February 2, 2020

आगरा में श्री राम की बडी बहन शांता के नाम पर बने घाट पर भी पहुंचे यू पी के वन मंत्री

मुगल दरबार के चि‍तेरे गोबर्धन की पेटि‍ग की प्रति‍कृति‍ से सुशोभि‍त है  यह घाट 


मुगल चि‍तेरे गोबर्धन की पेंटि‍ग 'शांता' को घाट पर आंकि‍त कि‍या है
वन वि‍भाग के अनुबंधि‍त चि‍तेरे पूरन कुशवाह ने,फोटो असलम 

आगरा: सूर सरोवर के प्रति‍ भावनात्‍मक लगाव को अनायास ही बढाने वाले शांता घाट का नि‍रीक्षण प्रदेश के  पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री दारा सिंह चौहान और पर्यावरण एवं वन विभाग के राज्य मंत्री अनिल शर्मा के द्वारा कि‍या गया।वे 'यूपी बर्ड फेस्टिवल 2020' के सि‍लसि‍ले में 2फरवरी को यहां आये हुए थे।सूरसरोवर में पर्यटकों के लि‍ये नावों का संचालन इस घाट से होता है। घाट की दीवारों को नेशनल चम्‍बल सैंचुरी प्रोजेक्‍ट के उपसंरक्षक आनंद कुमार श्रीवास्‍तव के द्वारा मुगल दरबार के पेंटर गोबर्धन के द्वारा यह बाल्‍मीकि रामायण में उल्‍लेखि‍त वि‍वरण पर आधारि‍त श्री राम की बडी बहन  'शांता ' को लेकर की गयी पेंटि‍ग के  आधार पर  से सुस्‍सजि‍त करवाया गया है।नेशनल चम्‍बल सेंचुरी प्रोजैक्‍ट के संरक्षक सुनील चौधरी के द्वारा पेंटि‍ग युक्‍त इस घाट का उद्घटन कि‍या गया

आगरा का सूर सरोवर पक्षी अभ्‍यारण्‍य अब 'रामसर 'सूची की रेस में

 वैटलैंड दि‍वस के अवसर पर हुआ 'यूपी बर्ड फेस्टिवल 2020' 

दारा सिंह चौहान एवं राज्य मंत्री अनिल शर्मा ने
सूर सरोवर लोअर लेक की जानकारी ली।फोटो:असलम सलीमी
आगरा : सूर सरोवर पक्षी विहार( कीठम झील) में अंतराष्ट्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा वर्ल्ड वेटलैंड डे के अवसर पर राज्‍य  स्तरीय आयोजन 'यूपी बर्ड फेस्टिवल 2020' के अवसर पर प्रदेश के  पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री दारा सिंह चौहान ने कहा है कि सूर सरोवर को रामसर साइट घोषित करवाने को  प्रदेश सरकार प्रयासरत है, यह होते ही इस सरोवर का नाम वि‍श्‍वभर में प्रचारि‍त हो जायेगा और यहां आने वाले पर्यटकों की संख्‍या बढ जायेगी।
श्री चौहान ने कहा कि वर्तमान  मे उ प्र के 6 जलक्षेत्र रामसर साइट सूची में दर्ज हैं।

कई एशियाई देशों में कोरोनोवायरस से निपटने के साधनों का आभाव

एक मौत फिलीपीन में भी

कोरोनोवायरस के मामले भारत, हांगकांग, जापान, मकाऊ, नेपाल, सिंगापुर, श्रीलंका, दक्षिण कोरिया, ताइवान और थाईलैंड सहित कई एशियाई देशों में सामने आये हैं। चीन में कुल मिलाकर मरने वालों की संख्या 360 पहुँच  गई है । एक मौत फिलीपीन में भी दर्ज़ की गई है। इस महामारी से निपटने तथा फैलने से रोकने के उपायों को एशियाई देशों में सरकारें लागू कर रही हैं। दक्षिण और पूर्व एशिया के कई देश कोरोनोवायरस से निपटने के लिए साधनों का आभाव  है। इन देशों में इस महामारी  का संभावित प्रसार विनाशकारी साबित हो सकता है। जबकि अधिकांश  पश्चिमी देशों में कोरोनोवायरस से निपटने के लिए उचित संगरोध तंत्र तथा चिकित्सा सुविधाएँ तैयार कर ली गई हैं। अधिकांश देशों की  सरकारों ने अपने नागरिकों को वापस लाने की सुविधा प्रदान की है जबकि कुछ देश इस पर अभी भी  विचार कर रहे हैं।

February 1, 2020

प्रवासी भारतीयों के लिए सरकार ने बढ़ाई मुश्किलें

एनआरआई अपना स्टेटस तक खो सकते हैं


नई दिल्ली - भारतीय वित्त मंत्रालय द्वारा जारी एक परिपत्र ने आयकर  के सन्दर्भ में  ( प्रवासी भारतीय) की स्थिति के बारे में चिंताएं बढ़ा दी हैं। इसके अनुसार   एनआरआई अपना स्टेटस खो सकते हैं, अगर वह 180 दिनों की मौजूदा निर्धारित  अवधि  के बदले 120 दिनों के लिए लगातार भारत में रहते हैं।
परिपत्र में कहा गया है कि कोई भी भारतीय प्रवासी - नौकरियों और अन्य कारणों से देश के बाहर रहता  है और जो 120 दिनों या उससे अधिक समय तक भारत में रहता है - भारत में करों का भुगतान करने के लिए उत्तरदायी है।एनआरआई समुदाय  में इस बात को लेकर भी चिंता बढ़ रही है कि क्या भारत उन्हें भी शामिल  कर टैक्स नेट को  और विस्तरित  करने की कोशिश कर रहा है।  क्योंकि एक नया प्रावधान  कहता है कि

आस्‍ताना मैकश से सुवासि‍त बसंत और उमंग से सुवासि‍त हुआ 'आगरा'

-- शायर शाहि‍द नदीम को नवाजा गया 'नजीर अकबरावादी अवार्ड '
सम्‍मानि‍त शायर शाहि‍द नदीम और और अशोक रावत आदि के 
साथ अजमल अली शाह । फोटो : असलम सलीमी
आगरा: मेवा कटरा स्‍थि‍त आस्‍ताना मैकश हर वर्ष की भांति‍ इस साल भी 'जश्‍ने बसंत' कार्यक्रम का आयोजन कि‍या गया।इस अवसर पर सूफी -अजीम शायर हजरत अमीर खुसरो नि‍याज बेनि‍याज ,मुहम्‍मद शाह'राज', के अलावा जनकवि‍ नजीर अकबरावादी, और उल्‍लमा मैकश अकबराबादी की रचनाओं को इप्‍टा और जनकला मंच के कलाकारों द्वारा गायन व भावाभि‍नय के साथ प्रस्‍तुत कि‍या गया। 
आयोजन की शुरूआत नजीर अकबरावादी की भक्‍ति‍ रचना 'भूल ठि‍ठक संग लगा ले हठ का बैराग'से जहां कार्यक्रम शुरू हुआ वहीं और ' अज रंग है री मां रंग है'के साथ समाप्‍त हुआ। 
भगवान स्‍वरूप ने नजीर के भजन ,बंजरानामा और मेकश अकबरावादी की गजलों को स्‍वर दि‍या तो कमल गौस्‍वामी ने बुढापा ,यश उप्रैती 'जाडे की बहारे' ओर मानस रघुवंशी ने ने कोरा बर्तन पर भावअभि‍नय कि‍या। जूहीति‍वारी ने 'होली'गाकर फाग के मौसम का अहसास करवाया। सर्वश्री हैदर अली शाह 'हि‍न्‍द अकबराबादी' डा जी यू कुरैशी, शमीम अहमद शाह, श्रीमती भावना जि‍तेन्‍द्र रघुवंशी, सुश्री राधि‍का सक्‍सेना, राकेश जैन, अनि‍ल जैन, प्रमोद सारास्‍वत,

January 31, 2020

सूरजकुंड शिल्प मेला बना दुनिया का सबसे बड़ा क्राफ्ट फेयर

अंतरराष्ट्रीय पर्यटक कैलेंडर पर गर्व का स्थान होने के कारण सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेले के  पखवाड़े के दौरान एक लाख से अधिक आगंतुक तथा  हजारों विदेशी पर्यटक इसे देखने आते  हैं। सूरजकुंड मेला अद्वितीय है क्योंकि यह भारत के हस्तशिल्प, हथकरघा और सांस्कृतिक कपड़े की समृद्धि और विविधता को दर्शाता है, और यह दुनिया का सबसे बड़ा शिल्प मेला बनता जा रहा   है। इस वर्ष इसका आयोजन 1 से 16 फरबरी तक किया गया है। 

इस मेले का आयोजन सूरजकुंड मेला प्राधिकरण और हरियाणा पर्यटन द्वारा केंद्रीय पर्यटन, कपड़ा, संस्कृति और विदेश मंत्रालय के सहयोग से किया जाता है। 34 वें सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेला -2020 के लिए, हिमाचल प्रदेश राज्य को थीम राज्य के रूप में चुना गया है। मेला में कम से कम 20 देश और भारत के सभी राज्य भाग लेंगे। थीम देश इसबार उज्बेकिस्तान है। 

January 30, 2020

UP और हरियाणा में पैदा हुए दिल्ली में आकर बसे पराये कैसे - केजरीवाल

दिल्ली -  केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ   नेता डॉक्टर हर्ष वर्धन ने दिल्ली के  मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल पर अपने ट्वीट द्वारा अटैक करते हुए कहा कि जो हरियाणा के हिसार में पैदा हुए,और गाजियाबाद से अन्ना जी के आंदोलन से जुड़े,वो दिल्ली के बेटे कैसे बन गए ?ये चुनाव झूठ व सच के बीच है राष्ट्रवाद व देशद्रोह के बीच है ! किन्तु अरविन्द केजरीवाल भी इसका उत्तर बड़े मज़ेदार तरीके से देने से नहीं चुके।  डॉक्टर साहिब, आपकी मुझसे नफ़रत है। आप मुझे गाली दीजिए। आप UP और हरियाणा में पैदा हुए और दिल्ली में आकर बसे सब लोगों को पराया कैसे बोल सकते हैं? भाजपा के लिए वो पराय हैं। पर वे हमारे तो दिल्ली परिवार का हिस्सा हैं। हम दिल्ली वालों ने उनको सबको अपना लिया, अपना परिवार बना लिया। 

January 28, 2020

तरनजीत सिंह संधू होंगे को यूएसए में भारत के अगले राजदूत

नई दिल्ली -  तरनजीत सिंह संधू, वर्तमान में भारत में उच्चायुक्त, श्रीलंका को संयुक्त राज्य अमेरिका में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है। वह इससे पहले जुलाई 2013 से जनवरी 2017 तक वाशिंगटन डीसी में भारत के दूतावास में मिशन के उप प्रमुख के रूप में कार्य कर चुके हैं और सितंबर 2011 से जुलाई 2013 तक फ्रैंकफर्ट में भारत के महावाणिज्यदूत रहे  हैं। 1988 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी तरणजीत सिंह संधू, वर्तमान में श्रीलंका में भारत के उच्चायुक्त  हैं। श्री संधू ने वाशिंगटन में शिरिंगला  की जगह नियुक्त किया गया है। शिरिंगला अगले विदेश सचिव के रूप में नामित किया गया।