September 9, 2017

उत्तर प्रदेश सरकार चाहती है कि किसान अपने बल पर खड़ा हो - उप मुख्यमंत्री

आगरा। प्रदेश के  उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने आज  लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लघु एवं सीमांत किसानों को राहत देने एवं उनके उन्नयन के लिए फसल ऋण मोचन योजना लागू करने का ऐतिहासिक निर्णय लिया गया है, जिसके अन्तर्गत किसानों को आवश्यक क्षमता वृद्वि प्रदान की जाएगी। इसका लक्ष्य एक समेकित कार्य योजना तैयार करना है ताकि कृषि क्षेत्र के समग्र विकास के माध्यम से किसानों की आय में वृद्वि हो सकें। उन्होंने कहा कि यह योजना प्रधानमंत्री के विजन वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दो गुना करने की दिशा में एक सार्थक कदम है।
      उप मुख्यमंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि आगरा जनपद में एक लाख 16 हजार 962 लघु व सीमांत पात्र किसान ऋण से आजाद हुए है। उन्होंने कहा कि यह दान नहीं है बल्कि सरकार चाहती है कि किसान अपने बल पर खड़ा हो। उन्होंने कहा कि योजना के प्रथम चरण में आगरा
जनपद के 24 हजार 247 किसानों का, जिन्होंने अपने फसली ऋण खातों को आधार कार्ड से जुड़वा लिया है उनके खातों में सीधा भुगतान किया गया है। द्वितीय चरण में ऐसे किसान जिन्होंने प्रथम चरण में अपने खाते में आधार कार्ड नही जुड़वाये थे, उनके खाते को आधार कार्ड से जुड़वाकर भुगतान सीधे उनके ऋण खाते में किया जायेगा।