September 17, 2017

भ्रष्टाचार मुक्त उत्तर प्रदेश बनाने के लिए कड़े कदम उठायेगी प्रदेश सरकार - मौर्य

'स्वच्छता ही सेवा’ इस मंत्र को घर-घर तक पहुंचाया जाना चाहिये, अतः सभी को स्वयं परिश्रम करके स्वच्छता के लिये कोई न कोई कदम उठायें। यह विचार प्रदेश के उप मुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य ने बरेली के हरू नगला में ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान के तहत व्यक्त कियें। उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर 2018 तक सम्पूर्ण प्रदेश को खुले में शौच मुक्त बनाये जाने का संकल्प हमारी सरकार ने लिया है हमने उत्तर प्रदेश को स्वच्छ प्रदेश बनाने का वीड़ा उठाया है।
श्री मौर्य ने इस अवसर पर जिला स्तरीय विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की उन्होंने निर्देश दिये कि प्रदेश सरकार ने जनसामान्य के लिए जितनी भी योजनाएं संचालित की है उनका लाभ हर जरूरत मंद को निष्पक्षता के साथ मिलना चाहिये सरकार भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था बनाने के लिए कड़े कदम उठायेगी।
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि गांवों को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए शौचालय निर्माण और सार्वजनिक तथा पर्यटन स्थलों की सफाई में अपना श्रमदान करें, अपने आस-पास के लोगों को इस स्वच्छता मुहिम से जुड़ने के लिए प्रेरित करें, बाजारों, बस स्टाप आदि सार्वजनिक क्षेत्रों पर मिलजुलकर सफाई करें। उन्होंने जन सामान्य से अपील की है कि आगे आइये हम सब स्वच्छता अभियान के भागीदार बने और स्वच्छ संकल्प से स्वच्छ सिद्धि को प्राप्त करते हुए उत्तर प्रदेश को स्वच्छ प्रदेश बनाये।
उन्होंने जन सामान्य से अपील की है कि यदि आपसे कोई भी अधिकारी सरकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए पैसा मांगता है तो आप इसकी सूचना जनप्रतिनिधियों या जिला प्रशासन को अवश्य दें। मैं विश्वास दिलाता हूँ कि इस सम्बन्ध में निश्चिय ही सख्त कार्यवाही की जायेगी।