September 7, 2017

रोइंगिया का दमन,आंग सान सूची सेना की कार्यवाही का विरोध क्यों नहीं करतीं

आंग सान सूची
आंग सान सूची जिन्होंने नोबेल शांति पुरस्कार पाया।  लोकतंत्र के संघर्ष में अपने जीवन का बलिदान किया,किन्तु म्यांमार में  रोइंगिया मुस्लिम समुदाय पर हो रहे अत्याचार पर उनकी चुप्पी ने दुनिया भर के लोगों को आश्चर्य में डाल दिया है।अब वह  म्यांमार  में असैनिक शक्ति की  वास्तविक नेता हैं।संयुक्त राष्ट्र की सूचना अनुसार   पिछले पखवाड़े में करीब 1,64,000 रोइंगिया शरणार्थियों ने बांग्लादेश पलायन  किया है। इससे पहले, लगभग 87,000 शरणार्थियों ने पिछले साल अक्टूबर से  इस वर्ष 25 अगस्त के बीच बांग्लादेश में पालयन किया था। स्थिति और बिगड़ी जब  25 अगस्त को स्थानीय बौद्धों पर रोहिंग्या समुदाय  के लोगों द्वारा घातक हमलों की एक श्रृंखला के बाद सैन्य कार्रवाई की गई। इस सैन्य कार्रवाई के चलते हाल ही में भारी मात्रा में रोहिंग्या समुदाय के लोगों द्वारा  पलायन शुरू हुआ था। बता दें  पिछले कई सालों में, म्यांमार के पश्चिमी रक्षिनी राज्य में  रोहिंग्या मुसलमानों और बौद्धों के बीच भयंकर लड़ाई जारी है। इसका एक  कारण कुछ बौद्धवादी उग्रवादी  नेताओं द्वारा बौद्ध लोगों को रोइंगिया मुसलमानों के खिलाफ भड़काना भी बताया जाता है।