July 12, 2019

ब्रिटेन भारत में तीसरा सबसे बड़ा प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेशक

केन्‍द्रीय वाणिज्‍य तथा उद्योग मंत्री  पीयूष गोयल 14  जुलाई, 2019 से तीन दिन की यात्रा पर ब्रिटेन जाएंगे।जेटको वाणिज्‍य और उद्योग मंत्री के स्‍तर पर भारत-ब्रिटेन व्‍यापार तथा आर्थिक संबंधों की समीक्षा करती है। अब तक जेटको की 12 बैठकें हो चुकी हैं। पिछली बैठक लंदन में 11 जनवरी, 2018 को हुई थी। भारत-ब्रिटेन जेटको की स्‍थापना 13 जनवरी, 2005 को की गई थी ताकि रणनीतिक आर्थिक संबंध को आगे बढ़़ाया जाए और द्विपक्षीय व्‍यापार निवेश बढ़ाने के लिए व्‍यवसाय के उपाय विकसित किए जाएं।   ब्रिटेन भारत में तीसरा सबसे बड़ा प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेशक है और भारत के प्रमुख व्‍यापारिक साझेदारों में एक है। भारत और ब्रिटेन का व्‍यापार 2018 में 13.6 बिलियन यूरो का हुआ। 2002 और 2018 के बीच दोनों देशों का व्‍यापार प्रतिवर्ष 8.8 प्रतिशत की औसत दर से बढ़ा।