November 30, 2019

इंडिया राइजिंग का स्वछता अभियान चलते फिरते राहगीरों तक को खींच रहा है अपनी ओर

राहगीर दूध वाले का  श्रमदान 
आगरा। इंडिया राइजिंग आगरा के युवा - युवतियों का दल है जिसे अपने शहर में स्वछता और सुंदरता  अभियान चलाते हुए करीब छह वर्ष होने जा रहे हैं किन्तु तमाम बाधाओं के बावजूद इन लोगों  ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा है। अब यह अभियान बच्चों , बुजुर्गों और  सड़क पर चलते फिरते राहगीरों तक पहुँच चुका है। अभी हाल ही में साइकिल पर दूध बेचने वाले एक राहगीर से नहीं रहा गया, उसने अपने साइकिल एक तरफ खड़ी करके  गन्दी दीवारों पर  अपनी कूंची का कमाल  देखते हुए  स्वयं भी श्रमदान कर डाला।  अब इस अभियान की खासियत यह बन चुकी है कि क्या बच्चे, क्या बुजुर्ग, क्या युवा... कोई भी पीछे नहीं है इसमें । शहर को सुंदर बनाने में सभी का बराबर दीवानगी पनपती नजर आ रही है। इंडिया राइजिंग उन लोगों की बस्ती  तक पहुँच चुकी  है  जो  शहर की सफाई करते हैं यानि वाल्मीकि बस्ती। इंडिया राइजिंग वृक्षारोपण के प्रति भी लोगों को जगाकर आगरा को फिर से हरा भरा स्वच्छ ऑक्सीजन युक्त शहर बनाना चाहती है।