भावना बरदान शर्मा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
भावना बरदान शर्मा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

15 अप्रैल 2022

बृज साहित्‍य महोत्‍सव 17अप्रैल को , सांस्‍कृतिक अभिरुचि का बौद्धिक वर्ग होगा सहभागी

 -- सम्‍मान समारोह, साहित्‍य सम्‍मेलन सत्रों के अलावा वैचारिक अभिव्‍यक्‍ति 'मुझे जी लेने दो' की नाट्य प्रस्‍तुति 

आगरा: ब्रज साहित्‍य महोत्‍सव का आयोजन 17अप्रैल को सूर सदन में हो रहा है, एक दिवसीय यह आयोजन 'ताज लिट्रेचर क्‍लब के तत्‍वावधान में होगा। हाल के दशकों में हिन्‍दी और उसकी अभिवृद्धि की रीढ 'देवनागरी'  को लेकर तो कई आयोजन बज क्षेत्र खासकर आगरा में हुए किन्‍तु ठेठ ब्रज साहित्‍य को समर्पित अपने किस्‍म का पहला आयोजन है। ताज लिट्रेचर क्‍लब की संस्‍थापिका श्रीमती भावना बरदान शर्मा पिछले काफी समय से क्‍लब के माध्‍यम से साहित्‍य एवं संस्‍कृति क्षेत्र में अभिरुचि रखने वालों को सक्रिय रखने तथा स्‍थानीय महत्‍व के आयोजन करती रही हैं, किन्‍तु ब्रज साहित्‍य महोत्‍सव ' ब्रज लिट्रेचर फीस्‍ट 'के रूप में हो रहा ब्रज साहित्‍य महोत्‍सव अपने आप में समूचे ब्रज क्षेत्र और साहित्‍य जगत के लिये  महत्‍ता का आयोजन है।

आयोजन के संरक्षण मंडल के सदस्‍य श्री बृजेश अग्रवाल ने महोत्‍सव 17अप्रैल को सांय 6 बजे से शुरू होगा, इसके तहत औपचारिक उद्घाटन कार्यक्रम के अतरिक्‍त  सम्‍मान समारोह,साहित्‍य सम्‍ममेलन आदि सत्र होंगे, इन्‍हीं के क्रम में नाट्य प्रस्‍तुति 'मुझे जी लेने दो' होगी। इस नाटक को श्री पम्‍मी सरदाना ने ही लिखा व निर्देशित किया है और आयोजन से अध्‍यक्ष के रूप में भी परोक्ष रूप से जुडे हुए हैं।उन्‍होंने बताया कि संरक्षक के रूप में उनके साथ ही श्री महेश चन्‍द्र शर्मा, डा.राम प्रकाश चतुर्वेदी, इा.राजकुमार शर्मा भी सक्रिय सहभागी हैं। 
श्री अग्रवाल ने बताया कि 'ताज लिट्रेचर क्‍लब ' जैविक संक्रमण के रहे दो साल के नकारात्‍मकताओं से भरपूर रहे दौर में भी सक्रिय रहा और अब पांच स्‍वर्णिम वर्ष पूरे कर चुका है,'ब्रज साहित्‍य महोत्‍सव ' इसी कालखंड को स्‍मरणीय बनाये रखने को समर्पित है।आयोजन के माध्‍यम से उन सभी को अपनी सांस्‍कृतिक अभिरुचि की अभिच्व्‍यक्‍ति अनुरूप  सक्रिय सांस्‍कृतिक पटल से जुडने का अवसर है,जो अब तक इसकी जरूरत महसूस करते रहे हैं।
संस्‍थापिका अध्‍यक्ष भावना बरदान शर्मा ने आयोजन के पूर्व