. भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय एवं विज्ञान एवं तकनीकि तकनीकि मंत्रालयों की ओर से आये निर्देशों के अनुपालन में उपरोक्त जानकारियां मुख्य चिकित्सा अधिकारी आगरा डा ए के श्रीवास्तव से पता करने को कहा है. 

अब डा श्रीवास्तव ने मौसम विज्ञान एवं पर्यावरण विभाग से इस संबध में आधिकारिक जानकारी मांगी है. इस हाईड्रोजन फैकट्री में मौसम विभाग और रक्षा प्रतिष्ठानों से संबधित जरूरतों को