August 14, 2017

आगरा नगर नि‍गम चुनाव में बैराज और एयरपोर्ट को मुददे बनायेगी कांग्रेस

--स्मार्ट सि‍टी के एक अरब हि‍ल्‍ले से लगने तक करना पडेगा नि‍गम चुनाव का इंतजार
  डा शि‍रोमणी सि‍ह          राम टंडन                   भारत भूषण एडवोकेट
  आगरा: (असलम सलीमी) नगर नि‍गम आगरा का चुनाव कांग्रेस आगरा बैराज और इंटरनेशनल स्टैंनडर्ड के सि‍वि‍ल एन्कलेव के मुददों पर लडेगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार पार्टी को उम्मीद है कि‍ आगरा की जनता नगर नि‍गम में भाजपा की तीन दशक से ज्यादा समय से बनी मौजूदगी को अब बर्दाश्त  करने की स्थिति‍ मे नहीं रह गयी है। पार्टी के वरि‍ष्ठा नेता एवं पूर्व पार्षद राम टंडन ने
कहा है कि‍ नौ वि‍धायकों को चुनकर आगरा की जनता अपने को भाजपा नेतृत्व से ठगा महसूस कर रही है। ये सभी शासन में बेअसर साबि‍त हो रहे हैं। पार्टी के वरि‍ष्ठ नेता एवं पूर्व पार्षद भारत भूषण एडवोकेट ने कहा है कि‍ उन्हे नहीं लगता कि‍ भाजपाई नवम्बर मे भी चुनाव करवाने की स्थिति‍ में हैं।उन्होंने कहा कि‍ हो सकता है कि‍ अन्य नि‍कायों में चुनाव नि‍यत समय पर हो भी जायें कि‍न्तु‍  स्मार्ट सि‍टी घोषि‍त महानगरों के  नगर नगमों के चुनावों को लेकर सरकार की नि‍यत साफ नहीं है। हकीकत में स्मार्ट सि‍टी योजना के नाम पर आगरा में  फि‍लहाल एक अरब रूपया आया हुआ है, जब तक यह हि‍ल्ले  से नहीं लग जायेगा तब तक चुनाव टालते ही रहना है।
कांग्रेस पार्षद दल के नेता डा शि‍रोमणी सि‍ह का कहना है अगर सही प्रकार से नि‍श्पक्ष तरीके से नगर नि‍गम के चुनाव आज हो जायें तो भाजपा की नि‍गम सदन में प्रतीकात्मक मौजूदगी भी नहीं रह जायेगी। नगर नि‍गम तंत्र ही नहीं सरकार की पूरी व्यावस्था  जनता के मन-माफि‍क शोषण में जुटी हुई है।हस्तशि‍ल्पीग , जी एस टी की दरो के कारण नि‍ठल्ले  हो गये है । ,दरी कालीन बनकर जीवन यापन करने वाले तो भूखों मरने की स्थिति‍ में जा पहुंचे हैं। सबसे ज्यादा धक्का  तो पशु कारोबार को लगा है। सरकार छांट छांट कर ऐसे काम धंधें को चोट पहुंचा रही हे जो कि‍ पि‍छडा वर्ग, अल्पासंख्यकों की रोजी रोटी का आधार बने हुए थे। पूरा जनपद में राशन वि‍तरण प्रणाली राशन दूकान संचालकां के भरोसे छोड रखी गयी है। डा शि‍रोमणी सि‍ह ने कहा कि‍ जनता तो छोडि‍ये भाजपा के नि‍वर्तमान पार्षदों तक को पार्टी की उपलब्‍धि‍यों पर भरोस नहीं रहा है । पार्टी नेतृत्‍व सरकार की असफलता का ठीकरा पार्षदों के ऊपर फोड कर उनके टि‍कट काटने पर आमादा है। उसे गलत फहमी है कि‍ दि‍ल्‍ली का प्रयाग यू पी खासकर आगरा में भी असर दि‍खायेगा।