September 5, 2017

वायु प्रदूषण को रोकने के लोगों की भागीदारी भी चाहिए

केन्द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र की राज्य सरकारों के साथ बैठक की और वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने का आग्रह किया ताकि वायु प्रदूषण को बढ़ने से रोका जा सके। दिल्ली और एनसीआर के राज्यों के मुख्य सचिवों तथा वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने  कहा कि सर्दियों के दौरान वायु प्रदूषण का कुशल प्रबंधन जरूरी है। उन्होंने इस दिशा में लोगों की भागीदारी पर भी बल दिया और कहा कि इसके बिना वांछित परिणाम हासिल करना मुश्किल होगा। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि साधारण कदमों की बदौलत लम्बी अवधि में प्रदूषण के स्तर को कम करने में काफी मदद मिल सकती है। उन्होंने जैविक ईंधन और फसलों को जलाने से रोकने, फसलों के अवशेष के बेहतर प्रबंधन, धूल भरी सड़को पर पानी के छिड़काव, निर्माण स्थलों पर धूल से बचने, फसलों को जलाने से रोकने, अनाधिकृत भट्ठियों को बंद करने  जैसे कदमों को अपनाने की महत्ता को रेखांकित किया।