Showing posts with label Donald Trump. Show all posts
Showing posts with label Donald Trump. Show all posts

March 5, 2017

अमेरिका में भारतीय समुदाय के खिलाफ बढ़ते नस्लीय हमले

जब से अमरीका में डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन सत्ता में आया है तब से दूसरे देश के साथ साथ भारतीय मूल के लोगों पर नस्लीय हमलों की घटनाएं बढ़ रही हैं। पंद्रह दिन के भीतर अबतक तीन रेसिस्ट हमले हुए जिसमें दो भारतीय मूल के लोग मारे गए। पूरे अमेरिका में रह रहे भारतियों के लिए यह चिंता का विषय बनता जा रहा है।  तीसरी घटना जो शनिवार को हुई उसमें एक  39 साल के भारतीय मूल के  सिख को गोली मारकर जख्मी कर दिया।  प्राप्त जानकारी के अनुसार अज्ञात हमलावर  ने सिख युवा  को उसके निवास  के बाहर,अपने देश वापस जाओ चिल्लाते हुए गोली मारकर घायल कर दिया। हमलावर अपना चेरा  एक नकाब से ढका हुआ था। बता दें कुछ ही दिन पहले कंसास में एक भारतीय इंजीनियर की हत्या की गई थी। केंट पुलिस प्रमुख केन थॉमस इस घटना से काफी चिंतित हैं और  इसे काफी  गंभीर घटना के तौर पर ले रहे हैं। 

February 4, 2017

अमरीकी जज के सामने डोनाल्ड ट्रम्प की नहीं चली

अमरीका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सात मुस्लिम देशों के लोगों के अमरीका प्रवेश पर अस्थाई रूप में  रोक लगा दी थी। किन्तु अमरीकी स्टेट डिपार्टमेंट ने ट्रम्प द्वारा लगाई इस रोक को बापिस लेते हुए कहा कि जिन लोगों के पास अमरीका आने का मान्य वीसा है उन्हें अमरीका में प्रवेश करने  में किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। ट्रम्प के आदेशों अनुसार करीब साठ हज़ार  लोगों के वैध वीसे रद्द कर दिए गए थे। जिसके कारण इन सात  देशों के लोग बहुत निराश थे। किसी को अपने परिवार के पास जाना था और किसी को नोकरी के लिए अमरीका जाना था। दूसरी ओर ट्रम्प जज द्वारा उनके आदेश के खिलाफ निर्णय देने से सहमत नहीं हैं। अपने ट्वीट में उन्होंने इसे हास्यस्पद बताया और कहा शीघ्र ही इसे खारिज़ कर दिया जायेगा। 

January 27, 2017

अब नहीं घुस सकेंगे इस्लामी चरमपंथी अमेरिका में - डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चरमपंथी इस्लामी आतंकियों को अमरीका में ना घुसने के कठोर आदेश जारी कर दिए हैं। साथ ही नए शासकीय आदेशों में शरणार्थियों के प्रवाह को सीमित करना भी है।  डोनाल्ड ट्रंप ने कड़े शब्दों में कहा  कि हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि  उन खतरों को अपने देश में न आने दें, जिनसे हमारे सैनिक विदेशों में युद्ध लड रहे हैं। ट्रंप ने कहा 9/11 के आतंकी हमले  के बाद अमेरिका द्वारा  जो कदम उठाए गए उनसे आतंकियों के अमेरिका  में प्रवेश रोकने में पूर्ण सफलता नहीं मिली।राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दोहराया कि हम  उन्हीं को अपने देश में आने देना चाहते हैं, जो हमारे देश को सहयोग देंगे और हमारी जनता से गहरा सदभाव रखते हैं। 

January 24, 2017

ट्रंप और मोदी की फोन पर हुई बात चीत

अमेरिका के  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और  भारत के प्रधान मंत्री  नरेंद्र मोदी ने फोन पर बात की।नरेंद्र मोदी ने जीत के बाद उनको  बधाई भी दी थी। राष्‍ट्रपति बनने के बाद ट्रंप ने  कहा था कि भारत-अमेरिका के रिश्‍तों को और गहरा करने के लिए मिलकर काम करेंगे। अपने  चुनाव प्रचार के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के साथ मिलकर काम करने की बात कई बार दोहराई  थी। भारत के प्रति उनका रुख नरम बताया जाता है ।उन्‍होंने कहा था कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ काम करना चाहते  हैं। नौकरियों के मुद्दे पर उनका रवैया बहुत  कठोर दिखाई देता  है।भारतीय  सॉफ्टवेयर और आईटी कंपनियों के अवश्य मुश्किलें आएंगी ।

November 13, 2016

आक्रामक भाषा बोलने वाले ट्रम्प की भाषा में आ रही है नरमी

अरबपति राष्ट्रपति  ट्रम्प लेंगे  सिर्फ एक डॉलर तनखा

अरबपति नवनिर्वाचित अमरीकी  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प  ने सिर्फ एक डॉलर तनखा लेने की घोषणा की। इस बात की घोषणा डोनाल्ड ट्रम्प अपने चुनाव प्रचार में पहले ही  कर चुके थे और अब उनका कहना है की अब वह अपने वचन पर अमल कर रहे हैं। अमरीकी राष्ट्रपति को 400,000 डॉलर का वेतन दिया जाता है। उन्होंने राष्ट्र्पति के पद पर मिलने वाली छुटियों को भी न लेने की घोषणा की। वह अमरीकी टीवी चेनल पर इंटरव्यू दे रहे थे। इंटरव्यू के  दौरान ही उन्होंने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा  कि मेरे विचार से मुझे एक डॉलर वेतन लेकर नियम का पालन करना है, इसलिए मैं साल में बतौर वेतन एक डॉलर लूंगा। चुनाव प्रचार में कठोर और दिल को चुभानेवाले  शब्दों का प्रयोग करने वाले नए राष्ट्रपति की भाषा  अब बदलती नज़र आ रही है। उन्होंने इस बात की भी पुष्टि की कि हम स्वास्थ्य की देखभाल "हेल्थकेयर" के लिए महत्वपूर्ण  काम करेंगे।