November 6, 2017

चेन्नई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर लगा नया लैंडिंग सिस्टम, हवाई जहाजों की लैंडिंग हो जाएगी आसान

भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने पांच करोड़ रुपये की लागत से चेन्नई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर रनवे 07 में लगे मौजूदा उपकरण लैंडिंग सिस्टम (आईएलएस) को प्रतिस्‍थापित कर दिया है। आईएलएस रनवे पर लैंडिंग के दौरान पायलटों का आवश्यक मार्गदर्शन करता है। नये आईएलएस से बारिश, धुंध इत्‍यादि के दौरान भी चेन्नई हवाई अड्डे पर हवाई जहाजों की लैंडिंग काफी आसानी से हो सकेगी।
 नये आईएलएस में एक अत्यधिक दिशा सूचक एंटीना प्रणाली ‘वाइड अपर्चर लॉग पीरियोडिक एंटीना एरे (एलपीडीए)’ प्रणाली का उपयोग किया गया है। इस एंटीना प्रणाली ने पुराने आईएलएस की कवरेज संबंधी सीमाओं को समाप्‍त कर दिया है  और अब यह विमान को अत्‍यंत  कम ऊंचाई पर भी बेहतर परिशुद्धता के साथ मार्गदर्शन प्रदान कर सकती है। इससे लैंडिंग के दौरान विमान की बेहतर सुरक्षा सुनिश्चित होगी।
इस अत्‍याधुनिक उपकरण का निर्माण मेसर्स इंद्र नैविया एएस, नॉर्वे द्वारा किया गया है। नये आईएलएस की स्‍थापना, संरेखण, परीक्षण, उड़ान निरीक्षण से जुड़े कार्य एएआई के सीएनएस तकनीकी विशेषज्ञों द्वारा आंतरिक तौर पर सम्‍पन्‍न किये गये हैं।