February 1, 2018

वेतन वृद्धि की घोषणा से संसद सदस्य वित्त मंत्री से खुश

वर्तमान बजट में  राष्ट्रपति,  उपराष्ट्रपति और प्रदेशों  के राजयपालों  का वेतन 200 प्रतिशत से अधिक बढ़ा दिया गया है, जबकि संसद सदस्यों के वेतन को  मुद्रास्फीति सूचांक  के आधार पर स्वचालित रूप से संशोधित करने के लिए सरकार जल्द ही एक कानून लाएगी । इसे लगभग सभी  सांसदों द्वारा पूरा  समर्थन दिया गया। वेतन वृद्धि की घोषणा से संसद सदस्यों को  वित्त मंत्री अरुण जेटली से निराशा नहीं थी । सांसद को  प्रति माह 50,000 रुपये  मूल वेतन और अन्य भत्तों के अलावा 45,000 रुपये निर्वाचन क्षेत्र भत्ते का प्राविधान  है । सरकार हर
महीने हर सांसद पर लगभग 2.7 लाख रूपये खर्च करती है।