May 15, 2017

पाकिस्तान कुलभूषण का फर्जी कबूलनामा वीडियो दिखाना चाहता था

( अंतरराष्ट्रीय न्यायालय नीदरलैंड)
हेग।बेगुनाह भारतीय नागरिक कुलभूषण यादव के सिर पर पाकिस्तान में  लटकते फांसी के फंदे को टालने के लिए भारत ने सोमवार को नीदरलैंड  स्थित  अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के समाने मज़बूती से अपना पक्ष रखा।अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने कहा कि  कुलभूषण यादव के मामले में  जो भी फ़ैसला किया जाएगा उसकी घोषणा सार्वजनिक रूप में  की जाएगी और फ़ैसला देने की तारीख़ की घोषणा भी बाद में होगी। भारत की ओर से अधिवक्ता हरीश साल्वे ने  अंतरराष्ट्रीय कोर्ट  के सामने मुख्य रूप से चार मांगे रखी। पहला कि फांसी की सजा तुरंत रद्द किया की जाए दूसरा सज़ा और पाक कार्रवायी को अंतराष्ट्रीय कानून और वियना कन्वेन्शन का उल्लंघन घोषित किया जाए, तीसरी सजा पर अमल से पाक को रोका जाए और कानून के तहत इसे रद्द करवाया जाए और चौथा अगर पाक सजा रद्द नहीं करता है, तो इसे अंतरराष्ट्रीय कानून और मानवाधिकार का उल्लंघन माना जाए।पाकिस्तान के अधिवक्ता ने अपने पक्ष के  सुबूत के तौर पर  कुलभूषण का एक फर्जी कबूलनामा वीडियो दिखाना चाहता था लेकिन अदालत ने उसे इजाज़त नहीं दी। फिलहाल अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है।