September 26, 2017

बीएचयू की घटना ने हिलाया योगी सरकार को

बीएचयू में छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज के मामले में इस समय जांच-पड़ताल का सिलसिला जारी है।छेड़छाड़ और हिंसा के मामले की जांच इलाहाबाद हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश बीएस दीक्षित करेंगे और आगे समिति की सिफारिशों पर कार्रवाई की जाएगी। प्रदेश सरकार भी इस  मामले पर बेहद सख़्त है।इस बीच राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग द्वारा  मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर  उत्तर प्रदेश सरकार और बीएचयू के कुलपति को नोटिस जारी किया गया है। राज्य सरकार ने  तीन मजिस्ट्रेट और दो पुलिसकर्मियों को पद से  हटा दिया है । सरकार ने स्थानीय प्रशासन से  विश्वविद्यालय में परिसर में सुरक्षा को मज़बूत करने के लिए कहा है। बीएचयू के कुलपति जीसी त्रिपाठी ने  कहा कि हम स्थिति को बेहतर बनाने और भविष्य में ऐसी घटना को रोकने के लिए किसी भी सुझाव का स्वागत करने के लिए तैयार हैं।