November 7, 2019

उत्तर प्रदेश में भ्रष्ट पुलिस अधिकारिओं की घंटी बजाई योगी ने

आगरा के दो पुलिस अधिकारी भी लिस्ट में 

भ्रष्टाचार के खिलाफ-शून्य-सहिष्णुता  नीति  के अंतर्गत आदित्यनाथ योगी सरकार ने पुलिस अधीक्षक और प्रांतीय पुलिस सेवा कैडर के सहायक कमांडेंट रैंक के सात  अधिकारियों  को जबरन सेवानिवृत्त किया है। इस  लिस्ट में आगरा के  पीपीएस अधिकारी अरुण कुमार तथा  सर्किल ऑफिसर  विनोद कुमार राणा का भी नाम है जिन्हें   एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई है ।भ्रष्टाचार को लेकर सर्कल ऑफिसर नरेंद्र सिंह राणा को पिछले आगरा एसएसपी अमित पाठक द्वारा आगरा के एसएसपी कार्यालय में स्थानांतरित किया गया था। दूसरे पुलिस अधिकारी अरुण कुमार पर  कथित रूप से रिश्वत लेने के रिकॉर्ड को देखते हुए  उन्हें अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई है। अरुण कुमार  एक महिला के पुलिस में  भर्ती करने के लिए कथित तौर पर पैसे लेने के लिए चर्चा में थे। 

November 5, 2019

सि‍वि‍ल एन्‍कलेव के मामले में कुछ जनप्रति‍नि‍धि‍यों ने आगरा को भारी धक्‍का पहुंचाया

आगरा। पर्यटन सत्र शुरू हो चुका है कि‍न्‍तु आगरा को जन पहुंच सहज करने को 2012 से बनाये जाने को प्रस्‍तावि‍त नया सि‍वि‍ल एन्‍कलेव नहीं मि‍ल सका है। आश्‍चर्य और आगरा वासि‍यों के लि‍ये सबसे अफसोस  जनक तथ्‍य यह है कि‍ प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने दि‍ल्‍ली की गद्दी पर बैठने के पूर्व शहरवासि‍यों को भ्रमि‍क कि‍या था कि‍ आगरा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट होना चाहि‍ये लेकि‍न सत्‍तासुख लगातार छै साल  भोगने के बावजूद अपने वायदे और आगरा की जरूरत को भूल चुके है। मोदी है तो मुमकि‍न है नारा  कम से कम आगरा के परि‍प्रेक्ष्‍य में तो नि‍हायत गलत साबि‍त हुआ है। इस सम्बन्ध में सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा द्वारा आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में सोसाइटी के पदाधिकारियों शिरोमणि सिंह,  राजीव सक्सेना, अनिल शर्मा,श्रीमती मनोज दीक्षित ने आरोप लगाया कि सि‍वि‍ल एन्‍कलेव को वायुसेना स्‍टेशन से बाहर कर धनौली मे लेजाय जाने की योजना को आगरा के  कुछ जनप्रति‍नि‍धि‍यों ने भी भारी धक्‍का पहुंचाया है। 

November 3, 2019

भ्रष्टाचार की बदनाम पार्टियों द्वारा योगी सरकार पर टिप्पणी करना शर्मनाक - श्रीकांत

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा और अखिलेश यादव को वर्तमान राज्य सरकार पर उंगली उठाने से पहले अपना होमवर्क करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार की बदनाम  पार्टियों के नेताओं द्वारा  योगी आदित्यनाथ सरकार पर टिप्पणी करना शर्मनाक है। बता दें कि  इन दोनों नेताओं ने गैर बैंकिंग वित्त कंपनियों में UPPCL कर्मचारियों के भविष्य निधि के निवेश को लेकर "घोटाले" पर यूपी सरकार की आलोचना की है।ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने  कहा कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति के साथ काम कर रही है।

कारपेंटर से सुपरस्टार तक पहुँचने वाले रजनीकांत को मिलेगा आइकन पुरस्कार

                             रजनीकांत का जीवन भी है एक  फिल्म जैसे कहानी 

नई  दिल्ली। भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव की स्वर्ण जयंती के प्रतीक के रूप में भारत सरकार ने प्रथम बार एक विशेष पुरस्कार का गठन किया है, इस पुरस्कार को प्रख्यात फिल्म अभिनेता  एस. रजनीकांत को प्रदान किया जाएगा।केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री  प्रकाश जावड़ेकर ने  ने कहा, “पिछले कई दशकों के दौरान भारतीय सिनेमा में उनके उत्कृष्ट योगदान को मान्यता देते हुए मुझे यह घोषणा करने में अपार हर्ष का अनुभव हो रहा है कि भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव 2019 की स्वर्ण जयंती के आइकन का पुरस्कार फिल्म अभिनेता श्री श्री एस. रजनीकांत को प्रदान किया जा रहा है।”
कारपेंटर से कुली और कुली से बस कंडक्टर तथा बस कंडक्टर से सुपरस्टार बने रजनीकांत की कहानी किसी फिल्म की पटकथा से कम नहीं है।

November 1, 2019

सींगना में 8 नवंबर से लगेगा इंटरनेशनल लेदर, फुटवियर कंपोनेंट्स व तकनीकी मेला

आगरा फुटवियर मैन्युफैक्चरर्स एंड एक्सपोर्टर्स चेंबर (एफमेक) द्वारा आयोजित तीन दिवसीय इंटरनेशनल लेदर, फुटवियर कॉम्पोनेंट्स एंड टेक्नोलॉजी फेयर- मीट एट आगरा का आगाज पोस्टर विमोचन किया गया। यह इंटरनेशनल लेदर, फुटवियर कंपोनेंट्स व तकनीकी मेला 8 नवंबर से सींगना में होगा।   इसमें  भारत, चीन, इटली, जर्मनी समेत 10 देशों के 220 एक्जीबिटर्स व 150 कंपनियां  भाग लेंगी।पोस्टर विमोचन के दौरान  एफमैक के प्रेसिडेंट पूरन डाबर, वाइस प्रेसिडेंट  गोपाल गुप्ता,जनरल सेक्रेटरी राजीव बासन, कन्वीनर कैप्टन ए एस राणा, इवेंट कोऑर्डिनेटर चंद्रशेखर रावी  उपस्थित थे। 

उत्तर प्रदेश सरकार ने पर्यावरण में स्वच्छ वायु हेतु उठाये ठोस कदम

उत्तर प्रदेश ने पर्यावरण में स्वच्छ वायु प्रवाह को बनाये रखने के लिए ठोस कदम उठाये हैं। स्वच्छ वायु एवं वातावरण को बनाये रखने के लिए वृक्ष जरूरी हैं। प्रदेश में वन क्षेत्र बढ़ाने तथा स्वच्छ वायु बनाये रखने के लिए सरकार ने वर्ष 2017 में 5.70 करोड़, वर्ष 2018 में 11.12 करोड़ तथा इस वर्ष 22.59 करोड़ विभिन्न प्रजातियों के वृक्ष लगाकर महत्वपूर्ण कार्य किया है। प्रदेश में लगाये गये ये पौधे धीरे-धीरे बड़े होते रहेंगें और प्रदूषित हवा को शुद्ध करते रहेंगे।
प्रदेश सरकार ने गन्दगी से प्रदूषण फैलाने वाली पाॅलीथीन, कैरीबैग, सिंगल यूज प्लास्टिक एवं थर्माकोल कटलरी पर पूर्णतः प्रतिबन्ध लगाते हुए स्वच्छ वायु बनाये रखने पर बल दिया है। सरकार ने प्रदेश के 15 शहरों में वायु प्रदूषण नियंत्रण कार्ययोजना का क्रियान्वयन शुरू कर दिया है। वायु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा वर्ष 2024 तक पार्टिकुलेट मैटर में 20.30 प्रतिशत कमी लक्षित की गई है। मेरठ शहर के अन्तर्गत 03 सतत् परिवेशीय वायु गुणता अनुश्रवण केन्द्रों का शुभारम्भ किया गया है।

October 31, 2019

विभाजनकारी ताकतों को रोकने के लिए एक और सरदार पटेल चाहिए - अखिलेश


समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव 144 वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि आज देश में सरदार पटेल जैसे व्यक्ति को धर्म के नाम पर समाज को बांटने की कोशिश कर रही विभाजनकारी शक्तियों के खिलाफ कार्रवाई करने की आवश्यकता थी। उन्होंने  कहा  कि देश को एक और सरदार वल्लभभाई पटेल की जरूरत थी, जो  आरएसएस  जैसी विभाजनकारी शक्तियों को प्रतिबंधित कर सकें, ताकि भारत  बिना किसी पूर्वाग्रह के विकसित हो सके। सपा प्रमुख ने राज्य में कुशासन को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला किया और दावा किया कि कानून और व्यवस्था अपने निम्नतम बिंदु पर है। पार्टी ने  अपनी  सभी  जिला  इकाइयों को सरदार पटेल की जयंती पर समारोह आयोजित करने का निर्देश दिया था।