September 23, 2017

‘इबादत ए इश्क‘ ने सूफि‍याना सुगंध से सुवासि‍त कि‍या 'ताज सि‍टी'

--संदीप ने ‘आगरा वि‍जन 2025’ को समर्पि‍त की अपनी सांस्कृतिक अभि‍रुचि‍ ‍
'रंगलोक कत्‍थक केन्‍द्र' के कलाकारों की प्रस्‍तुति‍
फोटो: असलम सलीमी
   आगरा: ‘आगरा वि‍जन 2025’ के तत्वावधान में सैंटपीटर्स कॉलेज में सूफीयाना संगीत से सरोवोर ‘इबादत ए इश्क‍’ की प्रस्तु्ति‍यों ने ‘आगराइट्स’  को उस साझी संस्कृति के प्रति‍ जागरूक कि‍या जो कि‍ ताज सि‍टी की खास पहचन रही है। भारत सरकार में सीनि‍यर ब्यूरोक्रेट के रूप में अपने दायि‍त्वों नि‍र्वाहन में तत्‍परता के लि‍ये सुर्खि‍यों में रहने वाले   संदीप साईलस , संगीत और काव्य क्षेत्र में भी खासी दखल रखते हैं। इसकी जनकारी उनके अपना शहर आगरा भी शनि‍वार को ही तब 'रू ब रू' हो सका जब कि‍ उनके गीतो, कंपोजीशनों पर कत्थक ,गयन की कलाकारो के द्वारा स्वयं  मौजूदगी में मंचि‍य प्रस्तुति‍यां की गयी। सैंटपीटर्स कॉलेज के ओपि‍न थि‍येटर प्रबुद्ध दर्शकों के बीच पाकि‍स्‍तान के क्लासीकल सूफी सि‍गर उस्ताद सफाकत अली खान
के द्वारा स्वरबद्ध की गयी प्रस्तु्ति‍यां उनके संगीत के प्रति‍ कला समर्पण की
परि‍चायक

थीं।इन सभी को टाइम्स म्यूजि‍क के द्वारा भी सीडी के रूप में जारी कि‍या गया है।  प्रख्यात नृत्यांंगना  हर्षि‍ता 
संदीप साईलस
मि‍श्रा की कथक की एकल प्रस्तुति‍ ने कार्यक्रम को उत्कृष्टता एवं वि‍वधि‍ता प्रदान की। सुश्री मि‍श्रा रंगलोक कत्थाक केन्द्र आगरा की संचालक है और इसके माध्य्म से कत्थ्क के क्षेत्र में नि‍रंतर कुछ न कुछ नया करती रही हैं।हर्षि‍ता ने एक  युगल नृत्य् भी प्रस्तुत कि‍या। 
सुश्री अनुष्का सि‍न्हा, वि‍क्रम गोयल ने गीत, डि‍म्पी‍ मि‍श्रा के साथ ही सुश्री शवनम आदि‍ का भी संगीतमयी सांस्कृ्ति‍क प्रस्तुति‍यों में योगदान रहा। सोसायटी के चेयमैन इति‍हास वि‍ज्ञ डा आर सी  शर्मा और सैंटपीटर्स कॅलेज के प्रंसि‍पल फादर पॉल थनि‍कल ने श्री साईलस को स्मृति‍ चि‍न्हा प्रदान कि‍ये।कार्यक्रम के अंत में सोसायटी के सैकेट्री अनि‍ल शर्मा ने आभार व्यृक्त कि‍या।सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट अजय वीर सि‍ह जैन ने कहा कि‍ कार्यक्रम अत्यंत सफल रहा।आगरा से जुडे हुए तमाम लोग अपने शहर के लि‍ये कुछ न कुछ नया करना चाहते हैं’वि‍जन 2025’ उनके लि‍ये प्रभावी माध्येम सावि‍त होगा। 
ह्यूमन ड्यूटी फाऊंडेशन के चेयरमैन आर के सचदेवा कार्यक्रम नागरि‍कों में शहर के प्रति‍ दायि‍त्वा बोध को प्रेरि‍त करने की दृष्टिा‍ से सार्थक करार दि‍या।उन्होंने कहा कि‍ सीनि‍यर ब्यूरोक्रेट श्री साईलस की अभि‍रुचि‍यों का लाभ शहर हि‍त में लि‍या जाना चाहि‍ये। सांस्‍कृति‍क क्षेत्र की प्रबुद्ध एवं कम्‍यूनि‍टी रेटडि‍यों की प्रख्‍यात ऐंकर श्रीमती रोली सि‍न्‍हा ने कार्यक्रम को एक बडी उपलब्‍धि‍ माना है।
कार्यक्रम के काूर्डीनेटर एवं अमृत वि‍द्या एजूकेशन फार  मार्टलि‍टी सोसायटी के सैकेट्री अनि‍ल शर्मा ने कहा है कि‍ वि‍जन 2025 एक सुपस्‍ष्‍ट लक्ष्‍य है और इससे लोगों को जोडने के लि‍ये कार्यक्रमों के आयोजन का सि‍लसि‍ला आगे भी जारी रखने का प्रयास कि‍या जायेगा।