August 3, 2018

गठबंधन के प्रधानमंत्री पद का नाम परिणाम के बाद - कांग्रेस

लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराना विपक्षी दलों का मुख्य मुद्दा है। प्रधानमंत्री पद के बारे में निर्णय विपक्षी दल  चुनाव नतीजे आने के बाद ही तय करने पर सहमत से नज़र आ रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री पद को लेकर चुनाव से पहले बातचीत करना गठबंधन के लिए विभाजनकारी होगा। प्रधानमंत्री पद के  नाम निर्णय चुनाव नतीजे आने के बाद किया जायेगा। दूसरी ओर इस बात से भी नहीं इंकार किया जा सकता है कि यदि गठबंधन चुनाव में जीतता है तो प्रधानमंत्री  के नाम के निर्णय  पर विपक्षी दलों के लिए बाद में भी  काफी मुश्किल रहेगा।यह भी कहा जा रहा है  कि उत्तर प्रदेश में गठबंधन के लिए सपा, बसपा एवं अन्य भाजपा विरोधी दलों के बीच भी ‘रणनीतिक समझ' बन सी  गयी है। सूत्रों का मानना है, यदि  उत्तर प्रदेश, बिहार और महाराष्ट्र में विपक्षी दलों का मज़बूत  गठबंधन हो गया तो भाजपा सत्ता में नहीं लौटनेवाली है।