November 2, 2017

'मीट एट आगरा' शू- इंडस्‍ट्रीज के लिये व्यापक संभावनाओं से होगी भरपूर

तीन दिवसीय आयोजन में  फ्रांस ,इटली ,चीन सहित अनेक देश कर रहे हैं भागीदारी

'ए एफ एम सी ' के अध्‍यक्ष पूरन डॉवर नजीर अहमद, राजीव वासन, शाहरूह  
मोहिसिन,राजेश सहगल,दलजीत सिह,अनिल 
आदि । फोटो:असलम सलीमी
आगरा: लैदर और शू -इंडस्‍ट्रीज क्षेत्र के राष्‍ट्रस्‍तरीय कार्यक्रमों में   प्रमुख  ' मीट एट आगरा '  का  ग्‍यारहवां संस्‍करण 3 नवम्‍बर से माल रोड स्‍थित बी . एस. एन. एल ग्राऊंड पर शुरू होने जा रहा है । आगरा फुटवियर्स मैन्‍यूफैक्‍चरर्स एंड एक्‍सपोर्टस (ए. एफ. एम. ई. सी) के तत्‍वावधान में  आयोजित तीन दिवसीय इस आयोजन का उद्घाटन शुक्रवार 3 नवम्‍बर को प्रात:10 बजे भारत सरकार के वित्त राज्‍य मंत्री शिव प्रसाद शुक्‍ला करेंगे जबकि अध्यक्षता  कौंसल फार लैदर एक्‍सपोर्ट  के अध्‍यक्ष मुख्तार  उल अमीन के द्वारा की जायेगी। समारोह में एस. सी. आयोग भारत के अध्‍यक्ष एवं आगरा के सांसद रामशंकर कठैरिया सी. एल. ई. के अधिशासी निदेशक आर. रमेश कुमार,आगरा के मंडलायुक्‍त के. राम मोहन राव, जिला अधिकारी गौरव दयाल सहित अनेक गणमान्‍यजनों की
सहभागिता रहेगी।
आयोजन में भाग लेने के लिये जूता ,चमडा उत्‍पादन से संबधित मशीनरी और आधुनिकतम तकनीकोँ का विपणन करने वाले ताईवान,फ्रांस,इटली,चीन,टर्की सहित अनेक देशों की हिस्सेदारी  रहेगी। जूता निर्यातकों और आयात करने वाले देशों से संबधित कंपनियों के प्रतिनिधि भी भाग लेने आगरा आये हुए हैं ।  आयोजन स्‍थल पर छः हजार वर्ग मीटर क्षेत्र में चार एसी हैंगर  हैं,  जिनमें  जूता और चमडा उद्योग से संबधित मशीनरी उत्‍पाद कों अपने 250 स्टॉल   को तकनीकी  प्रदाताओं को उपलब्‍ध करवाया गया है । पर्यावरण हानि,ज्‍वलनशील कंपोनेंटों का प्रयोग रोकने हेतु वाटर बेस एडहैसिव ,बायोडिग्रविल पैकेजिंग,तकनीकी  उन्‍नति हेतु लैजर पैकेजिंग व कटिंग मशीनों संबधित प्रदर्श स्‍थलीय प्रदर्शनी के मुख्‍य आकर्षणों मे शामिल होंगे।
मीट में दो 'पैनल डिस्‍कशन' होंगे।  पहला सत्र  सांय 4 नवम्‍बर एफमेंक,सीएनबीसी,आवाज के सहयोग से  'ग्रोथ प्रास्‍पैक्‍टस टू एक्‍सपोर्ट पोस्‍ट जी एस टी एंड ईज़  आफ डूइंग बिजनिस ' विषय पर केन्‍द्रित रहेगा, जिसमें कि एफडीडीआई एम डी,अरुण सिन्‍हा कमिश्‍नर जी एस एस टी(सी)आर सी खोसला, इन्‍कम टैक्‍स कमिश्‍नर श्रीमती रेनू जौहरी  एडीशनल कमिश्‍नर   स्‍टेट टैक्‍स डा एमबी पांडेय ,सी एफ एल ए के चेयरमैन  आदेश गुप्‍ता,एल एस एस डी सी के चेयरमैन हबीब हुसैन ,आई एफ कोमा के एज्‍वाइंट सैकेट्री संजीव नारंग, सीएलई(एन) के रीजनल चेयरमैन पूरन डॉवर आदि की उद्यमियों के साथ विषय विशेषज्ञों  के रूप में सहभागिता रहेगी।
दूसरा पैनल डिस्‍कशन सत्र 'मेक इन इंडिया' स्‍टेटस कंस्‍ट्रेन्‍टस (constraints) विषय पर दोपहर12बजे होगा, जिसमें चैयरमैन सी एल ई मुख़्तार  उल अमीन, वीसी सी एल ई पी आर अकील अहमद ,,एफडीडीआई की चेयरपर्सन श्रीमती श्रीमती रेवथी राय, आर सी (डव्‍लू) के सी एल ई नरेश एस वसीन,   अधिशासी निदेशक आर रमेश कुमार, डायरेक्टर सी एल आर आई डॉ  बी. चन्‍द्र शेखरन, IFCOMA के सीनियर मेंम्‍बर दीपक मनचन्‍द्रा , शू एंड एसेसरीज के एम. डी. अमित चोपडा वी .पी. एफ एम सी राजेश सहगल आदि विषय विशेषज्ञों के रूप में उपस्‍थित रहेंगे।
आयोजन स्‍थल पर आयोजित प्रेस वार्ता में  एफ. एम. ई. सी. के अध्‍यक्ष श्री पूरन डावर ने बताया कि उद्यमियों, जूता उद्योग  से संबधित मशीनरी उत्‍पादकों के लिये  'मीट एट आगरा ' महत्‍वपूर्ण वार्षिक आयोजन होता है । 2007 से इसकी शुरूआत हुई थी। इस प्रकार इस बार यह क्रम में ग्‍यारहवां है ।  आगरा जूता उत्‍पादन क्षेत्र में खास अंतर्राष्‍ट्रीय पहचान रखता है ।यहां घरेलू और निर्यात के लिये जूता उत्‍पादन करने वाली देश की सबसे ज्‍यादा इकाईयां हैं।इसलिये स्‍वभाविक रूप से मशीन विपणन कर्त्‍तओं और जूता उत्‍पादक इकाईयों के संचालकों के लिये परस्‍पर संपर्को की संभावनाओं वाला यह खासअवसर होता है। ए. एफ. एम. ई. सी. के पूर्व अध्‍यक्ष नजीर अहमद ने कहा कि कोशिश रहती है कि आयोजन में राष्‍ट्रीय के साथ साथ अंतर्राष्‍ट्रीय सहभागिता बढे और यह निरंतर वृहद्  रूप लेता रहे.प्रेस वार्ता में सर्वश्री राजीव वासन, शाहरूह मोहिसिन, राजेश सहगल,दलजीत सिह,अनिल आदि उपस्‍थित थे।