October 7, 2018

आगरा महोत्सव भारतीय कला, संस्कृति एवं व्यापार की विरासत का अनूठा संगम होगा

आगरा महोत्सव 2018 का आयोजन  दिनांक 26 अक्टूबर से 04 नवम्बर 2018 तक आयोजित किया जाना प्रस्तावित है। आगरा महोत्सव में भारतीय कला, संस्कृति एवं व्यापार की विरासत का अनूठा संगम होगा। आयोजन में औद्योगिक एवं व्यापारिक प्रदर्शनी आयोजित होगी। साथ ही सरकारी एवं गैर-सरकारी राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर की संस्थाओं द्वारा अपनी सहभागिता कर विभागीय योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। कार्यक्रम में भारतीय लघु-कुटीर उद्योगों के उत्पादनों को प्रदर्शित किया जाएगा, राष्ट्रीय एवं बहुराष्ट्रीय कम्पनियों द्वारा अपने उत्पादनों की प्रदर्शनी एवं बिक्री की जाएगी। भारतीय उत्पादन (स्वदेशी उत्पादन) का विशेष प्रांगण बनाया जाएगा, इसके माध्यम से स्वदेशी उत्पादनों की प्रदर्शनी एवं बिक्री
को विशेष महत्व दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त भारतीय उद्योगों के विकास के लिए औद्योगिक गोष्ठी एवं क्रेता-विक्रेता सम्मेलन का आयोजन भी किया जायेगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम के  आयोजन के माध्यम से भारत के विभिन्न राज्यों की संस्कृति एवं कलाओं को प्रदर्शित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आयोजन में देश के पूर्व प्रधान मंत्री भारत रत्न स्व0 श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के जीवन काल पर एक भव्य प्रर्दशनी का आयोजन किया जायेगा। आयोजन में विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से अटल जी के जीवन काल को प्रर्दशित किया जायेगा। साथ ही ‘‘वीरांगना अटल सम्मान‘‘ समारोह का आयोजन किया जायेगा, जिसमें वीर माताओं और वीरांगनाओं को सम्मानित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रम में वीरांगना सम्मान समारोह, अवधी एव भोजपुरी सांस्कृतिक संध्या, अखिल भारतीय कवि सम्मेलन, बृज लोकगीत सांस्कृतिक संध्या, उत्कृष्ठ कार्य सम्मान समारोह व भारतीय परिधान उत्सव आदि आयोजित किये जायेंगे। इस अवसर पर महोत्सव में प्रस्तावित कार्यक्रमो की रूपरेखा को भी प्रस्तुत किया गया।
  बैठक में मा0 अध्यक्ष राष्ट्रीय अनुसुचित जाति आयोग भारत सरकार ने उपस्थित बैंक प्रतिनिधियों सहित अन्य विभागों के अधिकारियों से कहा कि वे महोत्सव में स्टाल लगाकर लोगों को अपने विभागीय योजनाओं की जानकारी प्रदान करें। उन्होने सभी से महोत्सव में सहयोग करने की अपेक्षा की। बैठक में मा0 अध्यक्ष ने महोत्सव का आयोजन ठीक प्रकार से किये जाने हेतु उपस्थित अधिकारियों से सुझाव भी प्राप्त किये ।