January 14, 2019

नये भारत के निर्माण में प्रवासी भारतीयों की भूमिका

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेले में ‘प्रवासी भारतीय दिवस’ के प्रतिनिधियों के लिए विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। प्रवासी भारतीय दिवस 21 जनवरी को वाराणसी में शुरू होने जा रहा है।प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2019 का थीम ‘नये भारत के निर्माण में प्रवासी भारतीयों की भूमिका’ है। प्रवासी भारतीय दिवस के प्रतिनिधियों के लिए प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेला और दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने के लिए विशेष व्यवस्थाएं की गई हैं। वाराणसी के बदलापुर में व्यापार सुविधा केन्द्र और हस्तकला संग्रहालय में आयोजित होने वाले इस सम्मेलन में करीब 10 हजार लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।   
 प्रवासी भारतीय दिवस में भाग लेने वाले लोग प्रयागराज में आयोजित दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक मेले कुंभ में 24 जनवरी को शामिल होंगे। यहां संगम पर पवित्र स्नान करने की विशेष
व्यवस्था है। प्रयागराज कुंभ मेले में शामिल होने के बाद प्रवासी भारतीय दिवस के लिए आए लोग दिल्ली जाएंगे जहां वे 70वें गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होंगे।                                                                                                                                                               
     यूपी सरकार द्वारा 21 से 23 जनवरी के बीच गंगा घाटों पर बहुप्रतीक्षित सालाना सांस्कृतिक कार्यक्रम गंगा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा, जिसमें हमारी संस्कृति और विरासत की झलक देखने को मिलेगी। काशी में घाटों पर गंगा आरती पर्यटकों में काफी लोकप्रिय है। प्रवासी भारतीय दिवस के मेहमानों के लिए विशेष जगह आरक्षित की गई है जहां से वे इस महोत्सव का आनंद उठा सकें।