Showing posts with label यमुना. Show all posts
Showing posts with label यमुना. Show all posts

September 23, 2019

यमुना बचेगी तभी आगरा शहर स्मार्ट होगा

आगरा।  विश्व नदी दिवस पर रिवर कनेक्ट कैंपेन सदस्यों द्वारा एत्माउद्दौला व्यू पॉइंट पार्क पर रैली निकली गयी और सभा की गयी जिसमें सर्वसम्मति से एक राष्ट्रीय नदी नीति की मांग की गयी. एक प्रस्ताव में सरकार से मांग की गयी की अविलम्ब यमुना में अविरल जल प्रवाह की व्यवस्था की जाए और नदी की तलहटी को प्रदूषण मुक्त किया जाए. इसके साथ ही ताज महल के डाउनस्ट्रीम बैराज पर अति शीघ्र कार्य शुरू किया जाए 
पर्यावरण विद डॉ देवाशीष भट्टाचार्य ने कहा वर्षों से अनेकों वायदे किये गए हैं, लेकिन उनको अमलीजामा पहनने में अनुचित विलम्ब हो रहा है।  डॉ हरेंद्र गुप्ता ने कहा राजनैतिक इच्छा शक्ति की दरकार है।  पायल सिंह चौहान ने कहा आगरा की जनता

May 30, 2016

आगरा की यमुना में पानी नहीं, रेत स्नान कर पानी छोड़े जाने की माँग

ताज महल बचाने के लिए प्रदूषण खत्म किया जाए, नदी में अबिलंब जल प्रवाहित किया जाए

( रिवर कनेक्ट अभियान के सदस्यों का रेत स्नान )
आगरा। एतमौद्दौला व्यू पॉइंट पार्क पर रिवर कनेक्ट अभियान के सदस्यों ने रेत स्नान कर यमुना नदी की दुर्दशा की ओर ध्यान आकर्षित किया और माँग की की गंगा दशहरा से पूर्ब् नदी में जल प्रविहित किया जाए। प्रदूषण की वजह से ताज माहल और एतमौद्दौल्ला को कीड़े नुकसान पहुँचा रहे है लेकिन सरकार को कतई चिंता नहीं है।रिवर कनेक्ट अभियान के ब्रज खंडेलवाल ने कहा की यमुना में अगर जल साँचे की व्यवस्था नहीं हुई तो आने वाले दिनों में शहरवसिओं को  रेत स्नान करके काम चलाना होगा।सरकार को न तो इंसानों की नही विरासत की चिंता है। रेत स्नान के माध्यम  से संबंधित एजेन्सीस और कोर्ट्स को हम बताना चाहते हैं की आगरा में यमुना नदी मर चुकी है सिर्फ़ सीवर और उद्योगों  का अवशेष..

May 6, 2016

यमुना में प्रदूषण से पनपे कीड़े ताज की पच्चीकारी को कर रहे हैं नष्ट

एंटोमोलॉजी विभाग, सेंटजोंस कॉलेज आगरा के प्रमुख  डॉ. गिरीश माहेश्वरी का कहना हैं यमुना नदी में बढ़ते  प्रदूषण के कारण गोल्डीकाइरोनोमस प्रजाति के कीड़ों की संख्या  तेज़ी से बढ़ती जा रही है। ये कीड़े उड़कर ताजमहल पर पहुँच कर इसके  इन ले वर्क को काफी नुकसान पहुंचा रहे हैं। 
इस कीड़े ने कई देशों के पर्यटक स्थलों को नुकसान पहुँचाया हैं। डॉ माहेश्वरी का कहना हैं कि इस  कीड़े पर तत्काल काबू करना जरुरी हैं नहीं तो ताज को भारी नुकसान हो सकता हैं। 

February 5, 2016

यमुना में प्राकृतिक रूप से प्रदूषण रोकने की योज़ना

 वर्षा जल को रोक  ग्रीन फिल्टर से  भूमिगत जल रीचार्ज  किया जायेगा

(  निदेशक सचिन यादव, पत्रकार  राजीव सक्सैना,  उपायुक्त मनरेगा आदि )
आगरा। मौनीटरिंग कमेटी के सदस्य  रमन तथा मुख्य विकास अधिकारी  नागेन्द प्रताप ने  आगरा-मथुरा बाईपास मार्ग पर गैलाना मार्ग स्थित आर्द्ध विकास क्षेत्र का भ्रमण किया गया। इस 25 हैक्टेयर के क्षेत्र में जिसके अन्दर ककरैठा, मऊ,  गैलाना की घनी आबादी तथा विभिन्न कालौनियों के नालों का गन्दा पानी जंगल के अन्दर से होता हुआ  यमुना में जाता था, उस पानी को जंगल में चैक डैम के माध्यम से रोक कर प्राकृतिक रूप से प्रदूषण रोकने का कार्य किया जा रहा है। इसको वन विभाग द्वारा विभिन्न नालों को पक्के चैक डैम से जोड़ा गया है। क्षेत्र में वर्षा जल को रोक कर ग्रीन फिल्टर द्वारा भूमिगत जल रीचार्ज करने का कार्य किया जा रहा है। तालाबों के किनारे ऐसी प्रजातियों के पेड़ों को लगाया जा रहा है जिससे प्रदूषित जल में से आर्सेनिक आदि हानिकारक तत्वों को शोषित कर प्रदूषित जल को हानिकारक तत्वों से मुक्त करता है।इस निरीक्षण के दौरान परियोजना निदेशक सचिन यादव, राजीव सक्सैना, यमुना एक्शन प्लान, भूगर्भ जल विभाग, उपायुक्त मनरेगा सहित सभी खण्ड विकास अधिकारी...

January 17, 2016

नन्हे मुन्ने रोलर स्केटर्स ने दिया यमुना बचाओ का सन्देश

--यमुना आरती स्थल तक स्केटिंग करके पहुंचे 

आगरा: एतमाउददौला व्यू पॉइंट पार्क पर नन्हे मुन्ने स्‍कैटर्स ने  यमुना आरती स्‍थल पर नदी को
(यमुना को बचाओ )
प्रदूषण रहित और साफ़ रखने का संकल्प लिया.
 बच्चे हाथी घाट से एतमाउददौला व्यू पॉइंट पार्क तक स्केटिंग करके पहुंचे , उनके साथ यमुना बचाओ के पोस्टर्स थे. रैली को समाज सेवी विनोद बंसल ने हरी झंडी दिखा कर शुरू किया

  सड़क के दोनों तरफ लोगों ने रुक कर बच्चों को शाबाशी दी और उनके जोश को सराहा...

June 4, 2015

पर्यावरण दिवस : यमुना को बचाने के लिए जनता की भी जिम्मेदारी

आगरा। यमुना व् अन्य प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के लिए सरकार के साथ आम जनता को भी भागीदारी निभानी चाहिए। आगरा  शहर हमारा है, इसको विकसित करने के लिए सभी नागरिक सहयोग करें। यह बात आज सांय यमुना आरती करने के बाद आगरा मण्डलायुक्त की पत्नी संगीता भटनागर  ने एतमाउददौला व्यू पॉइंट पार्क पर आयोजित गोष्ठी में कही.रिवर कनेक्ट अभियान के तहत आज यमुना मैय्या की विशेष आरती में शहर के अनेक समाजसेवी और एक्टिविस्ट्स शामिल हुए. डॉ देवाशीष भट्टाचार्य ने यमुना नदी की दुर्दशा के लिए शहरवासियों की बेरुखी को जिम्मेदार माना. डॉ आनंद राय, इंडिया राइजिंग , ने शहर वासियों से अपील की यमुना में कूड़ा करकट न डालें. प्रदीप खण्डेलवाल ईको क्लब ने कहा की सरकारी सहायता के भरोसे न रहकर खुद अपने साधनों से सामाजिक कार्यों को आगे बढ़ाया जाये...

April 18, 2015

यमुना नदी ‘पौल्यूशन’ में फि‍र टॉप पर

--हि‍डन नदी का सहारनपुर से गाजि‍याबाद तक का भाग भी तरस रहा है घुलनशील आक्‍सीजन को

(यमुना नदी:बदहाली से छुटकारा नहीं)
आगरा,यमुना नदी के प्रदूषण और उसके अधाधुंध जलदोहन की अवैध कारि‍स्‍तानि‍यों की ओर सरकारी एजेंसि‍यों सहि‍त जनसाधारण का ध्‍यान आकर्षि‍त करने के लि‍ये जहां एक ओर ‘यमुना यात्रा’ और ‘यमुना आरती’ नुमा जनसहभागी प्रयास हो रहे हैं वहीं नदी का अस्‍ति‍व अत्‍यंत गंभीर दौर में पहुंच चुका है।यह रि‍पोर्ट और कि‍सी की नहीं उस केन्‍द्रीय प्रदूषण नि‍यंत्रण बोर्ड की है जि‍सके अनुमोदन और संस्‍तुति‍यों पर नदी के पूर्व स्‍वरूप बहाली

April 6, 2015

‘यमुना मैया’ की आरती :आस्था के साथ ही जन जागरूक्ता

--नदी के कई अन्‍य घाटो पर भी ‘आरती’ शुरू करवाने को होगा प्रयास

(यमुना  जी की आरती करते बृज खंडेलवाल
 ,आनंन्‍द रॉय व अन्‍य)
(बेकअप आगरा के शि‍शि‍र भगत यमुना
आरती में बने भागीदार)
आगरा:’ यमुना मैया’  की आरती सेवा का नया दौर फि‍र से शुरू हो गया है।प्रतयेक साम्‍वार को एत्‍मादौला के व्‍यू पौइंट (मथुरेशजी घाट ) पर यह हुआ करेगी।नगर के चर्चि‍त स्‍वैच्‍छि‍क संगठन वेकअप आगरा ने पहली आरती में अगुवाई की। मथुरेशजी मंदिर के पुजारी नंदन श्रोत्रिय व जुगल किशोर श्रोत्रिय द्वारा विधिवत आरती गायन के साथ उतारी गई।
वेकअप आगरा के अध्यक्ष शिशिर भगत ने बताया कि आरती का मुख्य उद्देश्य लोगों को यमुना नदी से जोड़ना है। बीतों सालों में यमुना की बहुत ज्यादा हालत खराब हुई। लोगों को जागरूक होना पड़ेगा। इको क्लब के प्रदीप खंडेलवाल के अनुसार धीरे-धीरे आरती सेवा का विस्तार किया जाएगा। इस अवसर पर  ब्रज खंडेलवाल, अर्पित मोदी, नंदन श्रोत्रिय और आनंद राय