August 15, 2017

‘ स्वराज फाउंडेशन" पं दीन दयाल उपाध्याय के सरोकारों को करेगा साकार

--कदम का पौध रोंप मां स्वराज देवी को अर्पि‍त कि‍ये श्रद्धासुमन
पर्यावरण संकल्‍प के साथ स्‍वधीनता दि‍वस पर
 मां स्‍वराज देवीकी स्‍मृति‍ में  बृक्षारोपड
 
आगरा: प्रकृति‍ का जीवंत स्वरूप मां होती है और उसे सुवासि‍त व हरि‍याली पूर्ण  करने के लि‍ये आगरा कॉलेज के असि‍स्टैंड प्रोफेसर दिवाकर तिवारी अपने परि‍जनों और मि‍त्रों के साथ कदम के पेड रोंपे। श्री ति‍वारी की माताजी का गत वर्ष नि‍धन हो गया था,वह प्रकृति‍ पसंद करती थी।   15अगसत 1947 को उनका जन्म हुआ था , संभवत: इसी लि‍ये उनके परि‍वारी जनों ने उनका नाम स्वराज देवी रख दि‍या। श्री ति‍वारी ने इस अवसर पर मां की जीवन पर्यंत रहे सेवाबृत की प्राथमि‍कताओं का अनुसरण करते रहने के लक्ष्य को लेकर "ग्राम संवर्धन
स्वराज फाउंडेशन" नाम से एक सामाजिक प्रकल्प के  शुभारम्भ करने की घोषणा भी  की। प्रकल्प के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में श्री ति‍वारी ने बताया कि‍ ये संस्था विभिन्न सामाजिक सुधारों, कैंसर से बचाव जागरूकता अभियान, महिला न्यूट्रीशियन,पर्यावरण, पँ दीनदयाल उपाध्याय की  ग्राम स्वराज, मानव के सामजिक, आर्थिक, आध्यात्मिक उन्नति की अवधारणा पर आधारित ग्रामीण अंचल के सशक्तिकरण इत्यादि पर कार्य करेगी l

डा अनुराग शर्मा ने माताजी स्‍वराज देवी को याद करते हुए बताया कि पिछले बार माताजी द्वारा पार्क में लगाए आम के पेड़ पर प्रथम बार फल आने पर पेड़ की आरती की गई जो प्रकृति संरक्षण के लिए हमें सदैव प्रेरणा देती है lइन अभि‍भूत करने वाले क्षणों में  पिताजी सूबेदार मेजर रमाशंकर तिवारी के साथ डा अनुराग शर्मा, रामेन्द्र पचौरी एड, सोनू चौधरी जिलाध्यक्ष भारतीय जनता युवा मोर्चा, विशाल कुलश्रेष्ठ, इं तेज सिंह कटियार, श्री गौतम जी, अमित लवानियां, सी एस चौहान एड, विवेक शर्मा, आलोक कटियार, मनीष रावत, रोहित यपाद्याय, अनिल कटारिया, सुधांशु माहेश्वरी, अनुज उपाध्याय, वैभव मिश्रा, कुमार कार्तिकेय, जाह्नवी तिवारी, रौनक, विराज, शिवानी इत्यादि ने शामि‍ल थे ।इन सभी ने पर्यावरण संरक्षण का संकल्प भी लिया l