July 3, 2018

कोलम्‍बस के खोजे अमेरिका में ताज सिटी के कपूर दम्‍पत्‍ति तलाशेंगे आगरा

-- छै जुलाई को जा रहे हैं अमेरिका,बतायेंगे वाटर हार्वेस्‍टिंग को लेकर रहे अपने अनुभव
विशनू कपूर एवं श्रीमती प्रमिला कपूर । 
                                               फोटो:असलम सलीमी
आगरा: प्रख्‍यात समाज सेवी विष्‍णू कपूर अमेरिका जा रहे हैं, इस बार उनका इरादा परिजनों  से मुलाकात और रुटीन घुमक्‍कडी के अलावा उस अमेरिकन आगरा का भ्रमण कर वहां के मेयर और स्‍थानीय जनों से मुलाकात करना भी शामिल है। 
श्री कपूर ने एक जानकारी में बताया कि अमेरिका के भारत से राजनायिक रिश्‍ते चाहे जिस दौर में भी रहे किन्‍तु नागरिकों के बीच हमेशा गर्मजोशी से एकदूसरे का स्‍वागत भाव ही रहा है। उन्‍हों ने बताया कि उनकी एक बेटी का परिवार अमेरिका में रहता है, मुख्‍य लक्ष्‍य तो उन्‍हीं से मिलना रहता आया था किन्‍तु लगतार कईबार अमेरिका आने जाने का सिलसिला चलते रहने से अब तो वहां काफी संख्‍या में अपने हो गये हैं। 
अमेरिका उनकी निजी यात्रा ही रही है किन्‍तु वहां रहने वाले तमाम परिचितों में से अनेक जानते हैं कि मैं  हैंडीकैप्‍ट और वाटर हार्वेसिंगसे जुडे कार्यों  से जुडा रहता हूं। जब भी मौका मिलता है ,
दोनों ही क्षेत्रों के बारे में वे पूछते हैं।
श्री कपूर बताते हैं कि इस बार उनका इरादा 'अमेरिकन आगरा ' जाने का है, वह वहां के मेयर और कुछ चुनींदा नागरिकों से मुलाकता करेंगे। कोशिश करेंगे कि अमेरिकन आगरा और भारत के आगरा के बीच संवाद विहीनता की स्‍थिति समाप्‍त हो। उन्‍होंने कहा कि वह आगरा के मेयर श्री नवीन जैन के संदेश को भी साथ लेकर जाना चाहते थे किन्‍तु कई प्रयासों के बावजूद उनसे संपर्क नहीं हो सका। 
श्री कपूर की पत्‍नी श्रीमती प्रमिला कपूरने कहा कि अमेरिका की यात्रा उनके लिये हमेशा नये अनुभव वाली रही है, फिर इस बार तो श्री कपूर जब कोलम्‍बस की नयी दुनियां में 'एक आगरा ' खेजने का इरादा किये हुए हों तो यात्रा का और भी रामांचक हो जाना स्‍वभाविक है। वह बताती है कि अमेरिका में घूमने का उन्‍हें काफी अनुभव है, मौसम माकूल रहा तो निश्‍चित रूप से वहां के आगरा को भी देखने पहुंचेंगी।
उल्‍लेखनीय है कि अमेरिका के कैनसास सिटी की फिलिप काउंटी का आगरा उप नगर निकाय है। छोटा सा और सीमित आगबादी वाला शहर होने के बाबजूद यह बहुत ही साु सुथरा है  
कैनसस, आगरा
मेरिका में कैंसास सिटी के पास बसा हुआ है आगरा
1888 इसकी स्‍थापना का वर्ष माना जाता है, 1904 में यह यह निकाय घोषित हुआ। शिकागो रॉकलैंड और पैसफिक रेल रोड पर बसे इस शहर के नाम का ही अपना स्‍टेशन भी है। हकीकत में इसकी बसावट की कहानी रेलवे लाइन बिछाने क साथ ही जुडी हुई हैं। जिन मजदूरो और इंजीनियरों ने यहां रेलवे लाइन बिछाने का काम किया उनमें से कई आगरा में अछनेरा से मथुरा सैक्‍शन पर भी रेलवे लाइन बिछाने का काम करने के अनुभवी थे। यही नहीं अपने साथ उस एक बैलगाडी का पहिया भी अमेरिका लेआये थे जो कि कभी उनके सामान को ढुलाई करने का काम करती थी।